GLIBS

बदलेगा आधार का स्वरूप, डाटा लीक होने के बाद लिया निर्णय

बदलेगा आधार का स्वरूप, डाटा लीक होने के बाद लिया निर्णय

नई दिल्ली। डाटा लीक होने की खबरों के बाद सरकार ने आधार का स्वरूप बदलने का फैसला किया है। अब सरकार द्वारा 16 अंकों वाले दूसरे आधार की घोषणा की गई है। इस घोषणा के बाद 12 अंकों के आधार की जगह 16 अंकों की नई वर्चुअल आइडी बनाई जाएगी। यूनीक आइडेंटिफिकेशन अथॉरिटी आॅफ इंडिया ने गुरुवार को दो स्तर का एक सुरक्षा नेट तैयार किया है। इसके तहत हर शख्स की एक वर्चुअल आईडी बनाई जाएगी और आधार आधारित केवाईसी को सीमित किया जाएगा। सभी एजेंसियां 1 जून तक इस सिस्टम को अपना लेंगी। बता दें कि अंग्रेजी अखबार ट्रिब्यून द्वारा ये खबर प्रकाशित की गई थी कि  500 रुपए देकर 10 करोड़ लोगों के आधार की जानकारी हासिल की जा सकती है, लेकिन यूआईडीएआई ने इस खबर को सिरे से नकार दिया गया था। यूआईडीएआई ने आश्वासन दिया है कि यह डाटा पूरी तरह से सुरक्षित है।

Visitor No.