GLIBS

मुकेश अंबानी के वेतन में 12 साल से नहीं हुई वृद्धि, जानिए कितनी है सैलरी....

ग्लिब्स टीम  | 24 Jun , 2020 07:34 PM
मुकेश अंबानी के वेतन में 12 साल से नहीं हुई वृद्धि, जानिए कितनी है सैलरी....

मुंबई। देश के सबसे अमीर उद्यमी मुकेश अंबानी ने रिलायंस इंडस्ट्रीज में पिछले वित्त वर्ष में अपना वेतन-भत्ता व कमीशन 15 करोड़ रुपये के स्तर पर बनाए रखा। कंपनी से मिलने वाली उनकी सालाना आय लगातार 12वें साल स्थिर रही। 
उन्होंने कोविड-19 महामारी से उत्पन्न संकट को देखते हुए अपनी सैलरी नहीं बढ़ाने का निर्णय लिया है। अंबानी ने अपना वेतन, अन्य सुविाधाएं, भत्ता और कमीशन 2008-09 से 15 करोड़ रुपये पर स्थिर रखा है। उन्होंने इस तरह हर साल अपने पारितोषिक में 24 करोड़ रुपये से अधिक का त्याग किया है। कंपनी की सालाना रिपोर्ट में कहा गया है कि, 'देश में कोविड-19 महामारी और उसके सामाजिक, आर्थिक और उद्योगों पर पड़ने वाले व्यापक असर को देखते हुए कंपनी के चेययरमैन और प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी ने स्वेच्छा से अपना वेतन नहीं लेने का निर्णय किया है।' रिपोर्ट के अनुसार कंपनी के निदेशक मंडल ने कोविड-19 संकट के समाप्त होने तक उनके वेतन नहीं लेने को निर्णय को रेखांकित किया है। अंबानी ने अप्रैल के अंत में अपना वेतन नहीं लेने का निर्णय किया। उसी समय कंपनी ने संकट के चलते कर्मचारियों के वेतन में 10 से 50 फीसदी तक की कटौता का फैसला किया। अपना वेतन 15 करोड़ रुपये पर स्थिर रखकर उन्होंने व्यक्तिगत तौर पर प्रबंधकीय क्षतिपूर्ति स्तर को संतुलित रखने का एक उदाहरण दिया है और तब तक के लिए वेतन नहीं लेने का निर्णय किया जब तक कंपनी अपनी क्षमता अनुसार कमाई के रास्ते पर नहीं लौट आती।अंबानी के पारितोषिक में 4.36 करोड़ रुपये वेतन और भत्ते शामिल हैं। यह 2018-19 में उन्हें मिले 4.45 करोड़ रुपये से थोड़ा कम है। उनका कमीशन 9.53 करोड़ रुपये पर स्थिर है जबकि अन्य सुविधा 40 लाख रुपये से घटकर 31 लाख रुपये पर आ गयी। उनका सेवानिवृत्ति लाभ 71 लाख रुपये था। अंबानी के रिश्तेदार निखिल आर मेसवानी और हितल आर मेसवानी का पारितोषिक बढ़कर सालाना 24 करोड़ रुपये रहा, जो एक साल पहले 20.57 करोड़ रुपये सालाना था।

 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.