GLIBS

मैकडोनाल्ड ने अपने सीईओ को किया कंपनी से बाहर, जाने वजह

ग्लिब्स टीम  | 04 Nov , 2019 12:50 PM
मैकडोनाल्ड ने अपने सीईओ को किया कंपनी से बाहर, जाने वजह

नई दिल्ली। मैकडोनाल्ड ने अपने सीईओ स्टीव ईस्टरब्रुक को कंपनी से बाहर कर दिया है। रविवार को कंपनी ने यह जानकारी दी कि उन्होंने कंपनी के नियमों का उल्लंघन किया था इसलिए उन्हें सीईओ और कंपनी के अध्यक्ष पद से निकाल दिया गया है। ईस्टरब्रुक का कंपनी के एक कर्मचारी के साथ संबंध था, जिसके चलते कंपनी ने उन्हें निकालने का फैसला लिया।

2015 में बने थे कंपनी के सीईओ, ईस्टरब्रुक के नेतृत्व में कंपनी को हुआ फायदा

इस संबंध में कंपनी ने कहा कि उन्होंने सही फैसला नहीं लिया है। बता दें कि स्टीव ईस्टरब्रुक साल 2015 में कंपनी के सीईओ बने थे। कंपनी के नियमों के मुताबिक, प्रबंधकों को प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष अधीनस्थों के साथ संबंध रखने की अनुमति नहीं है। ईस्टरब्रुक का कार्यकाल 1 मार्च 2015 से शुरू हुआ था। ईस्टरब्रुक के नेतृत्व में कंपनी को काफी फायदा हुआ है। 2015 के बाद कंपनी के स्टॉक करीब दोगुने हुए हैं। हालांकि तीसरी तिमाही में निवेशक थोड़े नाराज थे। बता दें कि ईस्टरब्रुक ने युनिवर्सिटी ऑफ ऑक्सफर्ड के बिजनेस स्कूल से पढ़ाई की है और उनका पहले तलाक भी हो चुका है।

क्रिस केम्पकिन्स्की लेंगे जगह

बता दें कि ईस्टरब्रुक की जगह अब क्रिस केम्पकिन्स्की लेंगे। केम्पकिन्स्की साल 2015 से मैकडोनाल्ड के साथ जुड़े हैं। हाल ही में उन्होंने मैकडोनाल्ड यूएसए के अध्यक्ष के रूप में काम किया था।

ईस्टरब्रुक ने कर्मचारियों को लिखा पत्र

ईस्टरब्रुक ने कर्मचारियों को एक ईमेल लिखा और स्वीकार किया कि उन्होंने एक कर्मचारी के साथ संबंध बनाकर गलती की। साथ ही ईमेल में उन्योंने यह भी लिखा कि वे बोर्ड से सहमत हैं। इतना ही नहीं, ईस्टरब्रुक ने यह भी कहा कि केम्पकिन्स्की सीईओ के पद के लिए उपयुक्त हैं। निदेशक को भी केम्पकिन्स्की पर भरोसा है। 

 

Author/Journalist owns and is responsible for views/news published and the publisher/printer is in no way liable for such content.