GLIBS
07-07-2019
क्या है सांसद सनी देओल की असली उम्र, गहराया सवाल.....

नई दिल्ली। अभिनेता से राजनेता बन सनी देओल की असली उम्र पर सवाल उठ रहे हैं। इसके लिए आरटीआई की अर्जी भी लगा दी गई है। चुनाव के हलफनामे के मुताबिक वे 59 साल के हैं, वेबसाईट के मुताबिक 61 साल के हैं और विकीपीडिया पर वे 63 साल के हो चुके हैं। इसी वजह से हाईकोर्ट के वकील हेमंत उनकी सही उम्र जानना चाहते हैं। चुनाव आयोग ने उम्र से संबंधित हेमंत की अर्जी को सही जानकारी देने के लिए गुरदासपुर के डिप्टी कमिश्नर को भेजी है।

पंजाब में गुरदासपुर क्षेत्र के भाजपा सांसद सनी देओल की असली उम्र क्या है। असली उम्र जानने के लिए पंजाब व हरियाणा हाईकोर्ट के वकील हेमंत कुमार ने चुनाव आयोग में आरटीआई लगाईं है। अभिनेता से नेता बने सनी की उम्र पर सवाल1 उठने की वजह यह है कि लोकसभा चुनाव के हलफनामे, वेबसाईट और विकीपीडिया पर उनकी उम्र अलग अलग बताई गई है। बता दें कि सनी देओल चुनाव लड़ने और जीतने के बाद लगातार सवालों के घेरे में है। कभी उनके नाम को लेकर विवाद उठ खड़ा होता है तो कभी चुनाव में तय रकम से ज्यादा राशि खर्च करने को लेकर उन्हें नोटिस जारी किया जाता है।

04-07-2019
मुरली मनोहर जोशी का इलाहाबाद से टूटा नाता, 6 करोड़ में बेच दिया अपना बंगला

प्रयागराज। पूर्व केंद्रीय मंत्री और बीजेपी के वरिष्ठ नेता डॉ. मुरली मनोहर जोशी का प्रयागराज (इलाहाबाद) में बंगला करीब 6 करोड़ रुपए में बिका है। इसके साथ ही उनका इलाहाबाद से छह दशक पुराना नाता टूट गया है। डॉ. मुरली मनोहर जोशी ने इलाहाबाद (अब प्रयागराज) के टैगोर टाउन में स्थित अपने बंगले अंगीरस को बेचने के साथ ही प्रयागराज से अपने सारे रिश्ते नाते तोड़ लिए हैं। दशकों से जिस घर में मुरली मनोहर जोशी रह रहे थे, उसे आखिरकार उन्होंने बेच दिया है। मुरली मनोहर जोशी अब अपनी बेटियों के साथ दिल्ली में रहेंगे। उनका यह बंगला चार हिस्सों में बिका है। डॉक्टर जोशी प्रयागराज से पूरी तरह से नाता खत्म करने पर भावुक नजर आए।

भाजपा के वरिष्ठ नेता मुरली मनोहर जोशी का प्रयागराज से गहरा नाता रहा है। मूल रूप से उत्तराखण्ड के अल्मोड़ा जिले के रहने वाले जोशी मेरठ कॉलेज से बीएससी पास करने के बाद 1951 में एमएससी में प्रवेश के लिए इलाहाबाद विश्वविद्यालय में आए थे। उन्होंने पढ़ाई पूरी करने के बाद 1953 में प्रो. देवेन्द्र शर्मा के निर्देशन में शोध किया और बाद में इलाहाबाद विश्वविद्यालय में ही अध्यापन का काम शुरू किया। इस बंगले में भौतिक विज्ञान के प्रोफेसर के. बनर्जी रहते थे। 1954 में प्रोफेसर के. बनर्जी कोलकाता जाने लगे तो उन्होंने यह बंगला डॉ. जोशी को अलॉट करा दिया। जिसका बाद में 1997 में डॉ. जोशी ने नए सिरे से इसका निर्माण भी कराया था।

इस बंगले का नाम उन्होंने ही अंगीरस रखा था और यह उनके राजनीतिक सफर का गवाह भी रहा है। यह बंगला राम मंदिर आंदोलन के दौरान भाजपा की राजनीतिक गतिविधियों का केंद्र भी रहा है। इसके साथ ही जोशी के चुनाव संचालन का भी केंद्र हुआ करता था। यहीं से चुनावी रणनीति बनाकर उन्होंने 1996, 1998 और 1999 में इलाहाबाद संसदीय सीट से चुनाव लड़ा और जीत हासिल की। इस बंगले में पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी, भाजपा के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी, भैरोंसिंह शेखावत, कल्याण सिंह और राजनाथ के साथ कई दिग्गजों का आना जाना था। भारत रत्न नानाजी देशमुख भी जब प्रयागराज आते तो इसी बंगले में रुकते थे।

 

17-06-2019
प्रदेश तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ जिला शाखा धमतरी के अध्यक्ष बने कृष्णाराम साहू 

धमतरी। छत्तीसगढ़ प्रदेश तृतीय वर्ग कर्मचारी संघ जिला शाखा धमतरी का कार्यकाल तीन वर्ष पूर्ण होने पर अध्यक्ष कृष्णाराम साहू ने अपने जिला कार्यकारणी संगठन को भंग कर चुनाव कराने की घोषणा की है। इस अवसर पर संतोष दीवान प्रांतीय सचिव प्रदेश तृतीय वर्ग शास. कर्मचारी संघ ने आम सहमति से अध्यक्ष जिला शाखा धमतरी के पद के लिए निर्वाचन संबंधी प्रस्ताव रखा। इसमें उपस्तिथ सभी सदस्यों द्वारा सहमति से निर्वाचन प्रक्रिया सम्पन्न कराने लक्ष्मणराव मगर अध्यक्ष जिला राजपत्रित अधिकारी संघ धमतरी को निर्वाचन अधिकारी नियुक्त किया। लक्ष्मण राव मगर ने संघ के विधान अनुरूप अध्यक्ष पद के लिए नाम आमंत्रित किया।

इसमें कृष्णाराम साहू का नाम अध्यक्ष पद के लिए हेमन्त गिरी गोस्वामी ने प्रस्ताव रखा। इसमें ईश्वरीदयाल साहू एवं उपस्थित सदस्यों द्वारा सर्वसम्मति से समर्थन किया गया। इसमें अध्यक्ष पद के लिए केवल एक ही नाम कृष्णाराम साहू का नाम प्रस्तावित होने के कारण अध्यक्ष जिला शाखा धमतरी के लिए निर्विरोध निर्वाचित घोषित किया गया। इसमें उपस्थित सदस्यों ने करतल ध्वनि से स्वागत किया।कार्यक्रम में उपस्थित कृपाशंकर मिश्रा (संरक्षक),लक्ष्मणराव मगर, विजय पदमवार, मुकेश केशरी, संतोष दीवान, ईश्वरीदयाल साहू, हेमन्त गिरी गोस्वामी, के.देवांगन,बीएल साहू,लोकेश कुमार साहू, शशिकांत पाण्डेय, नमिता तिवारी, हीरासिंह सनहरा, उषा जाचक, शहनाज, नंदकिशोर साहू, यशवंत देवांगन, ठाकुरराम साहू, शंकरदास आदि ने गुलाल लगाकर बधाई दी।

17-06-2019
लोकतंत्र में विपक्ष का सशक्त होना जरूरी, विपक्षी दल नंबर की चिंता छोड़ दें : पीएम मोदी

 

नई दिल्ली। 17वीं लोकसभा के पहले सत्र में सोमवार को सबसे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, गृह मंत्री अमित शाह ने हिंदी में शपथ ली। प्रोटेम स्पीकर वीरेंद्र कुमार मंगलवार को भी नवनिर्वाचित सांसदों को शपथ दिलाएंगे। इससे पहले मोदी ने कहा कि लोकतंत्र में विपक्ष का सशक्त होना जरूरी है। उनका हर शब्द मूल्यवान है, वे लोकसभा में अपने नंबरों की चिंता छोड़ दें। उम्मीद है कि सभी दल सदन में उत्तम चर्चा करेंगे। इससे पहले राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने वीरेंद्र कुमार को प्रोटेम स्पीकर पद की शपथ दिलाई। कुमार मध्यप्रदेश के टीकमगढ़ से सांसद हैं।

अब 19 जून को लोकसभा अध्यक्ष का चुनाव होगा। 20 जून को राष्ट्रपति लोकसभा और राज्यसभा दोनों सदनों की संयुक्त बैठक को संबोधित करेंगे। इसी दिन राज्यसभा के सत्र की शुरूआत होगी। संसद का यह सत्र 26 जुलाई तक चलेगा। 5 जुलाई को पहली बार महिला वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण बजट पेश करेंगी।

हमारे लिए विपक्ष की हर भावना मूल्यवान : मोदी

मोदी ने कहा, ''इस चुनाव में पहले की तुलना में अधिक मात्रा में महिलाओं का वोट करना खास रहा। कई दशकों के बाद एक सरकार को दोबारा पूर्ण बहुमत के साथ और पहले से अधिक सीटों के साथ जनता ने सेवा करने का अवसर दिया। जब पांच वर्ष का हमारा अनुभव है। जब सदन चला है, तंदरुस्त वातावरण में चला है तब देशहित के निर्णय भी अच्छे हुए हैं। आशा करता हूं कि सभी दल उत्तम प्रकार की चर्चा, जनहित के फैसले और जनआकांक्षाओं की पूर्ति की दिशा में आगे बढ़ रहे हैं इसका विश्वास।''

''लोकतंत्र में विपक्ष का सशक्त होना अनिवार्य शर्त है। प्रतिपक्ष के लोग नंबर की चिंता छोड़ दें। देश की जनता ने उन्हें जो नंबर दिया दिया। लेकिन हमारे लिए उनकी हर भावना मूल्यवान है। जब सदन में हम उस चेयर पर एमपी के रूप में बैठते हैं तो पक्ष विपक्ष से ज्यादा निष्पक्ष का ज्यादा महत्व होता है। मैं उम्मीद करता हूं कि पक्ष विपक्ष से ज्यादा निष्पक्ष होकर हम इस सदन की गरिमा उठाने का प्रयास करेंगे।''

16-06-2019
राज्‍यसभा उपचुनावों की तारीख घोषित, 5 जुलाई को होंगे चुनाव

नई दिल्ली। राज्‍यसभा उपचुनावों की तारीख घोषित कर दी गई है। इसमें 6 सीटों के लिए 5 जुलाई को चुनाव होंगे। ये 6 सीटें ओडिशा, बिहार और गुजरात की हैं। बिहार से रविशंकर प्रसाद की सीट खाली हुई। गुजरात से अमित शाह और स्‍मृति ईरानी की सीटें खाली हुई। 

30-05-2019
चुनाव के बाद पहली बार पेट्रोल-डीजल सस्ता

नई दिल्ली। दिल्ली में पेट्रोल और डीजल के दाम गुरुवार को छह-छह पैसे कम हुये। गत 19 मई को आम चुनाव के लिए मतदान समाप्त होने के बाद दोनों ईंधनों के दाम में यह पहली गिरावट है। देश की सबसे बड़ी तेल विपणन कंपनी इंडियन आयल कॉपोर्रेशन से प्राप्त जानकारी के अनुसार, राष्ट्रीय राजधानी में आज पेट्रोल छह पैसे सस्ता होकर 71.80 रुपये प्रति लीटर बिका। डीजल भी इतनी ही गिरावट के बाद 66.63 रुपये प्रति लीटर पर आ गया। कोलकाता, मुंबई और चेन्नई में भी पेट्रोल छह-छह पैसे सस्ता होकर क्रमश: 73.86 रुपये, 77.41 रुपये और 74.53 रुपये प्रति लीटर बिका।

डीजल कोलकाता और चेन्नई में छह-छह पैसे की गिरावट के साथ क्रमश: 68.39 रुपये और 69.82 रुपये प्रति लीटर रह गया। चेन्नई में इसकी कीमत सात पैसे घटकर 70.43 रुपये प्रति लीटर पर आ गयी। तेल विपणन कंपनियाँ दैनिक आधार पर पेट्रोल-डीजल की कीमतों की समीक्षा करती हैं तथा रोजना सुबह छह बजे से नयी दरें लागू होती हैं। दाम तय करते समय अंतर्राष्ट्रीय बाजार में पेट्रोल-डीजल के दाम तथा डॉलर की तुलना में रुपये के विनिमय दर को ध्यान में रखा जाता है।

25-05-2019
इस्तीफे वाले बयान पर कांग्रेस शहर और ग्रामीण अध्यक्ष ने दी तीखी प्रतिक्रिया

कोरबा। जिला कांग्रेस कमेटी कोरबा शहर के अध्यक्ष राजकिशोर प्रसाद एवं ग्रामीण अध्यक्ष उषा तिवारी ने भाजपा जिलाध्यक्ष अशोक चावलानी द्वारा राजस्व मंत्री जयसिंह अग्रवाल के इस्तीफा वाले बयान पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त की। उन्होंने कहा कि अशोक चावलानी को राजस्व मंत्री से इस्तीफा मांगने से पहले अपने नैतिकता के गिरेबान में झांक लेना चाहिए। उनके जिलाध्यक्ष रहते 2008 के विधानसभा चुनाव में कोरबा जिले की 4 में से 3 विधानसभा में कांग्रेस के विधायक चुने गए और कोरबा, कटघोरा और पाली-तानाखार की सीट पर भाजपा को हार का मुंह देखना पड़ा जबकि छत्तीसगढ़ में भाजपा की सरकार थी। 2013 में भाजपा जिलाध्यक्ष भले दूसरा रहा हो लेकिन कांग्रेस के पाले में फिर भी 3 विधायक कोरबा जिले में जीते। 2014 के निगम चुनाव में भी भाजपा को मुॅह की खानी पड़ी थी। 2018 में सम्पन्न हुए विधानसभा चुनाव में भी प्रदेश और केन्द्र में भाजपा की सरकार रहते हुए एवं जिला अध्यक्ष अशोक चावलानी के कार्यकाल में कोरबा जिले के तीन विधानसभा में कांग्रेस ने अपना परचम लहराया है।
अभी हाल में संपन्न हुए कोरबा लोकसभा चुनाव में राजस्व मंत्री जयसिंह चुनाव प्रभारी रहे। संपन्न लोकसभा चुनाव में न सिर्फ कोरबा जिले के तीन विधानसभा क्षेत्र पाली-तानाखार, रामपुर और कटघोरा में कांग्रेस की लीड मिली बल्कि कोरबा लोकसभा में कांग्रेस प्रत्याशी ज्योत्सना चरणदास महंत विजयी हुई और भापजा प्रत्याशी को हार की मुॅह देखनी पड़ा। 
 

24-05-2019
अशोक बजाज के नेतृत्व में भाजपाइयों ने मनाया जश्न 

नवापारा-राजिम। लोकसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी और सुनील सोनी की ऐतिहासिक जीत से उत्साहित भाजपाइयों ने अपैक्स बैंक के पूर्व अध्यक्ष अशोक बजाज के नेतृत्व में आज जश्न मनाया। शाम 6 बजे नगर के प्रवेश द्वार पंडित दीनदयाल उपाध्याय चौंक में सभी भाजपाई एकत्रित हुए। भाजपाइयों ने आतिशबाजी की। इसके बाद बजाज ने कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि राष्ट्रवाद बनाम परिवारवाद के इस चुनाव में भारत की जनता ने राष्ट्रवाद को चुनते हुए भाजपा को पूर्ण बहुमत देकर नरेन्द्र मोदी को दुबारा प्रधानमन्त्री बनाया है। कांग्रेसी 5 माह पूर्व मिले प्रदेश में मिले अभूतपूर्व जनमत में इस कदर अंधे हो गए कि मदमस्त हो गए। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर हमले करने में हर सीमा लांघ गए, लेकिन जनता इन सब को देख रही थी और मतदान के माध्यम से कांग्रेसियों को जवाब देने की ठान चुकी थी। बजाज ने कहा कि लोकसभा चुनाव में मिली यह जीत इसलिए भी महत्वपूर्ण है कि विधानसभा चुनाव में 15 सीटों पर सिमटने के बाद हमने आत्मचिन्तन किया। कार्यकर्ताओं में दुबारा जोश भरा और झूठे वादे कर सत्ता में आई भूपेश सरकार की कमियों को बेहतर तरीके से जनता के समक्ष रखा। नतीजा सुखद रहा। मोदी जी दुबारा प्रधानमंत्री बने हैं और उम्मीद है कि अगले 5 वर्षों में भारत एक बार फिर विश्व गुरु का तमगा हासिल करेगा। इस अवसर पर मंडल अध्यक्ष परदेशी राम साहू, दयालु राम गाड़ा, अजीत चौधरी, बोबी चांवला, मुकुंद मेश्राम, नागेन्द्र वर्मा, संजय साहू, साधना सौरज, धन्मती साहू, हेमलाल यादव, किशन साहू, आकाश बजाज, सुमीत सिन्हा, सूरज ठाकुर, संतोषी कंसारी, मालती ध्रुव, प्रतीक शर्मा, यश शर्मा, निखिल सेन, हेमू यादव, झम्मन लाल साहू, टिंकू सोनी, दिनेश यादव सहित अनेक कार्यकर्ता मौजूद थे।

23-05-2019
छत्तीसगढ़ की जनता ने कर दिया  'न्याय' : विक्रम उसेंडी

 

रायपुर। भाजपा प्रदेशाध्यक्ष विक्रम उसेंडी ने छत्तीसगढ़ की जनता के प्रति आभार व्यक्त करते हुए कहा है कि राज्य की जनता ने  'न्याय'  कर दिया है। उन्होंने कहा कि विधानसभा चुनाव में झूठे वादे करके कांग्रेस राज्य की सत्ता पर काबिज तो हो गई लेकिन 5 माह में ही उसका वास्तविक चरित्र सामने आ गया। छत्तीसगढ़ की जनता ने झूठे वादे करके सत्ता हासिल करने वाली कांग्रेस के कर्मों का फल उसे लोकसभा चुनाव में दे दिया है और लोकतंत्र के देवता ने इस तरह लोकतांत्रिक मूल्यों के साथ खिलवाड़ करने वालों को ठुकरा कर सत्य की राजनीति के प्रति न्याय कर दिया है। उसेंडी ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार ने 5 साल में जो कार्य किए हैं वह कांग्रेस 50 साल में भी नहीं कर सकी थी। देश की जनता ने यह देख लिया है कि जनता के हित और देश का सम्मान मोदी के नेतृत्व में ही सुरक्षित है। छत्तीसगढ़ की जनता ने भी जिस तरह आज भाजपा को एकतरफा समर्थन दिया है। उससे स्पष्ट है कि हमारे प्रदेश की जनता ने भाजपा पर अपना भरोसा व्यक्त करते हुए छत्तीसगढ़ के विकास को अवरूद्ध होने से रोकने की जिम्मेदारी हमें सौंपी है।  उसेंडी ने कहा कि हम विश्वास दिलाते हैं कि राज्य की कांग्रेस सरकार चाहे अपने कर्तव्य से कितनी भी विमुख क्यों न हो लेकिन भाजपा की केंद्र सरकार छत्तीसगढ़ के हितों का पूरा ख्याल रखेगी और जिस उद्देश्य से अटल जी ने छत्तीसगढ़ का निर्माण किया उस उद्देश्य की पूर्ति मोदी के नेतृत्व में होगी।

23-05-2019
राष्ट्रवाद के नाम से लड़ा गया यह लोकसभा चुनाव : सीएम बघेल 

 

रायपुर। प्रदेश के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने पत्रकारवार्ता में कहा कि देश का चुनाव हो चुका है। अधिकांश रिजल्ट्स आ चुके हैं। स्थिति स्पष्ट हो चुकी है। उन्होंने पीएम नरेंद्र मोदी को जीत की बधाई देते हुए मतदाताओं का भी आभार व्यक्त करते हुए कहा कि यह लोकसभा चुनाव राष्ट्रवाद के नाम से लड़ा गया। इस जनादेश का हम स्वागत करते हैं। इस बार के लोकसभा चुनाव में कांग्रेस से कहां चूक हुई के सवाल के जवाब में भूपेश बघेल ने कहा कि जनता के फैसले का स्वागत करते हैं। सीएम बघेल ने कहा कि जनता ने राष्ट्रवाद के नाम से मतदान किया है। चुनाव में कांग्रेस के 60 दिन बनाम 60 महीने के वजह से जनता ने चुनाव नहीं लड़ा। जनता ने केवल राष्ट्रवाद के मुद्दे पर चुनाव को फोकस किया। सीएम ने एक सवाल के जवाब में कहा कि भाजपा और कांग्रेस दोनों ही राष्ट्रवादी पार्टी है लेकिन विचारधाराएं अलग- अलग हैं। मंत्री कवासी लकमा के ईवीएम के सवाल को लेकर भूपेश बघेल बचते हुए नजर आए।

23-05-2019
छत्तीसगढ़ में कांग्रेस ही नहीं भूपेश की हुई हार : रमन

रायपुर। भाजपा के शानदार प्रदर्शन पर खुशी जताते हुए भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ.रमन सिंह ने उसे कांग्रेस की ही नही बल्कि मुख्यमंत्री भूपेश बघेल की पराजय है। डॉ.सिंह ने राज्य की 11 सीट में से नौ पर भाजपा की शानदार बढ़त के लिए राज्य के मतदाताओं के प्रति आभार जताते हुए पत्रकारों से कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी तो इस चुनाव में मुख्य मुद्दा थे ही,साथ में ही राज्य सरकार के पांच महीने का कामकाज भी मुख्य मुद्दा था।उन्होने आरोप लगाया कि भूपेश सरकार का पांच माह का कार्यकाल आतंक,भय एवं बदले की राजनीति का रहा है।

उन्होने कहा कि पांच माह में ही जनता का राज्य में कांग्रेस की सरकार से मोह भंग हो गया और लोगो का उनके वादे से भ्रम एवं विश्वास टूट गया। छत्तीसगढ़ गठन के बाद से जनता राज्य में जिस दल को सत्ता सौपती थी उसे ही केन्द्र में भी समर्थन देती रही है। पहली बार उसने इसमें बदलाव करते हुए भाजपा को समर्थन दिया है।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804