GLIBS
10-06-2019
त्रिपोली में जारी हिंसा में अब तक 653 की मौत : डब्ल्यूएचओ

त्रिपोली। लीबिया की राजधानी त्रिपोली पर फील्ड मार्शल खलीफा हफ्तार के नेतृत्व वाले लीबियन नेशनल आर्मी (एलएनए) के आक्रमण शुरू होने के बाद से अब तक कम से कम 653 लोगों की मौत हो चुकी है तथा 3,547 से अधिक लोग घायल हुए हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने अपनी एक रिपोर्ट में यह खुलासा किया है। डब्ल्यूएचओ इससे पहले अपनी एक रिपोर्ट में 607 लोगों के मारे जाने तथा 3,261 से अधिक लोगों के घायल होने की बात कही थी। डब्ल्यूएचओ ने ट्विटर पर लिखा है कि संयुक्त राष्ट्र समर्थित राष्ट्रीय समझौता सरकार (जीएनए) और एलएनए के बीच जारी संघर्ष के कारण त्रिपोली में कम 653 लोग मारे गये हैं तथा 3,547 से अधिक लोग घायल हुए हैं। मौजूदा समय में त्रिपोली पर जीएनए का नियंत्रण है।

डब्ल्यूएचओ ने ट्विटर पर लिखा,"त्रिपोली झड़प: इस बीते सप्ताह में आम लोगों के साथ तीन स्वास्थ्यकर्मी भी मारे गये। इसके साथ ही लीबिया की राजधानी त्रिपोली में जारी संघर्ष में 653 लोगों की मौत हुई है, जिसमें 41 आम नागरिक हैं इसके अलावा 3547 घायल हुए हैं जिनमें 126 आम नागरिक हैं।" उल्लेखनीय है कि हफ्तार ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर मान्यता प्राप्त जीएनए के कब्जे से त्रिपोली को मुक्त कराकर उस पर अपना आधिपत्य स्थापित करने के लिए संघर्ष शुरू किया है। एलएनए ने त्रिपोली के नजदीक स्थित कई गांवों और लीबिया की राजधानी से लगभग 20 मील दूर स्थित त्रिपोली अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा पर कब्जा जमा लिया है। जीएनए के प्रति वफादार सेनाओं ने हफ्तार की कार्रवाई को अपमानजनक करार देते हुए इसके खिलाफ अभियान चलाने की बात कही है।
गौरतलब है कि लीबिया के लंबे समय तक शासक रहे मुअम्मर गद्दाफी के वर्ष 2011 में निधन के बाद से देश कई संकटों का सामना कर रहा है।

02-06-2019
ट्विटर पर से गायब हुईं दिव्या स्पंदना, क्या छोड़ दी कांग्रेस की सोशल मीडिया टीम ?

नई दिल्ली। कांग्रेस की सोशल मीडिया विंग की प्रमुख दिव्या स्पंदना ने अपना ट्विटर अकाउंट डिलीट कर लिया है। वो अब ट्विटर पर नहीं हैं। उनके अकाउंट पर जाने पर लिखा आ रहा है, 'यह अकाउंट मौजूद नहीं है।' उससे पहले उनके ट्विटर अकाउंट कोई भी ट्वीट नहीं दिख रहा था। इस बात पर अभी अस्पष्टता है कि वह अभी भी सोशल मीडिया टीम का हिस्सा है या नहीं। कांग्रेस पार्टी या स्वयं स्पंदना की कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है। सूत्रों के अनुसार, स्पंदना टीम से अलग हो गई हैं, जबकि एक न्यजू एजेंसी ने उनसे पूछा तो उन्होंने कहा कि आपका सूत्र गलत है। 

स्पंदना भारतीय जनता पार्टी पर हमला करने के लिए अपने तीखे और विवादित ट्वीट्स के लिए जानी जाती हैं। इससे एक दिन पहले उन्होंने वित्त मंत्री बनने पर निर्मला सीतारमण को बधाई दी थी। बता दें कि हाल ही में चुनाव के दौरान दिव्या जर्मन तानाशाह एडोल्‍फ हिटलर और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की एक मीम ट्वीट कर घिर गई थीं। जब से राम्या को कांग्रेस का सोशल मीडिया प्रमुख बनाया गया है बदलाव साफ तौर पर दिखाई दे रहे हैं। पार्टी के सोशल मीडिया हैंडल से लेकर राहुल गांधी के हैंडल में फॉलोवर की संख्या तेजी से बढ़ी है। गुजरात चुनाव में भी राम्या की भूमिका बेहद अहम रही। राम्या के नेतृत्व में ही 'विकास गांडो थायो छे' कैम्पेन वायरल हुआ था।

दिव्या स्पंदना ने साल 2012 में कांग्रेस ज्वॉइन किया और 2013 में कर्नाटक की मंड्या संसदीय सीट से उपचुनाव जीता। हालांकि 2014 की मोदी लहर में उन्हें हार का सामना करना पड़ा। दिव्या स्पंदना ने कन्नड़ फिल्मों से डेब्यू किया और फिर तमिल और तुलुगू फिल्मों में भी अदाकारी के जलवे दिखाए। राम्या उनका स्क्रीन नाम है और अब वो इसी नाम से जानी जाती है।

31-05-2019
मोदी ने जीनबेकोव से की द्विपक्षीय मुद्दों पर वार्ता

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को प्रधानमंत्री पद की शपथ लेने के बाद किर्गिज गणराज्य के राष्ट्रपति एवं शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) के अध्यक्ष सूरोनबे जीनबेकोव के साथ द्विपक्षीय मुद्दों पर व्यापक वार्ता की। मोदी ने ट्विटर पर लिखा, ‘किर्गिज गणराज्य के राष्ट्रपति सूरोनबे जीनबेकोव साथ व्यापक चर्चा हुई। इस दौरान हमने दोनों देशों के बीच द्विपक्षीय संबंधों और आने वाले समय में आर्थिक और सामाजिक सहयोग को प्रगाढ़ करने को लेकर विस्तार से विचार-विमर्श किया।’

उल्लेखनीय है कि जीनबेकोव शंघाई सहोयग संगठन के अध्यक्ष के तौर पर मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल हुए थे। इसके साथ ही बंगाल की खाड़ी के तटवर्ती एवं समीपवर्ती देशों के अंतरराष्ट्रीय तकनीकी और आर्थिक सहयोग संगठन बिम्सटेक के सदस्य देशों बंगलादेश, भूटान, नेपाल, श्रीलंका, म्यांमार और थाईलैंड के नेता भी मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के लिए भारत आए हैं, जिनके साथ मोदी की शुक्रवार को मुलाकात होगी।

27-05-2019
जयसूर्या की मौत की अफवाह, सच मान बैठे स्टार क्रिकेटर

नई दिल्ली। श्रीलंका के पूर्व कप्तान सनथ जयसूर्या के निधन की अटकलें क्रिकेट की दुनिया में आग की तरह फैल गईं, लेकिन इसे महज अफवाह माना जा रहा है। किसी भी न्यूज एजेंसी या किसी अधिकारी ने इस संबंध में कोई जानकारी नहीं दी है। दरअसल, इसी महीने कनाडा में एक कार हादसे में 49 साल के जयसूर्या की मौत के बारे में इंटरनेट पर एक फर्जी खबर साझा की गई थी। इस खबर ने भारतीय स्पिनर रविचंद्रन अश्विन को भी हैरानी में डाल दिया, क्योंकि उन्होंने ट्विटर पर अपने 9.45 मिलियन फॉलोअर्स से इन अटकलों के पीछे की सच्चाई पूछी।

उन्होंने ट्विटर पर पूछा- क्या सनथ जयसूर्या से जुड़ी यह खबर सच है? मुझे वॉट्सऐप पर एक अपडेट मिला, लेकिन यहां ट्विटर पर कुछ भी नहीं है। ट्विटर पर कई प्रशंसकों ने अश्विन को ट्वीट किया कि जयसूर्या की मौत के बारे में खबर फर्जी थी। एक ट्विटर यूजर ने लिखा, 'यह गलत है, सनथ ने खुद इसका खंडन किया है।' जयसूर्या ने खुद अपने ट्विटर अकाउंट पर कार दुर्घटना की खबर से इनकार किया था। 21 मई को जयसूर्या ने लिखा था - 'दुर्भावना रखनी वाली वेबसाइटों की ओर से मेरी सेहत और खैरियत के बारे में फैलाई जा रही फर्जी खबरों पर कृपया गौर न करें। मैं श्रीलंका में हूं और हाल के दिनों में कनाडा गया ही नहीं। कृपया फर्जी समाचार साझा करने से बचें।'

24-05-2019
'राहुल गांधी ने अपना आत्मसम्मान, राजनीतिक कद दोनों ही गंवा दिया'

नई दिल्ली। मशहूर इतिहासकार और बीते पांच साल में कई बार मोदी सरकार पर सवाल उठाने वाले रामचंद्र गुहा ने राहुल गांधी के नेतृत्व पर सवाल खड़े कर दिए हैं। रामचंद्र गुहा ने लिखा है कि वह हैरान हैं कि अभी तक राहुल ने इस्तीफा नहीं दिया है। रामचंद्र गुहा ने अपने ट्विटर पर लिखा है कि वह हैरान हैं कि अभी तक राहुल गांधी ने कांग्रेस अध्यक्ष के पद से इस्तीफा नहीं दिया है। उनकी पार्टी ने इस चुनाव में काफी बुरा प्रदर्शन किया है। वह अपनी खुद की सीट ही हार चुके हैं। राहुल गांधी ने अपना आत्मसम्मान, राजनीतिक कद दोनों ही गंवा दिया है। मैं मांग करता हूं कि कांग्रेस को अब एक नए नेतृत्व की जरूरत है।

लेकिन कांग्रेस के पास वह भी नहीं है। बता दें कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी भी खुद अपने पद से इस्तीफा देने की पेशकश कर चुके हैं। सूत्रों की मानें तो वे यूपीए चेयरपर्सन सोनिया गांधी के सामने इस्तीफे की पेशकश कर चुके हैं, लेकिन इस पर 25 मई को होने वाली कांग्रेस वर्किंग कमेटी की बैठक में चर्चा होगी। 

22-05-2019
सीएम भूपेश बघेल ने दी इसरो के वैज्ञानिकों को बधाई, कहा-देश की सुरक्षा को मिलेगी मजबूती  

रायपुर। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन इसरो ने बुधवार को श्रीहरिकोटा से बेहतरीन सैटेलाइट PSLVC46 को लॉन्च किया है। इसके साथ ही PSLVC46 ने RISAT-2B रडार पृथ्वी अवलोकन सैटेलाइट को 555 किलोमीटर की ऊंचाई वाले लो अर्थ ऑर्बिट में पहुंचा दिया है। 
इसरो की इस सफलता पर सीएम भूपेश बघेल ने इसरो के वैज्ञानिकों को बधाई दी है। उन्होंने अपने ट्विटर पर लिखा की प्रक्षेपण यान PSLVC46 के द्वारा RISAT2B का सफलतापूर्वक प्रक्षेपण करके हमारे इसरो के वैज्ञानिकों ने फिर से नया गौरव हासिल किया है। इससे देश की सुरक्षा को मजबूती मिलेगी। इसरो की कामयाबी पर सभी वैज्ञानिकों व देशवासियों को बधाई एवं शुभकामनाएं।

18-05-2019
तेजस्वी का मोदी पर तंज, कहा- इस बार बिहार में आपकी झूठ नहीं बिकेगी

पटना। लोकसभा चुनाव में सातवें और अंतिम चरण के लिए बिहार की आठ लोकसभा सीटों पर रविवार को होने वाले मतदान से पूर्व राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के वरिष्ठ नेता तेजस्वी यादव ने आज एक बार फिर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर हमला करते हुए कहा कि इस चुनाव में मोदीजी की झूठ नहीं बिकेगी क्योंकि बिहारी उड़ती चिड़िया को हल्दी लगाने में माहिर हैं।

यादव ने माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर पर ट्वीट करते हुए लिखा, मोदीजी सुन लो, ये बिहार है बिहार। हम बिहारी उड़ती चिड़िया को हल्दी लगा देते है और साथ ही यह भी बता देते है कि वो चिड़िया कहाँ से उड़ी थी, कहां जाएगी और किस अक्षांश और देशांतर पर उड़ रही है। समझे, मोदीजी। यह गुजरात नहीं है जहां आपकी झूठ बिकेगी। नेता प्रतिपक्ष ने बहुचर्चित सृजन घोटाला और मुजफ्फरपुर कांड को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को चुनौती देते हुए कहा, आदरणीय नीतीश चाचा, आप तो सब चीज का क,ख ग' जानते है। सृजन घोटाले समेत 41 अन्य घोटाले किए। तो ज्ञानी चाचाजी, हिम्मत है तो आइए क, ख ग, पर बहस किजीए।

18-05-2019
आईसीसी ने लॉन्च किया वर्ल्ड कप का ऑफिशियल सॉन्ग ‘स्टैंड बाई’

नई दिल्ली। इंटरनैशनल क्रिकेट काउंसिल (आईसीसी) ने सभी स्ट्रीमिंग मंचों पर पुरुष विश्व कप का ऑफिशल सॉन्ग ‘स्टैंड बाई’ जारी किया। यह सॉन्ग 30 मई से शुरू होने वाले टूर्नामेंट के दौरान मैदानों और शहर में इससे संबंधित होने वाले कार्यक्रमों में बजाया जाएगा। ‘स्टैंड बाई’ को नई कलाकार लोरिन और ब्रिटेन के सबसे सफल व प्रभावी ‘रूडिमेंटल’ बैंड ने तैयार किया है। 

यूट्यूब पर 147,397 लोगों ने देखा सॉन्ग

आईसीसी ने इस सॉन्ग को अपने ऑफिशल ट्विटर हैंडल पर भी पोस्ट किया है। शुक्रवार शाम को जारी किए गए इस सॉन्ग को ट्विटर पर अब तक करीब 331 लोगों ने पसंद किया है। इसके अलावा इसे यूट्यूब पर अब तक करीब 147,397 लोगों ने देखा है। बता दें आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप 30 मई से शुरू होगा। इस टूर्नमेंट का पहला मैच लंदन के केंनिंगटन ओवल में इंग्लैंड और साउथ अफ्रीका के बीच होगा। इस बार वर्ल्ड कप में 10 टीमें खेल रही हैं जिसमें मेजबान इंग्लैंड के अलावा भारत, पाकिस्तान, श्रीलंका, बांग्लादेश, ऑस्ट्रेलिया, न्यू जीलैंड, अफगानिस्तान और वेस्टइंडीज की टीमें शामिल हैं। भारत का पहला मुकाबला 5 जून को साउथ हैम्पटन में साउथ अफ्रीका से होगा। आईसीसी पुरुष विश्व कप दुनिया की बड़ी वैश्विक खेल प्रतियोगिताओं में से एक है जिसमें 10 लाख खेल प्रशंसक एकजुट होंगे और अरबों प्रशसंक 48 मैचों को टीवी पर देखेंगे।

16-05-2019
प्रज्ञा ठाकुर के बयान का सीएम  भूपेश बघेल ने ट्विटर के जरिए दिया करारा जवाब

रायपुर। अपने विवादास्पद बयानों के लिए चर्चित लोकसभा चुनाव में भोपाल से भाजपा प्रत्याशी साध्वी प्रज्ञा ठाकुर महात्मा गांधी के हत्यारे नाथूराम गोडसे को देशभक्त बताकर चौतरफा घिर गई हैं। हालांकि उन्होंने अपने इस बयान के लिए माफी मांग ली है लेकिन उनकी आलोचना थम नहीं रही है। उनके बयान को लेकर कांग्रेस के शीर्ष नेताओं के अलावा छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने भी भाजपा और आरएसएस को निशाने पर लिया है। सीएम बघेल ने अपने ट्विटर पर लिखा है कि कितना डरावना है कि महात्मा गांधी के हत्यारे को सरेआम देशभक्त कहने वाली महिला संसद में जाना चाहती है। भाजपा और आरएसएस की नीयत और असलियत सामने आ गई है। दरअसल साध्वी प्रज्ञा ने कहा था कि नाथूराम गोडसे सबसे बड़े देशभक्त थे, हैं और रहेंगे।   गोडसे को आतंकवादी बोलने वाले लोग पहले स्वयं अपने गिरेबां में झांक कर देखें। ऐसा बोलने वालों को इस चुनाव में जनता द्वारा जवाब दे दिया जाएगा। ज्ञात हो कि  साध्वी प्रज्ञा के इस बयान की आलोचना करते हुए मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री व भोपाल से कांग्रेस प्रत्याशी दिग्विजय सिंह ने भी कहा है कि मैं इस बयान की निंदा करता हूं। नाथूराम गोडसे एक हत्यारा था। उसका महिमामंडन करना देशभक्ति नहीं है, यह देशद्रोह है।

16-05-2019
जानिए किस एयरलाइंस पर नाराज हुईं गायिका श्रेया घोषाल, पढ़ें पूरी खबर....

मुंबई। एयर प्लेन में म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट की अनुमति नहीं दिए जाने पर बॉलीवुड की सिंगर श्रेया घोषाल आक्रोशित हो गई। श्रेया घोषाल सिंगापुर एयरलाइन्स से नाराज हैं। उन्होंने ट्विटर पर एयरलाइंस को जमकर फटकार लगाई है। श्रेया को  सिंगापुर एयरलाइंस ने संगीत साजों को ले जाने की इजाजत नहीं दी, जिसके कारण वो बेहद नाराज हो गईं। श्रेया ने एयरलाइन्स की खिलाफ ट्विटर पर अपनी भड़ास निकालते हुए ट्वीट किया। श्रेया ने लिखा, "मुझे लगता है कि सिंगापुर एयरलाइन्स नहीं चाहता कि उनकी एयरलाइन में कोई ऐसा संगीतकार यात्रा करे, जिसके पास कोई कीमती इंस्ट्रूमेंट है। ठीक है, धन्यवाद। सबक सीख गई। बता दें कि श्रेया के प्रशंसक देश ही नहीं विदेश में भी काफी संख्या में है। वे विदेशों में गायन के प्रोग्राम करने जाती रहतीं है।

11-05-2019
सैम पित्रोदा की टिप्पणी कांग्रेस के लिए ‘सेल्फ गोल’ जैसी : महबूबा

श्रीनगर। वर्ष 1984 के सिख दंगों को लेकर कांग्रेस नेता सैम पित्रोदा की ‘हुआ तो हुआ’ टिप्पणी को आम चुनाव के माहौल में पार्टी के लिए ‘सेल्फ गोल’ करने जैसा निरुपित करते हुए पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) अध्यक्ष एवं जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने कहा है कि एक बुद्धिमान दुश्मन किसी मूर्ख मित्र से बेहतर होता है। पित्रोदा को बयान को अस्वीकार्य करार देते हुए सुश्री मुफ्ती ने ट्विटर पर कहा, ‘ऐसे समय में जब लोग सोच रहे हैं कि इन चुनावों में कांग्रेस ने शिष्टाचार बनाए रखा है, ये ‘हुआ तो हुआ’ हो गया। सैम पित्रोदा के योगदान के लिए भले ही उनकी सराहना की जाए, लेकिन 1984 के भीषण दंगों को लेकर उनका यह बयान अस्वीकार्य है। एक बुद्धिमान शत्रु मूर्ख मित्र से बेहतर है।

03-05-2019
दिग्विजय ने पूछे शिक्षा के मुद्दे पर 10 सवाल

 

भोपाल। मध्यप्रदेश की भोपाल संसदीय सीट से कांग्रेस उम्मीदवार और प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने अपने 10 सवालों की श्रृंखला में आज केंद्र सरकार से शिक्षा के मुद्दे पर 10 सवाल किए हैं। सिंह ने ट्विटर पर लिखा- शिक्षा मोदी सरकार की प्राथमिकताओं में क्यों नहीं है? क्यों मोदी सरकार ने शिक्षा बजट को घटाकर 3.48 फीसदी पर ला दिया है, जबकि साल 2013-14 में शिक्षा पर केंद्रीय बजट का 4.77 फीसदी खर्च था।

क्या भाजपा का चुनावी घोषणापत्र जुमला था, जिसमें शिक्षा पर जीडीपी का 6 प्रतिशत खर्च करने का वादा था? -उन्होंने सवाल किया कि मध्यप्रदेश में भाजपा सरकार के बीते छह सालों में 42.86 लाख बच्चों ने स्कूल जाना छोड़ा। इसमें सरकारी स्कूलों के 28 लाख और प्राइवेट स्कूलों के 14.86 लाख बच्चों ने पढ़ाई छोड़ी दी। वर्ष 2010 से 2016 तक प्राथमिक शिक्षा पर खर्च किए गए 48 हजार करोड़ रूपए का यह कैसा रिजल्ट है। सिंह लगातार विभिन्न मुद्दों पर भाजपा सरकारों से सवाल पूछ रहे हैं।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804