GLIBS
02-06-2019
पाकिस्तान से क्रिकेट ही क्यों, व्यापार भी बंद हो : हरभजन सिंह 

लंदन। भारतीय क्रिकेटर हरभजन सिंह और पाकिस्तान के पूर्व कप्तान मिस्बाह उल हक ने दोनों देशों के रिश्तों पर खुलकर बात की। दोनों ने ही राजनीतिक तनाव के कारण के कारण क्रिकेट संबंध ठप कर दिए जाने से असहमति जताई। हरभजन ने कहा कि क्रिकेट को राजनीति से अलग रखा जाना चाहिए। भज्जी ने कहा कि जब भी दोनों देशों के बीच तल्खी बढ़ती है, क्रिकेट मैच बंद हो जाते हैं। इस दौरान हॉकी मैच खेले जाते हैं, दोनों देशों के बीच व्यापार चलता रहता है, लेकिन क्रिकेट मैच नहीं खेला जाता। उन्होंने कहा कि जब बंद हो, तो यह सभी बंद हो। केवल क्रिकेट ही क्यों? सभी चीजों को एक ही तराजू में तौला जाना चाहिए। हरभजन ने कहा कि हम जब भी पाकिस्तान के खिलाडिय़ों से मिलते हैं, हमें कभी नहीं लगता कि कोई बदलाव हुआ है। हम अगर पाक क्रिकेटरों को जन्मदिन की शुभकामनाएं भी दे देते हैं तो देश में हमें गालियां पडऩी शुरू हो जाती हैं। पाकिस्तान में भी कुछ ऐसे ही लोग होंगे। हिंसा के समर्थक कुछ उधर भी होंगे, कुछ इधर भी होंगे। लेकिन इसका मतलब ये नहीं कि पूरा पाकिस्तान या पूरा भारत खराब है। हमें इन्सानियत को उपर रखना चाहिए। मिस्बाह ने भी भज्जी की राय से सहमति जताते हुए कहा कि दुनिया का कोई भी मुल्क खेलता हो, लेकिन क्रिकेट की फैमिली एक है। खेल लोगों को करीब लाने के लिए होता है न कि दूर करने के लिए। उन्होंने इन्सानियत को जरूरी बताते हुए कहा कि भारत-पाक मुकाबले को दोनों मुल्कों के लोग एन्ज्वॉय करते हैं। इन्हें इससे दूर रखना ठीक नहीं। बता दें कि भारत पाक के बीच द्विपक्षीय क्रिकेट संबंध वर्षों से ठप चल रहे हैं।

11-02-2019
सीएम भूपेश बघेल से मिले क्रिकेटर हरभजन सिंह, हस्ताक्षर युक्त बल्ला किया सीएम को भेंट

रायपुर। भारतीय क्रिकेटर हरभजन सिंह ने आज छत्तीसगढ़ के मुखयमंत्री भूपेश बघेल से सौजन्य मुलाकात की। उन्होंने मुख्यमंत्री को अपना हस्ताक्षर युक्त बल्ला भी भेंट किया। मुख्यमंत्री बघेल ने हरभजन सिंह को प्रतीक चिन्ह भेंटकर सम्मानित किया। इस अवसर पर खेल एवं युवा कल्याण मंत्री उमेश पटेल और खेल एवं युवा कल्याण विभाग के सचिव सिद्धार्थ कोमल परदेशी भी उपस्थित थे। सूत्रों की माने तो खेल को लेकर सरकार कोई बड़ी योजना बना रही हैं ताकि राज्य के युवा वर्ग क्रिकेट में अपना जौहर दिखाते हुए नेशनल व इंटरनेशनल खेल में प्रतिभा दिखा सके और प्रदेश का नाम रौशन करें।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804