GLIBS
10-07-2019
पंजाब नेशनल बैंक के एटीएम में चोरी का प्रयास

रायपुर। बीती रात तेलघानी नाका स्थित पंजाब नेशनल बैंक के एटीएम में अज्ञात युवक ने चोरी का प्रयास किया। यह पूरा मामला सीसीटीवी फुटेज में कैद हो गया। बता दें कि पंजाब नेशनल बैंक के अधिकारी ने जब तेलघानी नाका स्थित पंजाब नेशनल बैंक के एटीएम को चेक किया तो सीसीटीवी फुटेज में एक व्यक्ति दिख रहा हैं, जो औजार लेकर अंदर घुसा और एटीएम मशीन को क्षति पहुंचा रहा है। यह सारा फुटेज सीसीटीवी में कैद हुआ है। इससे बैंक अधिकारी की शिकायत पर गंज थाना पुलिस ने अज्ञात चोर के खिलाफ अपराध दर्ज कर जांच में लिया है।

28-05-2019
विश्व के इस सबसे बड़े देश में सिर्फ एक एटीएम फिर भी कोई परेशानी नहीं 

नई दिल्ली। लोगों को एकाएक विश्वास भले न हो लेकिन यह सच है कि क्षेत्रफल के हिसाब से दुनिया के सबसे बड़े देश अंटार्कटिका में मात्र एक एटीएम है, इसके बाद भी पैसे निकालने में यहां आपाधापी नहीं मचती। लोग बड़ी आसानी से पैसे निकाल लेते हैं।  जानकारी के अनुसार सर्दियों में माइनस 60 सेल्सियस डिग्री तक टेम्परेचर वाले इस देश में 1998 में दो एटीएम मशीन लगाई गई थीं, जिनमें से अब एक ही काम करती है। अंटार्कटिका के मैकमर्डो स्टेशन  पर यह मशीन वेल्स फर्गो ने लगाई है। वेल्स फर्गो बैंकिंग समूह है, जो एटीएम मशीन लगाता है। नासा के मुताबिक अंटार्कटिका के मैकमर्डो स्टेशन की आबादी 250 से 1250 के आस-पास है, जो कि इस देश में सबसे ज्यादा लोगों वाली जगह है। इसके अलावा अंटार्कटिका में इससे कम आबादी ही रहती है। मैकमर्डो स्टेशन के लोगों के लिए यहां कॉफी शॉप, जनरल स्टोर्स, बार्ड और पोस्ट ऑफिस हैं, जिनमें से कुछ सिर्फ कैश ही लेते हैं। इस वजह से इस शहर में एटीएम लगवाई गई। वेल्स फर्गो के मुताबिक गिनीज वल्र्ड ऑफ रिकॉड्र्स  के मुताबिक मैकमर्डो स्टेशन पर मौजूद इस एटीएम के नाम सुदूर दक्षिण भाग में मौजूद एकलौता एटीएम होने का रिकॉर्ड दर्ज है। इसके साथ ही ये अंटार्कटिका के पूरे महाद्वीप पर मौजूद एकमात्र एटीएम है। वेल्स फर्गो के वाइस प्रेजिडेंट डेविड पार्कर के मुताबिक यहां लोगों को कैश की खास जरूरत नहीं होती, बावजूद एटीएम मशीन में कैश निर्धारित समय पर डाला जाता है। साथ ही इस एटीएम की भी साल दो साल में  सर्विस की जाती है। पार्कर ने इन दो एटीएम में से सिर्फ एक चलने की वजह बताई कि दूसरे एटीएम का इस्तेमाल पहले वाले को चालू रखने के लिए किया जाता है। जैसे कोई स्पेयर पार्ट खराब होता है तो दूसरे एटीएम से निकाल लिया जाता है। 
बता दें कि अंटार्कटिका देश पूरे 14 मिलियन किलोमीटर एरिया में फैला हुआ है। यह दुनिया का सबसे ठंडा, बर्फिली हवाओं वाला सबसे सूखा महाद्वीप है। अंटार्कटिका का 90 से ज्यादा प्रतिशत एरिया सिर्फ बर्फ से ढंका है। इस देश का रिकॉर्ड टेम्परेचर साल 1983 में माइनस 90 डिग्री सेल्सियस तक गया था।

15-04-2019
9 लाख रुपए से भरी एटीएम उखाड़कर ले गए लुटेरे 

सोलन। हिमाचल प्रदेश के सोलन जिले के परवाणू शहर में पुराने राष्ट्रीय राजमार्ग के किनारे कुछ लुटेरे फर्श तोडऩे के बाद नौ लाख कैश से भरे एटीएम को उखाड़कर ले गए हैं। कार्पोरेशन बैंक प्रबंधन ने चोरी का पता चलते ही  पुलिस को सूचित कर दिया है। पुलिस को आरोपियों और एटीएम के संबंध में फिलहाल कोई जानकारी नहीं मिल पाई है। पुलिस ने बताया कि परवाणू ओल्ड हाईवे पर कार्पोरेशन बैंक के एटीएम को लुटेरे उखाड़कर ले गए हैं। रात को किसी को भनक नहीं लगी। सुबह लोग एटीएम से पैसे निकालने पहुंचे तो बूथ से मशीन गायब थी। बताया जा रहा है कि एटीएम में करीब 9 लाख रुपए   था। पुलिस ने मौके पर पहुंच कर जांच शुरू कर दी है। 

9 लाख रुपए से भरी एटीएम उखाड़कर ले गए लुटेरे 

सोलन। हिमाचल प्रदेश के सोलन जिले के परवाणू शहर में पुराने राष्ट्रीय राजमार्ग के किनारे कुछ लुटेरे फर्श तोडऩे के बाद नौ लाख कैश से भरे एटीएम को उखाड़कर ले गए हैं। कार्पोरेशन बैंक प्रबंधन ने चोरी का पता चलते ही  पुलिस को सूचित कर दिया है। पुलिस को आरोपियों और एटीएम के संबंध में फिलहाल कोई जानकारी नहीं मिल पाई है। पुलिस ने बताया कि परवाणू ओल्ड हाईवे पर कार्पोरेशन बैंक के एटीएम को लुटेरे उखाड़कर ले गए हैं। रात को किसी को भनक नहीं लगी। सुबह लोग एटीएम से पैसे निकालने पहुंचे तो बूथ से मशीन गायब थी। बताया जा रहा है कि एटीएम में करीब 9 लाख रुपए   था। पुलिस ने मौके पर पहुंच कर जांच शुरू कर दी है। 

 

10-04-2019
मोदी ने साधा कांग्रेस पर निशाना, कहा-पहले कांग्रेस का एटीएम कर्नाटक था अब मध्यप्रदेश

 

अहमदाबाद। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को गुजरात में जूनागढ़ की चुनावी सभा में फिर एक बार कांग्रेस पर निशाना साधा। कहा- पहले कांग्रेस का एटीएम कर्नाटक था अब मध्यप्रदेश में छह महीने भी सरकार बने नहीं हुआ और वहां नेताओं के करीबियों के यहां बोरा भर-भरकर नोट मिल रहे हैं। मोदी ने कहा, सबूतों के साथ तुगलक रोड चुनावी घोटाला उजागर हो गया है। कांग्रेस गरीब बच्चों का निवाला छीनकर अपने नेताओं का पेट भर रही है। कांग्रेस गर्भवती महिलाओं के लिए भेजे गए पैसों को लूट रही है। बीते कुछ दिनों में आपने देखा होगा कि कांग्रेसियों के घरों से बोरा भर-भर कर नोट निकले। मध्यप्रदेश में सरकार बने अभी 6 महीने भी नहीं हुए। पहले कांग्रेस ने कर्नाटक को अपना एटीएम बनाया था। अब मध्यप्रदेश बन गया। कांग्रेस सिर्फ पैसा लूटने के लिए सत्ता में आती है।

25-02-2019
ATM: बैंक और एटीएम में सुरक्षाकर्मी नदारद, पुलिस ने प्रबंधन को लगाई फटकार

कोरबा। पुलिस ने अलग-अलग टीम बनाकर शहर के बैंक और एटीएम की सघन जांच की। इस दौरान बैंक और एटीएम में गार्ड नजर नहीं आए। बैंकों की सुरक्षा को लेकर लापरवाही देखने को मिली । पुलिस ने बैंक प्रबंधक और मौजूद सुरक्षाकर्मी को जमकर फटकार लगाई। शहर में हो रहे ठगी और लूट के मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस ले एक विशेष अभियान चलाया है। शहर के अलग अलग बैंक और एटीएम की सघन जांच की गई। एसबीई एटीएम में गार्ड तो मिला लेकिन वो आराम करते नजर आया। वही सामने सेंट्रल बैंक आफ इंडिया के एटीएम में गार्ड ही मौजूद नहीं था। मुख्य एसबीई शाखा के एटीएम और केनरा बैंक का है, जहां सुरक्षा के लिहाज से सुरक्षाकर्मी तैनात नजर नहीं आए। 
जांच टीम के प्रभारी परमेश्वर राठौर ने बताया कि लूटपाट और ठगी के मामलों पर अंकुश लगाने पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर शहर के बैंक और एटीएम की सघन जांच की जा रही है। अधिकांश एटीएम और बैंक में सुरक्षाकर्मी नजर नहीं आए। इस पर बैंक प्रबंधन को निर्देश दिए गए कि एटीएम में सुरक्षा की तैनाती सीसीटीवी क्वालिटी युक्त और हार्न को जल्द ही दुरुस्त करें। 

09-02-2019
ATM: 1 मार्च से बंद हो सकते हैं एटीएम, होंगे नोट बंदी जैसे हालात फिर 
एटीएम का संचालन करने वाली एजेंसियों ने रखी खर्च बढ़ाने की मांग
07-02-2019
गरियाबंद के पीएनबी बैंक के एटीएम में चोरी करने का प्रयास करते 4 अंतर्राज्यीय आरोपी गिरफ्तार

रायपुर। गरियाबंद में मंगलवार की रात पंजाब नेशनल बैंक के एटीएम को रस्सी से बांधकर ले जाने का प्रयास करने वाले चार अंतर्राज्यीय आरोपियों को गरियाबंद पुलिस ने ग्रिफ्तार किया है। वही एक आरोपी भाग निकला, जिसकी तलाश जारी है। मामले की खुलासा करते हुए पुलिस महानिरीक्षक आनंद छाबड़ा ने बताया कि मंगलवार की रात मुम्बई कंट्रोल रूम से गरियाबंद पुलिस कंट्रोल रूम को सूचना मिली कि 5 युवक थाने से कुछ ही दूरी स्थित पंजाब नेशनल बैंक के एटीएम मशीन से छेड़छाड़ कर रहे है। सूचना पर पेट्रोलिंग टीम मौके पर पहुँची तो आरोपियों ने देसी कट्टा से पुलिस पर फायरिंग किया और पिकअप लेकर भाग निकले। इस दौरान पुलिस के टीम ने आरोपियों का पीछा भी किया।

जिससे आरोपियों ने मोहेरा पुल के पास पिकअप को छोड़कर पैदल जंगल मे भाग निकले। पुलिस के टीम ने आरोपियों को जंगल में सर्च किया तो सबसे पहले आरोपी अज्जी उर्फ आजाद खान को पुलिस के टीम ने पकड़ा। आरोपी अज्जी ने पूछताछ में बताया कि वह अपने साथी जुनैद खान, अशरूद्दीन, ईकराम, ईरशाद के साथ चोरी के वारदात को अंजाम देते है। ये सभी जिला मेवात हरियाणा के रहने वाले है। पुलिस ने आरोपी अज्जी के शेष साथी को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं एक आरोपी ईकराम फरार है जिसकी तलाश की जा रही है। 

आरोपियों के पास से बरामद सभी सामान चोरी का है-
 

पुलिस के टीम ने आरोपियों के पास से जो सामान बरामद किया है वे सभी चोरी के सामान है। जिसमें उपयोग किए गए पिकअप वाहन क्रमांक ओडी 05 यू 3456, 315 बोर का देशी कट्टा, 3 नग जिंदा कारतूस, 1 नग खाली कारतूस, टूटी हुई एटीएम की मशीन, गैस कटर, रस्सी, चाकू, लोहे का रॉड, व एक टाटा 407 वाहन धरमगढ़ में लावारिस छोड़े है। 

आरोपियों के खिलाफ पूर्व में है कई अपराध दर्ज-

पकड़े गए आरोपियों में जुनैद खान के ऊपर लगभग 9 अपराध दर्ज है, जिसमें हत्या का प्रयास, चोरी, लूट, डकैती। वहीं असरूद्दीन के खिलाफ हत्या, लूट, डकैती के 6 अपराध है। इसी तरह आरोपी अज्जी उर्फ आजाद के ऊपर 3 अपराध हरियाणा, उत्तरप्रदेश और उडि़सा राज्यों के विभिन्न जिलों में दर्ज है। गरियाबंद पुलिस अधीक्षक एम.आर.आहिरे ने बताया कि इसकी जानकारी उडि़सा पुलिस को दे दी है। जल्द ही उडि़सा पुलिस आरोपियों को कस्टडी में लेने राजधानी पहुंच रही है।

06-02-2019
एटीएम को लूटने की कोशिश, एक आरोपी गिरफ्तार

 

गरियाबंद। जिले में पीएनबी बैंक के एटीएम को लूटेरों ने बुधवार दोपहर 3 बजे लूटने की कोशिश की। घटना को 4 युवकों ने अंजाम दिए जाने की बात सामने आ रही है। पुलिस ने मामले में एक आरोपी को पकड़ने में सफलता हासिल कर ली है। बाकी जंगल में भागने में कामयाब हो गए। पुलिस सर्चिंग टीम को जंगल में भेजकर आरोपियों की तालाश कर रही है। एटीएम में कितना कैश था इसकी जानकारी तो फिलहाल नहीं मिल पाई है। इस घटना से बैंक की बड़ी लापरवाही सामने आई है। बैंक ने एटीएम में कोई सिक्योरिटी गार्ड की व्यवस्था नहीं की थी। पुलिस भी फिलहाल मामले में कुछ भी बोलने से बच रही है। मिली जानकारी के मुताबिक लूटेरों ने एटीएम को पट्टे से बांध कर पिकअप वाहने से खींचने की कौशिश की, लेकिन इसी दौरान एटीएम से कनेक्ट थाना में लगा सिक्यूरटी अलार्म बज गया। इसके बाद पीसीआर वैन तत्काल मौके पर पहुंचा। लुटेरे पुलिस को देखकर अपने पिकअप से फरार हो गए। पीसीआर वैन ने लुटेरों का 5 किमी तक दौड़ाया। इस दौरान लुटरों ने पीसीआर वैन पर भी फायरिंग की और टक्कर मारने की कोशिश की। इसमें पीसीआर वाहन का अगला हिस्सा क्षतिग्रस्त हो गया।

27-01-2019
देवर के बेटे ने बैंक खाते से उड़ाए 19 लाख, पुलिस ने 12 घंटे में गिरफ्तार कर बरामद किए 13 लाख

राजनांदगांव। जिले के रागढ़ थाना क्षेत्र में एक शिक्षिका के बैंक खाते से एटीएम के माध्यम से 19 लाख रुपए की धोखाधड़ी करने वाले आरोपी को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।  आरोपी के पास से 13 लाख 12 हजार रुपए एटीएम सहित एक मोबाइल आदि बरामद कर लिया है। राजनांदगांव जिले के नक्सल प्रभावित  गातापार थाना क्षेत्र के ग्राम चिचका की 63 वर्षीय सेवानिवृत्ति प्रधान पाठिका सरस्वती मेश्राम ने 23 जनवरी को 30 हजार रुपए बैंक से निकालने के बाद पासबुक एन्ट्री करवाने के बाद खाते से 19 लाख रुपए निकालने की बात सामने आई जिसके बाद प्रधान पाठिका ने खैरागढ़ थाना में 19 लाख रुपए खाते से निकालने की शिकायत करवाई। इसके बाद पुलिस ने मामला दर्ज कर एक टीम गठन कर तेजी से जांच में जुट गई। पुलिस ने एसबीआई ब्रांच खैरागढ़ से खाता संबंधित जानकारी ली तब पता चला की खाते से एटीएम और यूपीआई के माध्यम से रुपए निकाले हैं लेकिन प्रार्थी ने बताया कि उनके पास एटीएम नहीं है जिसके बाद बैंक संबंधित खाता का रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर की जानकारी ली गई। तब सरस्वती के देवर के बेटे आशीष मेश्राम की जानकारी हुई। इसके बाद पुलिस ने 12 घंटे के अन्दर 19 लाख रुपए की धोखाधड़ी करने वाले मास्टर माइंड 20 वर्षीय आशीष मेश्राम को गिरफ्तार कर 13 लाख 12 हजार रुपए नगद एटीएम और मोबाइल के साथ गिरफ्तार किया।

22-01-2019
दादा ने खोला राम नाम का बैंक, एक सदी में खाते हुए 1 लाख

प्रयागराज। कुंभ में बिना किसी एटीएम या चेक बुक वाला एक ऐसा अनोखा ‘राम नाम बैंक' सेवाएं दे रहा है जहां केवल ‘भगवान राम' की मुद्रा चलती है और ब्याज के रूप में आत्मिक शांति मिलती है। यह ऐसा बैंक है जिसमें आत्मिक शांति की तलाश कर रहे लोग करीब एक सदी से पुस्तिकाओं में भगवान राम का नाम लिखकर जमा करा रहे हैं। इस अनूठे बैंक का प्रबंधन देखने वाले आशुतोष वार्ष्णेय के दादा ने 20वीं सदी की शुरुआत में संगठन की स्थापना की थी। आशुतोष अपने दादा की विरासत को आगे बढ़ा रहे हैं। आशुतोष ने कुंभ मेले के सेक्टर छह में अपना शिविर लगाया है। उन्होंने कहा, ‘‘इस बैंक की स्थापना मेरे दादा ईश्वर चंद्र ने की थी, जो कारोबारी थे। अब इस बैंक में विभिन्न आयु वर्गों एवं धर्मों के एक लाख से अधिक खाता धारक हैं।''

मौद्रिक लेने नहीं होता

आशुतोष ने सोमवार को बताया, ‘‘यह बैंक एक सामाजिक संगठन ‘राम नाम सेवा संस्थान' के तहत चलता है और कम से कम नौ कुंभ मेलों में इसे स्थापित किया जा चुका है।'' बैंक में कोई मौद्रिक लेनदेन नहीं होता। इसके सदस्यों के पास 30 पृष्ठीय एक पुस्तिका होती है जिसमें 108 कॉलम में वे प्रतिदिन 108 बार ‘राम नाम' लिखते हैं। यह पुस्तिका व्यक्ति के खाते में जमा की जाती है। उन्होंने कहा कि भगवान राम का नाम लाल स्याही से लिखा जाता है क्योंकि यह रंग प्रेम का प्रतीक है।

सभी सेवाएं नि:शुल्क, पासबुक भी बनती है

बैंक की अध्यक्ष गुंजन वार्ष्णेय ने कहा, ‘‘खाताधारक के खाते में भगवान राम का दिव्य नाम जमा होता है। अन्य बैंकों की तरह पासबुक जारी की जाती है। ये सभी सेवाएं नि:शुल्क दी जाती है। इस बैंक में केवल भगवान राम के नाम की मुद्रा ही चलती है।'' उन्होंने बताया कि राम नाम को ‘लिखिता जाप' कहा जाता है। इसे लिखित ध्यान लगाना कहते हैं। स्वर्णिम अक्षरों को लिखने से अंतरात्मा के पूर्ण समर्पण एवं शांति का बोध होता है। सभी इन्द्रियां भगवान की सेवा में लिप्त हो जाती हैं।

सभी धर्माें के लोगों का खाता, कई भाषाओं में है रिकॉर्ड

आशुतोष ने कहा कि केवल किसी एक धर्म के लोग ही नहीं बल्कि विभिन्न धर्मों के लोग उर्दू, अंग्रेजी और बंगाली में भगवान राम का नाम लिखते है। ईसाई धर्म का पालन करने वाले पीटरसन दास (55) वर्ष 2012 से भगवान राम का नाम लिख रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘‘ईश्वर एक है, भले ही वह राम हो, अल्लाह हो, यीशु हो या नानक हो।'' पांच साल से इस बैंक से जुड़े सरदार पृथ्वीपाल सिंह (50) ने कहा, ‘‘भगवान राम और गुरू गोविंद सिंह महान थे। उनके विचारों का अनुसरण करना हर मनुष्य का परम कर्तव्य है।''

Advertise, Call Now - +91 76111 07804