GLIBS
03-07-2019
जन चौपाल में मिले आवेदनों के निराकरण की जानकारी आवेदक को दी जाएगी मोबाइल पर

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बुधवार को अपने शासकीय आवास पर जन चौपाल की शुरूआत कर दी। जन चौपाल में मुख्यमंत्री सीधे जनता की समस्याओं से अवगत हुए और सम्बंधित विभाग के अधिकारी को निराकरण के निर्देश दिए। जनचौपाल की शुरुआत करने के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने एक सॉफ्टवेयर का भी शुरुआत की। इसके माध्यम से प्रदेशवासी अपना आवेदन मुख्यमंत्री को ऑनलाइन भेज सकते हैं। आज के जनचौपाल में आर्थिक सहायता, नामांतरण, मुआवजा, मुख्यमंत्री पेंशन योजना के तहत हितग्राहियों को पेंशन प्रदान करने जैसे आवेदन मुख्यमंत्री को मिले। मुख्यमंत्री ने पत्रकारों से चर्चा के दौरान कहा कि जनता ने विश्वास जताया है। जनचौपाल के माध्यम से जनता की समस्याओं का निराकरण किया जाएगा। जनचौपाल में पूरे प्रदेश भर के जनता की जो समस्याए है उनका निराकरण किया जाएगा।

15 दिनों के भीतर आवेंदनो का होगा निराकरण

जनचौपाल में मिले आवेदनो का 15 दिनों के अंदर निराकरण किया जाएगा। जिन आवेदनो का निराकरण 15 दिनों के अंदर नहीं होगा उनका परीक्षण कराया जाएगा। निराकरण होने वाले आवेदनो कि सूचना आवेदक को उनके मोबाइल में मैसेज भेजकर एवं लिखित में आवेदन भेजकर दी जाएगी।

मुख्यमंत्री को पहला आवेदन आर्थिक सहायता के लिए मिला

जन चौपाल में आज मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को हीरापुर निवासी 60 वर्षीय कमला बाई ने किडनी की बीमारी के उपचार के लिए आर्थिक सहायता के लिए आवेदन दिया। मुख्यमंत्री ने तत्काल कमला बाई के उपचार के लिए 20 हजार रुपए की आर्थिक सहायता स्वीकृति की। कमला बाई का पुत्र हीरापुर में चाट ठेला का व्यवसाय करता है।

प्राप्त आवेंदनो के लिए बनाए गए 9 काउंटर

काउंटर क्रमांक 1 आर्थिक सहायता, मुख्यमंत्री सचिवालय, काउंटर क्रमांक 2 प्राधिकरण, काउंटर 3 विकास, काउंटर 4 नगर निगम, काउंटर 5 कलेक्टर, काउंटर 6, काउंटर क्रमांक 7 मुख्यमंत्री निवास, काउंटर 8 संजीवनी एवं बाल हृदय योजना, काउंटर 9 शुगर सिकलिंग जांच के साथ साथ मेकाहारा के वरिष्ठ चिकित्सको की एक काउंटर बनाई गई है।

आर्थिक सहायता, नामांतरण, जमीन विवाद के मामले अधिक

जनचौपाल में आज आर्थिक सहायता, नामांतरण, ज़मीन विवाद के मामले और मुआवजा से सम्बंधित आवेदन अधिक आये।

पाटन क्षेत्र से आये अधिक आवेदन

जनचौपाल में मुख्यमंत्री के गृह जिले पाटन क्षेत्र से बहुतायत में लोग आज अपनी समस्या लेकर जनचौपाल में पहुँचे।

26-06-2019
ग्रुप एक्स के एयरमेन व ग्रुप वाई के पदों के लिए ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित

मुंगेली। भारतीय वायुसेना द्वारा अविवाहित भारतीय पुरुष नागरिकों से ग्रुप  'एक्स' के एयरमेन पद एवं ग्रुप  'वाई' के पदों के लिए ऑनलाइन चयन परीक्षा का आयोजन 21 से 24 सितम्बर तक किया गया है। इसके लिए ऑनलाइन आवेदन वेबसाइट डब्ल्यू डब्ल्यू डब्ल्यू डाट एयरमेन सेलेक्शन डाट सीडैक डाट इन पर 01 जुलाई से 15 जुलाई  तक आमंत्रित किए गए हैं। इन पदों के लिए अभ्यर्थी का जन्म 19 जुलाई 1999 से 1 जुलाई 2003 के बीच होना चाहिए। गु्रप 'एक्स' के पद के लिए आवश्यक निर्धारित शैक्षणिक योग्यता मान्यता प्राप्त संस्था से गणित, भौतिक और अंग्रेजी विषय के साथ न्यूनतम 50 प्रतिशत अंकों के साथ 10$2 परीक्षा उत्तीर्ण होनी चाहिए तथा अंग्रेजी विषय में न्यूनतम 50 प्रतिशत अंक हो या किसी भी शाखा से 03 वर्षीय पॉलीटेक्निक डिप्लोमा 50 प्रतिशत अंकों के साथ उत्तीर्ण की हो तथा 12वीं या 10वीं की परीक्षा में अंग्रेजी विषय में 50 प्रतिशत अंक हो। गु्रप 'वाई' के पदों के लिए न्यूनतम निर्धारित शैक्षणिक योग्यता मान्यता प्राप्त संस्था से न्यूनतम 50 प्रतिशत अंकों के साथ किसी भी (स्ट्रीम) कला/ वाणिज्य /विज्ञान में न्यूनतम 50 प्रतिशत अंकों के 10$2 परीक्षा उत्तीर्ण की हो जिसमें अंग्रेजी विषय में 50 प्रतिशत अंक हो या मान्यता प्राप्त संस्था से 02 वर्षीय व्होकेशनल कोर्स न्यूनतम 50 प्रतिशत अंकों के साथ उत्तीर्ण की हो जिसमें इंटरमेडिएट/मैट्रीकुलेशन में अंग्रेजी विषय में 50 प्रतिशत अंक हो। ग्रुप 'वाई' मेडिकल सहायक पद हेतु मान्यता प्राप्त संस्था से भौतिकी, रसायन, जीवविज्ञान तथा अंग्रेजी विषय के साथ न्यूनतम 50 प्रतिशत अंकों के साथ 10$2 परीक्षा उत्तीर्ण की हो जिसमें अंग्रेजी विषय में 50 प्रतिशत अंक हो। आवश्यक आवेदन शुल्क 250 रुपए है जिसे डेबिट/क्रेडिट कार्ड/इंटरनेट बैंकिंग से अदा किया जा सकता है। प्रशिक्षण अवधि में 14500 रुपए प्रति माह स्टाईपेन्ड दिया जाएगा। प्रशिक्षण समाप्ति पश्चात गु्रप 'एक्स' के पद हेतु 33100 रुपए मंहगाई भत्ता प्रति माह वेतन के रूप में दिया जाएगा। गु्रप 'वाई' के पद हेतु वेतन 26900 रुपए मंहगाई भत्ता प्रति माह दिया जाएगा।

15-06-2019
‘अंजोर रथ’ ने ग्रामीणों को जागरूक और अपराध के प्रति सजग रहने का दिया संदेश

धमतरी। पुलिस अधीक्षक महोदय के निर्देशन में ग्राम पंचायत मेघा में  ‘अंजोर रथ’ का आठवां दिन ग्राम मेघा में  ग्रामीणों के बीच में मगरलोड पुलिस द्वारा चौपाल लगाकर लोगों को जागरूक किया गया। पुलिस अधीक्षक महोदय ने भी अपने उद्बोधन में बताया कि आप सभी लोगों को पुलिस का सहयोग करना चाहिए। यातायात के नियमों का पालन करना चाहिए दो पहिया वाहन चलाते समय हेलमेट पहने। एवं अपराध तथा अपराधियों के प्रति सजग रहना चाहिए। दहेज प्रताड़ना अधिनियम के संबंध में जानकारी दी गई।
किसी भी घटना की सूचना तुरंत पुलिस को दे,आपकी जानकारी गोपनीय रखी जायेगी।

ग्राम पंचायत मेघा की सरपंच श्रीमती गुलाब का निषाद, द्वारा भी इस कार्यक्रम का सराहना करते हुए धमतरी पुलिस को आभार प्रदर्शन कर  शुभकामनाएं दिया गया। मोबाईल एवं ऑनलाइन से होने वाले धोखाधड़ी से सावधान रहने एवं  साईबर क्राईम, चिटफण्ड कंपनी के झांसा में न आने के संबंध में बताया गया। धमतरी पुलिस के द्वारा तैयार किया गया ये ‘‘अंजोर रथ’’ के माध्यम  रोज अलग अलग गावों में चौपाल लगाकर  ग्रामीणों को जागरूक किया जा रहा है। इसके माध्यम से लोगों की समस्या अथवा शिकायत का भी  निराकरण इस रथ के माध्यम से किया जा रहा है। प्रोजेक्टर के माध्यम से जागरूकता लाने के लिए लघु फिल्म भी दिखाया गया। ग्रामीणों के द्वारा इस कार्यक्रम की सराहना की जा रही है की  जिला पुलिस धमतरी द्वारा महत्वपूर्ण जानकारी लोगों को प्राप्त हो रही है।बच्चे भी इस कार्यक्रम से काफी खुश नजर आ रहे हैं।

इस अवसर पर पुलिस अधीक्षक धमतरी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक धमतरी,अनु.अधिकारी पुलिस कुरूद एवं थाना प्रभारी मगरलोड, थाना प्रभारी कुरूद, एवं मगरलोड पुलिस, करेलीबड़ी के पुलिस अधिकारी,  कर्मचारीगण एवं ग्राम मेघा के सरपंच गुलापा बाई निषाद,महिला कमांडो अध्यक्ष ग्राम पहंदा गीता बाई सिन्हा ,उप सरपंच शंकर साहू, व्यापारी संघ अध्यक्ष संतोष सोनी, इंद्रजीत सिंह दिगवा, जगजीत कौर, दिनेश साहू एवं अन्य नागरिकगण अधिक संख्या में लोग उपस्थित थे।

14-06-2019
आमदी में ‘अंजोर रथ’ ने ग्रामीणों को जागरूक और अपराध के प्रति सजग रहने का दिया संदेश

 

धमतरी। पुलिस अधीक्षक के निर्देशन में आज नगर पंचायत आमदी में आज ‘अंजोर रथ’ का ग्राम आमदी में  ग्रामीणों के बीच में अजुर्नी पुलिस द्वारा चौपाल लगाकर लोगों को जागरूक किया गया। पुलिस अधीक्षक ने अपने उद्बोधन में बताया कि आप सभी को पुलिस का सहयोग करना चाहिए। एवं अपराध तथा अपराधियों के प्रति सजग रहना चाहिए। किसी भी घटना की सूचना तुरंत पुलिस को दें। आपकी जानकारी से गोपनीय रखी जाएगी। ग्राम आमदी नगर पंचायत के अध्यक्ष प्रिति कुंभकार के द्वारा भी इस कार्यक्रम का सराहना करते हुए धमतरी पुलिस को आभार प्रदर्शन कर  शुभकामनाएँ दिया गया। मोबाईल एवं ऑनलाइन से होने वाले धोखाधड़ी से सावधान रहने एवं  साईबर क्राईम, चिटफण्ड कंपनी के झांसा में न आने के संबंध में बताया गया।

धमतरी पुलिस के द्वारा तैयार किया गया ये ‘‘अंजोर रथ’’ के माध्यम  रोज अलग अलग गावों में चौपाल लगाकर  ग्रामीणों को जागरूक किया जा रहा है। इसके माध्यम से लोगों की समस्या अथवा शिकायत का भी  निराकरण इस रथ के माध्यम से किया जा रहा है। प्रोजेक्टर के माध्यम से जागरूकता लाने के लिए लघु फिल्म भी दिखाया गया। ग्रामीणों के द्वारा इस कार्यक्रम की सराहना की जा रही है की  जिला पुलिस धमतरी द्वारा महत्वपूर्ण जानकारी लोगों को प्राप्त हो रही है।बच्चे भी इस कार्यक्रम से काफी खुश नजर आ रहे हैं। इस अवसर पर अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक धमतरी एवं थाना प्रभारी अजुर्नी एवं आमदी के नगर पंचायत अध्यक्ष श्रीमती प्रिति कुंभकार  सहित  थाना अजुर्नी के पुलिस अधिकारी कर्मचारीगण एवं ग्राम आमदी के नागरिकगण अधिक संख्या में लोग उपस्थित थे।

11-06-2019
माशिमं ने दी छात्रों को सुविधा, अब ऑनलाइन मिलेगा माइग्रेशन सर्टिफिकेट

रायपुर। छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल की ओर से माइग्रेशन सर्टिफिकेट अब जबरन नहीं थमाया जाएगा। जिस छात्र को जरूरत होगी, वह ऑनलाइन आवेदन करके इसे आसानी से घर बैठे प्राप्त कर सकता है। इसके लिए अब माशिमं के दफ्तरों में चक्कर भी नहीं लगाने पड़ेंगे। दरअसल माशिमं ने अपने पुराने नियमों में बड़ा बदलाव किया है, जो अब लागू किया गया है। छात्र अब अपना माइग्रेशन सर्टिफिकेट ऑनलाइन प्राप्त कर सकते हैं। 

प्राचार्य करेंगे सत्यापन
माशिमं के सचिव डॉ. वीके गोयल ने छात्रों के हित में फैसला लेते हुए माइग्रेशन सर्टिफिकेट छापने के बजाय इसे माशिमं की वेबसाइट पर सॉफ्टकॉपी के रूप में अपलोड करा दिया है। जिस विद्यार्थी को जरूरत पड़ेगी वह माइग्रेशन सर्टिफिकेट के लिए 110 रुपए ऑनलाइन आवेदन के साथ भुगतान करके अपने संबंधित स्कूल के प्राचार्य के लॉगिन के माध्यम से सर्टिफिकेट निकलवा सकेगा। इसके बाद प्राचार्य ही इस माइग्रेशन सर्टिफिकेट पर सील और मुहर लगाकर सत्यापित कर सकेंगे। लिहाजा माशिमं के दफ्तर भी जाने की जरूरत नहीं होगी। वहीं पं. रविशंकर शुक्ल विवि समेत प्रदेश के अन्य विवि ने भी यह फैसला लिया है कि प्रदेश के बच्चों को पात्रता प्रमाणपत्र बनवाने की भी जरूरत नहीं है।

10-06-2019
प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम के तहत् ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित

 

धमतरी। जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र धमतरी द्वारा प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम 2019-20 के तहत् सभी वर्गों के ऐसे आवेदक, जो स्वयं का उद्योग अथवा सेवा कार्य स्थापित करना चाहते हैं, उनसे ऑनलाइन आवेदन मंगाए गए हैं। महाप्रबंधक, जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र ने बताया कि इस योजना में उद्योग के लिए अधिकतम 25 लाख रुपए तथा सेवा कार्य के लिए अधिकतम 10 लाख रुपए की सीमा है। उन्होंने बताया कि आवेदन के लिए आधार कार्ड, शैक्षणिक योग्यता, जाति, जनसंख्या, अनापत्ति प्रमाण पत्र, फोटोग्राफ और परियोजना प्रतिवेदन जमा करना होगा। इस संबंध में अधिक जानकारी के लिए कलेक्टोरेट के प्रथम तल पर स्थित जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र कक्ष क्रमांक 66 में उपस्थित होकर अथवा दूरभाष क्रमांक 07722-232966 पर सम्पर्क किया जा सकता है। इसी तरह मगरलोड में सहायक प्रबंधक डीके मंडावी मो.नं 95892-56614, धमतरी/नगरी के लिए एसके पाण्डेय 78986-09895 तथा कुरुद में सहायक प्रबंधक डीपी साहू मो.नं. 84355-58175 पर सम्पर्क किया जा सकता है।

31-05-2019
राज्य सरकार श्रमिकों के कल्याण के लिए संकल्पित : डॉ. डहरिया

रायपुर। श्रम मंत्री डॉ. शिव कुमार डहरिया ने आज यहां जगदलपुर में बस्तर संभाग के श्रम अधिकारियों की बैठक लेकर विभागीय कामकाज की समीक्षा की। डॉ. डहरिया ने बैठक में कहा कि राज्य सरकार श्रमिकों के कल्याण के लिए दृढ़ संकल्पित हैं। हर हाथ को काम मिले इस दिशा में कार्ययोजना तैयार की जाए। डॉ. डहरिया ने श्रमिकों के कार्य क्षमता में वृद्धि के लिए कौशल विकास प्रशिक्षण दिलाने पर भी बल दिया। उन्होंने श्रमिकों के लिए संचालित सभी कल्याणकारी योजनाओं को धरातल तक पहुंचाने पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि योजनाओं के क्रियान्वयन में किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।

योजनाओं के क्रियान्वयन गड़बड़ी और लापरवाही पाए जाने पर संबंधितों के विरुद्ध कठोर कार्रवाई की जाएगी। डॉ. डहरिया ने कहा कि श्रमिकों के कल्याण के लिए प्रदेश सरकार पूरी तरह संकल्पबद्ध होकर प्रयास कर रही हैं। श्रमिकों के कल्याण के लिए अनेक योजनाएं संचालित की जा रही हैं। उन्होंने श्रमिकों को योजनाओं से लाभान्वित करने और श्रमिकों के पंजीयन सहित अन्य आवेदनों पर तत्काल कार्यवाही करने के निर्देश दिए। डॉ. डहरिया ने श्रमिकों के हित में प्राथमिकता और पारदर्शिता से काम करने तथा विभाग द्वारा अपनाई गई ऑनलाइन प्रक्रिया का पालन करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि विभागीय कार्य में तेजी लाने के लिए रिक्त पदों पर भर्ती की कार्यवाही की जाए। बैठक में उप श्रमायुक्त एसएल जांगड़े, श्रम विभाग के उप संचालक एन्थोनी तिर्की सहित संभाग के सभी संबंधित अधिकारी उपस्थित थे।

 

25-05-2019
10 वीं व 12वीं के पुनर्मूल्यांकन का आज अंतिम दिन, 25 हजार छात्रों ने किया आवेदन

 

रायपुर। छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल 10वीं व 12वीं के परीक्षा परिणाम 10 मई को घोषित किया था। इसमें कई छात्रों को अंकों में कमी लग रही है ऐसे छात्र इस बार परिसर में लाइन लगाने के बजाय ऑनलाइन आवेदन करने की सुविधा प्रदान की गई है। ताकि छात्रों को किसी भी प्रकार से दिक्कतों का सामना ना करना पड़े। 

बता दें कि पुनर्मूल्यांकन की आज अंतिम तिथि है। अब तक परिणाम व पुनर्मूल्यांकन के लिए 20 से 25 हजार आवेदन आए है। वही कॉपियों के चेकिंग के लिए टीम भी तैयार की गई है। ये कापियों को चेक कर परिणाम तत्काल घोषित करने की बात कह रहे हैं। इस वर्ष कम छात्रों ने आवेदन किया है। कारण यह बताया जा था है कि ऑनलाइन होने के कारण सर्वर डाउन हो जाता था, जिसके चलते छात्रों को काफ़ी परेशानियों का सामना करना पड़ा। नक्सल प्रभावित जिलों से 9 हजार छात्रों ने आवेदन किया है। पुनर्मूल्यांकन के लिए आवेदन करने वालों से राशि नहीं लेने की बात कही जा रही है। वही छात्रों को परिणामों में संदेह होता है तब दावा आपत्ति तैयार कर फिर से पुनर्मूल्यांकन कर सकते हैं।

15-04-2019
Voters : अब मतदाता ऑनलाइन देख सकते हैं मतदाता सूची में अपना नाम

रायपुर। राज्य का कोई भी मतदाता जिनका नाम मतदाता सूची में दर्ज है, वे अपना नाम मतदाता सूची में देख सकते हैं। इसके लिए मतदाता सेवा पोर्टल, वोटर हेल्पलाइन एप्लीकेशन, कॉल सेन्टर या निशुल्क एसएमएस सेवा का उपयोग कर सकते हैं। भारत निर्वाचन आयोग ने देश के 87.5 करोड़ अपने मतदाताओं की सहूलियत के लिए वोटर हेल्पलाइन एंड्रायड एप्लिकेशन शुरू किया है। भारत निर्वाचन अयोग ने अपनी वेबसाइट में मतदाताओं की सुविधा के लिए अब वोटर सर्च  का विकल्प उपलब्ध करा दिया है। इसके माध्यम से मतदाता अपनी खुद की जानकारी सर्च कर सकते हैं। आयोग द्वारा वोटर हेल्पलाइन मोबाइल एप्लीकेशन भी लांच किया गया है, जिसे प्ले-स्टोर से डाउनलोड किया जा सकता है। इस एप के माध्यम से मतदाता एक ही स्थान से भारत निर्वाचन आयोग की वेबसाइट, स्वीप, एनवीएसपी, मतदाता सर्च एवं एनजीएसपी (शिकायत पोर्टल) का उपयोग कर सकते हैं। मतदाता सीधे टोल फ्री नंबर 1950 पर सीधे कॉल कर मतदाता सूची संबंधी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।
इसके अलावा मोबाइल सेवा से जुड़े आम मतदाताओं के लिए शार्ट मैसेज सर्विस (एसएमएस) की सुविधा भी उपलब्ध है। इसके तहत मतदाता, मतदाता सूची से संबंधित जानकारियाँ सिर्फ एक एसएमएस के माध्यम से प्राप्त कर सकता है। आयोग की यह सेवा निःशुल्क है। इसके तहत मतदाता अपने मोबाइल से आयोग के निःशुल्क  नंबर 1950 में एसएमएस कर अपनी प्राथमिक जानकारियां सहित निर्वाचन क्षेत्र, मतदान केन्द्र, सरल क्रमांक के साथ ही बूथ लेवल अधिकारी का मोबाइल नंबर भी प्राप्त कर सकते हैं।  
मतदाता यह जानकारी हिन्दी या स्थानीय अथवा अंग्रेजी भाषा में प्राप्त कर सकते हैं। इसके लिए मतदाता को अपने मोबाइल के  मैसेज बाक्स में जाकर अंग्रेजी में ECI लिखकर स्पेस देना होगा। उसके बाद EPICNUMBER अर्थात मतदाता पहचान पत्र की संख्या  लिखना / टाइप करना है। इसके बाद चाही गई जानकारी हिन्दी अथवा स्थानीय भाषा के लिए 1 तथा अंग्रेजी के लिए 0 टाइप करना है। याने ECI EPICNO 1 अथवा 0 टाइप करके लिखे हुए इस मैसेज को आयोग के निशुल्क  नम्बर 1950 में भेज देना है । इसके बाद मतदाता को एक संदेश प्राप्त होगा, जिसमें मतदाता सूची अनुसार संबंधित मतदाता का नाम, उम्र,निर्वाचन क्षेत्र तथा राज्य का नाम अंकित होगा। यदि मतदाता अपने मतदान केन्द्र की जानकारी चाहता है, तो उसे मैसेज बाक्स में जाकर ECIPS लिख कर स्पेस देना होगा और फिर अपना मतदाता पहचान संख्या याने EPIC NUMBER लिखना है। फिर स्पेस देकर उसके बाद भाषा का चयन करते हुए याने हिन्दी या स्थानीय भाषा के लिए 1 या और अंग्रेज़ी भाषा के लिए 0 अर्थात ECIPS EPICNO 1 अथवा 0 टाइप करना है। फिर लिखे/ टाइप किए गए इस मैसेज को आयोग के निशुल्क नम्बर 1950 में भेज देना है । ऐसा करने से मतदाता को मतदान केन्द्र की जानकारी मिल जाती है ।
इसके अलावा यदि मतदाता को अपने क्षेत्र के बूथ लेवल अधिकारी से मतदाता सूची से संबंधित जानकारी के लिए संपंर्क करना हो तो उसका मोबाइल नंबर भी प्राप्त किया जा सकता है। इसके लिए मतदाता को अपने मोबाइल के मैसेज बाक्स पर जाकर ECICONTACT लिखना होगा फिर स्पेस देकर अपना मतदाता पहचान संख्या EPIC NUMBER टाइप करना होगा तथा स्पेस देते हुए चाही गई जानकारी हिन्दी या स्थानीय भाषा  के लिए 1 या और अंग्रेज़ी भाषा के लिए 0 टाइप करना है । याने  ECICONTACT EPICNO 1 या शून्य 0 टाइप कर आयोग के निशुल्क नम्बर 1950 में मैसेज भेजना है । इस प्रकार एसएमएस सेवा के माध्यम से मतदाता घर बैठे मतदाता सूची से संबंधित अपनी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं ।
 

12-04-2019
गश्त के दौरान आरपीएफ जवान अपनी वर्दी में लगाएंगे बॉडी वार्न कैमरा 

रायपुर। दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे में काम करने वाले आरपीएफ जवानों को रेल प्रशासन ने बॉडी वार्न कैमरा दिया है। इससे स्टेशन या फिर चलती ट्रेन में यात्रियों की दादागिरी को रोका जा सकता है। माना जाता है कि लगातार ट्रेन और स्टेशन में यात्री दादागिरी कर झूठ बोलते हैं लेकिन अब झूठ पकडऩे के लिए रेल प्रशासन की ओर से कैमरा मुहैया कराया गया है। इससे आरपीएफ के जवानों को फायदा मिलेगा। रेलवे में यात्रियों की बढ़ती शिकायत के चलते रायपुर रेलमंडल ने यह फैसला लिया है। अक्सर यात्रियों द्वारा रेलवे में शिकायत होती है कि आरपीएफ जवानों द्वारा लोगों से बदसलूकी की जाती है और कई बार वर्दी की धौस दिखाते हुए अवैध वसूली की जाती हैे।

लोगों की इसी शिकायत से बचने के लिए रेलमंडल ने आरपीएफ जवानों की बॉडी में कैमरा लगाने का फैसला लिया है। आज आरपीएफ जवानों की बॉडी में कैमरा बनाने वाली कंपनी द्वारा दोपहर को ट्रेनिंग दी गई। दो दिनों के भीतर यह स्टेशन में और ट्रेन में गश्त करने वाले जवानों में लगा दिया जाएगा। इसमें जीपीएस भी लगाया गया है। इससे ऑनलाइन भी देखा जा सकता है। साथ ही जीपीएस से यह भी पता चलेगा कि आरपीएफ जवान कहां ड्यूटी कर रहे हैं। रायपुर मंडल के लिए फिलहाल पांच कैमरे उपलब्ध कराए गए हैं। इससे यात्रियों की शिकायत दूर की जाएगी।

14-09-2018
Fraud : बैंक में नौकरी लगाने के नाम पर ऑनलाइन 12 लाख 6 हजार की ठगी

धमतरी। दुगली क्षेत्र के अंतर्गत गुहाननाला में बैंक में नौकरी लगाने के नाम पर एक व्यक्ति से ऑनलाइन धोखाधड़ी का मामला सामने आया है। व्यक्ति से 2017 से अभी तक अज्ञात व्यक्ति ने 12 लाख 6 हजार की ठगी कर चुका है। एक साल बीत जाने के बाद भी जब नौकरी नहीं लगी तो व्यक्ति ने कल थाना दुगली में अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ मामला दर्ज करवाया है। पुलिस में मामला पंजीबद्ध कर कर लिया है। पुलिस आगे की जांच में जुटी है।

पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार थाना दुगली क्षेत्र के गुहाननाला निवासी अजय कुमार को 26 मार्च 2017 को अज्ञात मोबाइल नंबर से फोन आया कि वह उसे बैंक में नौकरी लगा देगा। जिसके लिए उसे रकम देनी होगी  अजय कुमार अज्ञात फोन काल के झांसे में आ गया और लगातार वह नौकरी के नाम पर थोड़ा थोड़ा पैसा देता रहा ।इस तरह मार्च 2017 से मार्च 2018 तक कुल 12लाख 6 हजार 260रु ऑनलाइन जमा कर चुका था। ठगे जाने का एहसास होने पर वह नगरी थाना में कल रिपोर्ट दर्ज कराया। पुलिस ने अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ धारा 420 ,34 के तहत मामला पंजीबद्ध कर लिया है। पुलिस आगे की जांच में जुटी हुई है।

 

 
 
 
Advertise, Call Now - +91 76111 07804