GLIBS
11-04-2019
रायपुर ग्रामीण विधानसभा के कार्यालय का कल बृजमोहन अग्रवाल करेंगे उद्घाटन

रायपुर। रायपुर लोकसभा चुनाव के भाजपा प्रत्याशी सुनील सोनी के रायपुर ग्रामीण विधानसभा के कार्यालय का उद्घाटन  12 अप्रैल को शाम 5 बजे रायपुर दक्षिण के विधायक एवं चुनाव संचालक बृजमोहन अग्रवाल करेंगे।  जिला मीडिया प्रभारी राजकुमार राठी ने बताया कि इस अवसर पर रायपुर ग्रामीण विधानसभा के पूर्व विधायक नंदकुमार साहू, बिरगांव महापौर अम्बिका यदु, ग्रामीण विधानसभा चुनाव संचालक केदार गुप्ता, वरिष्ठ भाजपा नेता  ओमप्रकाश पुजारी, नगर पंचायत माना के अध्यक्ष श्यामा चक्रवर्ती, सभापति संजय यादव, पंकज निर्मलकर, शिवजलम दुबे, जितेंद्र धुरंधर, बिंदु माहेश्वरी, अकबर अली सहित चारो मंडल के अध्यक्ष रामेश्वर पटेल, रामलाल साहू, संतोष तिवारी, खेमकुमार सेन, शांतनु साहू, पार्षद लीलाधर चंद्राकर, शारदा पटेल, सुशीला धीवर, यशोदा साहू, जितेंद्र गोलछा, रविंद्र सिंह ठाकुर, हरिओम साहू, विलास सुतार, खेमराज भाकरे, ओमप्रकाश साहू, हेमलाल भारती, सरस्वती वर्मा, कुंती साहू, सुनीता वर्मा,  ममता साहू सहित अनेक पदाधिकारी एवं कार्यकर्ता उपस्थित रहेंगे।

 

04-04-2019
छिंदवाड़ा से नकुलनाथ, सीधी से अजय सिंह और खंडवा से अरुण यादव लड़ेंगे चुनाव

भोपाल। मध्यप्रदेश में कांग्रेस ने अपने प्रत्याशियों की लिस्ट गुरुवार को जारी की है। इसमें 12 उम्मीदवारों की घोषणा की गई है। सूची में सीधी से विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष रहे अजय सिंह को टिकट दिया गया। छिंदवाड़ा लोक सभा सीट से कांग्रेस ने सीएम कमलनाथ के पुत्र नकुलनाथ को चुनावी मैदान में उतारा है। खंडवा से अरुण यादव को टिकट दिया गया है। जबलपुर से विवेक तन्खा पार्टी के प्रत्याशी होंगे। इसके अलावा सागर से प्रभुसिंह ठाकुर और दमोह से प्रताप सिंह लोधी को उम्मीदवार बनाया गया है। सतना से राजाराम त्रिपाठी, रीवा से सिद्धार्थ तिवारी, मंडला से कमल मरावी, उज्जैन से बाबूलाल मालवीय, खरगोन से डॉ. गोविंद, और देवास से प्रहलाद टिपानिया को टिकट दिया गया है। 

25-02-2019
मुख्यमंत्री भूपेश बघेल रहेंगे आज उतर प्रदेश के प्रवास पर 

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल सोमवार को उत्तर प्रदेश के प्रवास पर रहेंगे। वे सुबह विधानसभा के सत्र में शामिल होने के बाद दोपहर 1 बजे रायपुर के विमान तल से लखनऊ के लिए रवाना होंगे। वे यहां से मुंजापुर-मसौली पहुंच कर  कबीर आश्रम में दोपहर 3.30 बजे से आयोजित कार्यक्रम में शामिल होंगे। वे यहां से लखनऊ जाएंगे तथा शाम 7.30 बजे रायपुर आएंगे। वे इसके उपरांत भक्त चरण दास के यहां आयोजित वैवाहिक कार्यक्रम में शामिल होंगे।

21-02-2019
राशन कार्डधारी परिवारों को मिलेगा प्रतिमाह 35 किलो चावल : खाद्यमंत्री  मो.अकबर

रायपुर। खाद्य, नागरिक आपूर्ति तथा उपभोक्ता संरक्षण, आवास एवं पर्यावरण, परिवहन एवं वन मंत्री मोहम्मद अकबर ने गुरुवार को विधानसभा में 4469 करोड़ 54 लाख 45 हजार रूपए की अनुदान मांगें प्रस्तुत की, जिसे सदन में सदस्यों द्वारा ध्वनि मत से पारित किया गया। इनमें  खाद्य, नागरिक आपूर्ति तथा उपभोक्ता संरक्षण विभाग के लिए 2745 करोड़ 45 लाख 90 हजार रूपए, आवास एवं पर्यावरण विभाग के लिए 565 करोड 95 लाख 30 हजार रूपए, परिवहन विभाग के लिए 73 करोड़ 07 लाख 26 हजार रूपए और वन विभाग के लिए 1085 करोड़ 5 लाख 99 हजार रूपए के प्रावधान शामिल हैं। 
मो. अकबर ने सदन में अनुदान मांगों पर चर्चा का उत्तर देते हुए कहा कि सार्वजनिक वितरण प्रणाली के तहत प्राथमिकता राशन कार्डधारी परिवारों को प्रति माह 35 किलो चावल दिया जाएगा। साथ ही अधिक सदस्यों वाले परिवारों के राशन कार्डों का युक्तियुक्तकरण किया जाएगा। इस निर्णय के क्रियान्वयन के लिए मुख्यमंत्री खाद्यान्न सहायता योजना के अंतर्गत वित्तीय वर्ष 2019-20 के लिए चार हजार करोड़ रूपए का प्रावधान किया गया है। उन्होंने बताया कि किसानों को आर्थिक रूप से सशक्त बनाने के लिए 2500 रूपए प्रति क्विंटल की दर से धान खरीदी की गई है, जिसके तहत 15 लाख 71 हजार किसानों से 80 लाख 37 हजार टन धान की खरीदी की गई है, जिन्हें 20 हजार 92 करोड़ रूपए की राशि का भुगतान किया जा रहा है। यह ऐतिहासिक निर्णय है कि देश में पहली बार किसानों से सबसे अधिक कीमत पर धान खरीदी की जा रही है। इसके लिए आगामी वित्तीय वर्ष में 900 करोड़ रूपए का प्रावधान किया गया है। इसके साथ ही प्रदेश के उचित मूल्य दुकानों के कम्प्यूटरीकरण के लिए 29 करोड़ 80 लाख रूपए, उचित मूल्य दुकानों को आर्थिक सहायता के लिए 50 करोड़ रूपए, पहुंच विहीन दुकानों में अग्रिम भण्डारण के लिए ढाई करोड़ रूपए, शक्कर के लिए 100 करोड़ रूपए, भण्डारण क्षमता विकास के लिए 10 करोड़ 50 लाख रूपए का बजट प्रावधान किया गया है। 
आवास एवं पर्यावरण विभाग की अनुदान मांगों पर चर्चा करते हुए मोहम्मद अकबर ने घोषणा की कि रायपुर विकास प्राधिकरण की महत्वपूर्ण योजना नगर विकास योजना- 4 (कमल विहार) के अनुभव बहुत अच्छे नहीं होने से राज्य सरकार ने नगर विकास योजना-5 जिसमें 6 गांव सम्मिलित थे, को भू-स्वामियों के हित में समाप्त कर दिया है। उन्होंने कहा कि जिनकी भूमि ली गई है, उन प्रभावित भू-स्वामियों को नियमानुसार 35 प्रतिशत भूमि दी जाएगी। उन्होंने कहा कि विधानसभा अध्यक्ष के निर्देशों के अनुरूप विधायक काॅलोनी के सड़क मार्ग में सुधार के लिए स्थल निरीक्षण किया जाएगा और जो भी बेहतर विकल्प होगा, उस पर काम किया जाएगा।  
 छत्तीसगढ़ पर्यावरण संरक्षण मंडल से संबंधित अनुदान मांगों पर चर्चा करते हुए मोहम्मद अकबर ने बताया कि रायपुर-कोरबा-रायगढ़-जांजगीर चांपा  में प्रदूषण की जांच के लिए आईआईटी मुंबई एवं आईआईटी खड़गपुर के द्वारा परीक्षण किया गया था। उनके प्रतिवेदन के आधार पर एक्शन प्लान बनाया गया है, उसके अनुसार कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि भारतीय राष्ट्रीय जल संसाधन प्रबोधन कार्यक्रम (मीनार्स) के तहत प्रमुख प्राकृतिक जल स्त्रोतों पर निगरानी की जा रही है। इस कार्यक्रम में प्रदेश की मुख्य नदियां-महानदी, शिवनाथ, खारून, अरपा, हसदेव, केलो, शंखनी-डंकनी, मांड, इंद्रावती नदियां शामिल हैं। इसी तरह राष्ट्रीय वायु गुणवत्ता प्रबोधन कार्यक्रम (एनएक्यूएम) के तहत प्रदेश के चार प्रमुख शहरों रायपुर, कोरबा, बिलासपुर एवं दुर्ग-भिलाई में माॅनिटरिंग की जा रही है। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा एकीकृत उप नगर की स्थापना हेतु नीति बनाई गई है, जिसके लिए रायपुर में 10 हेक्टेयर, अटलनगर में 30 हेक्टेयर, बिलासपुर, दुर्ग-भिलाई के लिए 8 हेक्टेयर तथा अन्य विशेष निवेश क्षेत्र के लिए न्यूनतम 5 हेक्टेयर भूमि का क्षेत्र रखा गया है। 
मो. अकबर ने वन विभाग की अनुदान मांगों पर चर्चा में घोषणा की कि अब भोरमदेव टाइगर रिजर्व नहीं बनेगा। उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष के निर्देश पर बताया कि कोरबा जिले में लेमरू प्रोजेक्ट बंद नहीं किया गया है। साथ ही कटरा रेस्ट हाउस को बेहतर करने के लिए कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बताया कि तेंदूपत्ता संग्राहकों को अब प्रति मानक बोरा 2500 रूपए के बदले चार हजार रूपए संग्रहण पारिश्रमिक दिया जाएगा, जो गत वर्ष की तुलना में 60 प्रतिशत अधिक है। इससे लगभग 12 लाख 50 हजार वनवासी लाभान्वित होंगे। मो. अकबर ने बताया कि चरण पादुका योजना बंद नहीं की गई है। अब तेंदूपत्ता संग्राहक को उनके संग्रहण दर की पूर्ण राशि प्रदान की जाएगी, उससे वे अपनी पसंद के चरणपादुका खरीद सकेंगे। बजट में लघु वनोपज संग्रहण कार्य के लिए 50 करोड़ 98 लाख रूपए का प्रावधान किया गया है। 
 राज्य शासन की महत्वाकांक्षी योजना ‘नरवा, गरूवा, घुरवा एवं बारी’ विकास योजना के अंतर्गत वन क्षेत्रों में नरवा योजना के क्रियान्वयन के लिए आवश्यक कार्रवाई की जाएगी। इस योजना के तहत कैम्पा मद से वन क्षेत्रों के नदी नालों का रिज टू वैली आधार पर चयन कर उनमें वाटर हार्वेस्टिंग स्ट्रक्चर्स का निर्माण किया जाएगा। इसके लिए 50 करोड़ रूपए का प्रावधान किया गया है। वन मंत्री ने कहा कि राज्य सरकार ने वन्य प्राणी द्वारा की जाने वाली जनहानि के बदले दी गई आर्थिक सहायता में बढ़ोत्तरी की गई है। ऐसे प्रकरणों में मृत्यु होने पर चार लाख से बढ़ाकर 6 लाख रूपए, स्थाई अपंग होने पर 2 लाख रूपए, घायल होने पर इलाज के लिए अधिकतम 69 हजार 100 रूपए और  मवेशियों के मारे जाने पर 30 हजार रूपए दिए जाने का प्रावधान किया गया है। उन्होंने बताया कि आगामी वित्तीय वर्ष में हरियाली प्रसार योजना के लिए 53 करोड़ रूपए, मुख्यमंत्री बाड़ी बांस योजना के लिए 12 करोड़ रूपए, वृक्षारोपण कार्यों केे लिए बड़े पौधे (टाॅल प्लांट 2-3 वर्षों के) के लिए 20 करोड़ रूपए प्रावधानित किए गए हैं। इसी तरह राज्य की संयुक्त वन प्रबंधन का प्रशिक्षण एवं रोजगारमूलक कार्य हेतु 694.55 लाख रूपए का प्रावधान किया गया है। साथ ही समस्त वृक्षारोपणों का जीआईएस पद्धति से अनुश्रवण एवं मूल्यांकन के लिए एक डेशबोर्ड तैयार किया जा रहा है। इसमें प्रत्येक वृक्षारोपण की रियल टाइम की जानकारी प्राप्त होगी। इस हेतु 150 लाख रूपए प्रावधानित किए गए हैं। 
 परिवहन मंत्री ने परिवहन विभाग के अनुदान मांगों पर चर्चा करते हुए घोषणा की कि प्रदेश में पंजीकृत आॅटो रिक्शा को वर्षों से तीन-तीन माह के लिए अस्थाई परमिट जारी किया जा रहा था। वाहन स्वामी की इस कठिनाई को ध्यान में रखते हुए अब पांच वर्षों के लिए स्थाई परमिट देने की सुविधा दी जा रही है। उन्होंने बताया कि केन्द्र शासन के सहयोग से राज्य में ड्रायविंग ट्रेनिंग एवं रिसर्च इंस्टीट्यूट स्थापित करने की योजना है, जिसके लिए केन्द्र शासन से 17 करोड़ रूपए की स्वीकृति प्रदान की गई है। 
  अनुदान मांगों पर चर्चा में सौरभ सिंह, बृहस्पति सिंह, अजय चन्द्राकर, देवव्रत सिंह, केशव चन्द्रा, रेखचंद जैन, प्रमोद शर्मा, विकास उपाध्याय, विक्रम मंडावी, धरमजीत सिंह, नारायण चंदेल, डाॅ. रेणु जोगी, इंदु बंजारे, छन्नी चंदू साहू और ममता चंद्राकर ने हिस्सा लिया।

21-02-2019
विधानसभा के समिति कक्ष में चल रही सीएम भूपेश बघेल कैबिनेट की बैठक, होंगे तमाम अहम फैसले 

रायपुर। विधानसभा के समिति कक्ष में इस वक्त मुख्यमंत्री भूपेश बघेल कैबिनेट की बैठक शुरू हो चुकी है। इसमें तमाम अहम फैसले लिए जाएंगे। इनका ऐलान भी विधानसभा में ही किया जाएगा। मौजूदा विधानसभा सत्र की वजह से इस बैठक को काफी खास माना जा रहा है।

मुख्यमंत्री के विभागों की अनुदान मांगों पर चर्चा के पहले ये बैठक हो रही है, ऐसे में माना जा रहा है कि मुख्यमंत्री के विधानसभा में  की जाने वाली अहम घोषणाओं को लेकर आज की बैठक में चर्चा होगी।

क्या-क्या होगा खास:

सदन में प्रस्तुत होने वाले विधेयकों को लेकर भी इस बैठक में चर्चा की जाएगी ।  कैबिनेट से इसकी मंजूरी भी ली जाएगी। इस बार विधानसभा में कुछ अहम विधेयक पेश होने वाले हैं, ऐसे में आज की बैठक में विधेयकों पर चर्चा के साथ-साथ किसानों के मुद्दे पर कर्मचारियों के मुद्दे पर सीएम भूपेश बघेल की होने वाली घोषणाओं को लेकर भी चर्चा की जाएगी।  इन विधायकों को बैठक में मंजूरी मिलने के बाद सिलसिलेवार तरीके से विधानसभा के पटल पर भी रखा जाएगा। इस बैठक के बारें में मीडिया को कुछ भी नहीं बताया जाएगा।

19-02-2019
CM Bhupesh Baghel: सीएम भूपेश बघेल 20 फरवरी को धमतरी और दुर्ग जिले के कार्यक्रमों में होंगे शामिल

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल 20 फरवरी को धमतरी और दुर्ग जिले में आयोजित विभिन्न कार्यक्रमों में शामिल होंगे। निर्धारित दौरा कार्यक्रम के अनुसार मुख्यमंत्री 20 फरवरी को सुबह 11 बजे विधानसभा पहुंचेंगे। वे दोपहर 1.20 बजे शंकरनगर के राजीव भवन में अभिकर्ता संघ के कार्यक्रम में शामिल होंगे। वे पुलिस परेड ग्राऊण्ड से हेलीकॉप्टर से प्रस्थान कर दोपहर ढाई बजे जिला मुख्यालय धमतरी पहुंचेंगे और यहां स्थानीय कार्यक्रम में शामिल होंगे। वे 3.5 बजे से हरदिहा साहू समाज के सामूहिक विवाह कार्यक्रम में शामिल होंगे। मुख्यमंत्री हेलीकॉप्टर से रवाना होकर शाम 4.25 बजे दुर्ग जिले के भिलाई पहुंचेंगे और रिसाली सेक्टर के दशहरा मैदान में नागरिक अभिनंदन समारोह में शामिल होंगे। वे शाम 5.45 बजे हेलीकॉप्टर से रायपुर लौट आएंगे।

19-02-2019
स्वास्थ्य सुविधा के लिए विधायक विकास उपाध्याय ने सदन में उठाई आवाज, विस अध्यक्ष ने की तारीफ

रायपुर। विधानसभा के बजट सत्र में मंगलवार को रायपुर पश्चिम विधानसभा के विधायक विकास उपाध्याय ने स्वास्थ्य, पंचायत विभाग की बजट चर्चा में हिस्सा लिया। उन्होंने स्वास्थ विभाग से 

आयुर्वेदिक महाविद्यालय से संचालित 50 बिस्तर के ओटी को पुनः संचालन की मांग की। इसके साथ ही गुढ़ियारी में सौ बिस्तर के अस्पताल बनाए जाने की प्राथमिकता पर जोर दिया। इसके अलावा विधायक विकास उपाध्याय ने स्वास्थ संबंधित और भी मांगे स्वास्थ्य विभाग से की। उन्होंने अम्बेडकर अस्पताल में मरीजों के सर्वसुविधा युक्त प्रतीक्षालय और दालभात केन्द्र बनाए जाने, एम्स, अम्बेडकर और सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल और जिला अस्पताल के बीच मरीजों और उनके परिजनों के लिए विशेष वाहन सुविधा की मांग की। उन्होंने रायपुर शहर में मितानिनों की संख्या बढ़ाए जाने, चलित मोबाइल यूनिट का संचालन रायपुर पश्चिम में बढ़ाने, शहर में जेनरिक दवाओं की बिक्री बढ़ाने, जैनरिक मेडिकल स्टोर खोलने, शहर में सरकारी शव वाहन की संख्या बढ़ाने, राठौर चौक में पुनः स्वास्थ्य केन्द्र खोलने की मांग सदन में की।  

विधायक विकास उपाध्याय ने मुख्यमंत्री स्वस्थ्य बीमा की नई योजना शुरू होने तक संचालन जारी रखने और निजी डॉक्टरों के स्मार्ट कार्ड भुगतान के लंबित मामले को जल्द हल करने की सहित स्मार्ट कार्ड से निजी अस्पतालों में इलाज जल्द शुरू करने की मांग भी की। 

इन मांगों के बाद विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत ने विधायक विकास उपाध्याय की जमकर तारीफ की। विधानसभा अध्यक्ष डॉ.महंत ने अन्य विधायकों को उदाहरण देकर बताया कि बजट अनुदान मांगों में विकास उपाध्याय की तरह अपने क्षेत्र की विकास की बात करनी चहिए।

19-02-2019
अंबिकापुर लोकसभा चुनाव में ये हो सकते हैं कांग्रेस के संभावित उम्मीदवार 

अम्बिकापुर। लोकसभा के आम चुनाव नजदीक आते ही कांग्रेस ने विधानसभा की तर्ज पर लोकसभा चुनाव को लेकर प्रत्याशी चयन की कवायद शुरू कर दी है। कांग्रेस के राष्ट्रीय सचिव व प्रदेश प्रभारी तथा सरगुजा लोक सभा सीट के अवसर व अरुण उरांव सरगुजा दौरे पर पहुंचे।  यहां उन्होंने कांग्रेस कार्यालय कोठी घर में लोकसभा सीट के सभी आठों उम्मीदवारों की बैठक ली। इस दौरान प्रेम नगर के विधायक खींवसर सिंह अंबिकापुर महापौर डॉ अजय तिर्की सूरजपुर के भानु प्रताप सिंह महेश्वर सिंह सहित 8 प्रत्याशियों के नाम सामने आए हैं।  इसके बाद कार्यकर्ताओं से भी रायशुमारी की गई।

कार्यकर्ताओं की भी ली बैठक:

लोकसभा का चुनाव सामने हैं जिसको लेकर सरगुजा लोक सभा सीट के सभी आठों विधानसभा सीट के कांग्रेस कमेटी कांग्रेसी विभिन्न प्रकोष्ठ के पदाधिकारी महिला कांग्रेस कांग्रेस सेवा दल युवा कांग्रेस एनएसयूआई के पदाधिकारियों समेत कांग्रेस सक्रिय ऊर्जावान कार्यकर्तार्ओं आदि की बैठक ली।  कर लोकसभा सीट के प्रत्याशी के चयन हेतु चचार्एं की जा रही है चुनाव लड़ने वाले इच्छुक नेताओं की सूची तैयार की जा रही है लोकसभा सीट से चुनाव लड़ने वाले उम्मीदवारों की सूची तैयार कर प्रदेश कांग्रेस कमेटी को सौंपी जाएगी।

17-02-2019
राज्योत्सव में बाहरी कलाकारों के पीछे खर्च हुए करोड़ों रुपए

रायपुर। विधानसभा में चल रहे सत्र के दौरान यह बात सामने आई है कि वित्तीय वर्ष 2015 से 2018 के बीच हुए राज्योत्सव महोत्सव में संस्कृति विभाग ने बाहरी कलाकारों पर करीब 3 करोड़ 47 लाख खर्च कर किए। वहीं प्रदेश के कलाकारों के लिए करीब 1 करोेड़ 10 लाख ही खर्च किए। इसके अलावा वित्तीय वर्ष 2016 से अब तक विभाग ने प्रदेश में कराए गए कार्यक्रमों के लिए लगभग 46 करोड़ 76 लाख का भुगतान किया गया है। 13 फरवरी को विधानसभा में कांग्रेस विधायक अरुण वोरा ने प्रश्न किया था कि संस्कृति विभाग ने वर्ष 2015-16, 2016-17 एवं 2017-18 में प्रदेश एवं देश के अन्य स्थानों पर कहां-कहां महोत्सवों का आयोजन किया।

इन आयोजनों में कुल कितनी राशि खर्च की गई। साथ ही इन आयोजनों में भाग लेने वाले छत्तीसगढ़ के कलाकारों पर कितनी राशि एवं देश के अन्य कलाकारों पर कितनी राशि खर्च की गई। संस्कृति मंत्री ताम्रध्वज साहू की तरफ से जवाब आया-संस्कृति विभाग ने 2015-16 में राज्योत्सव महोत्सव रायपुर में, वर्ष 2016-17 में राज्योत्सव महोत्सव रायपुर तथा नवागढ़-बेमेतरा में एवं 2017-18 में राज्योत्सव महोत्सव रायपुर में आयोजित किया। इन आयोजनों में कुल 8 करोड़ 59 लाख 3 हजार 292 रुपए राशि खर्च की गई। इन आयोजनों में भाग लेने वाले छत्तीसगढ़ के कलाकारों पर 1 करोड़ 10 लाख 83 हजार 126 रुपए देश के अन्य कलाकारों पर 3 करोड़ 47 लाख 85 हजार 261 रुपए राशि खर्च की गई। वहीं कांग्रेस विधायक दलेश्वर साहू का सवाल था कि वर्ष 2016 से 18 जनवरी 2019 तक की स्थिति में प्रदेश में संस्कृति विभाग ने कितने कार्यक्रम कराए गए? भुगतान की राशि कितनी है? संस्कृति मंत्री ताम्रध्वज साहू की ओर से जवाब आया- इस अवधि में संस्कृति विभाग ने कुल 4 हजार 989 सांस्कृतिक कार्यक्रम कराए। इन कार्यक्रमों के लिए कुल 46 करोड़ 76 लाख 76 हजार 786 रुपए का भुगतान किया गया।

 

13-02-2019
जेलों में बंद कैदियों की मौत का मामला विधायक केशव चंद्रा ने जोरों से उठाया

रायपुर। छत्तीसगढ़ राज्य विधानसभा में बुधवार को जेलों में निरुद्ध विचाराधीन बंदियों और कैदियों की मौत का मामला जोरों से गूंजा। विधायक केशव चंद्रा ने सदन में यह मामला जोरों उठाया। गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ने सदस्य के सवालों का जवाब देते हुए कहा कि 1 अप्रैल 2016 से 31 मार्च 2017 तक 53 और 1 अप्रैल 2017 से लेकर 31 मार्च 2018 तक कुल 57 कैदियों की मृत्यु हुई। केशव चंद्रा ने जांजगीर-चाम्पा जेल में मृत कैदी गौरव तम्बोली का मुद्दा उठाया। चंद्रा ने कहा- मृतक कैदी की पत्नी ने शिकायत की है कि जेलर की लापरवाही से कैदी की मौत हुई। बीमार कैदी को वक्त पर इलाज नहीं मिला, गृहमंत्री ने कहा- विचाराधीन कैदी गौरव तम्बोली 5 अगस्त 2018 को जेल दाखिल हुआ था। 8 जनवरी को तबियत खराब होने पर जेल डॉक्टर एनके ध्रुव ने बंदी का उपचार किया। बंदी स्वस्थ था। रात में तबियत बिगड़ने पर उसे जिला 9 किलोमीटर दूर अस्पताल दाखिल कराया गया। जहां उपचार के दौरान रात साढ़े 9 बजे मृत घोषित किया गया।

13-02-2019
14 सौ करोड़ का मोबाइल बांटकर बर्बाद कर दिया, अब हम किसानों का ऋण माफ कर रहे हैं तो दिक्कत क्या : भूपेश बघेल

रायपुर। छत्तीसगढ़ राज्य विधानसभा में बजट सत्र के तीसरे दिन बुधवार को सामान्य चर्चा में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सभी विधायकों का धन्यवाद ज्ञापित किया। सीएम बघेल ने इस दौरान पिछली भाजपा सरकार की कार्यशैली और मौजूदा समय में विपक्ष के तौर पर कांग्रेस सरकार पर उठाए गए सवाल को लेकर जमकर निशाना साधा। भाजपा पर निधाना साधते हुए भूपेश बघेल ने कहा कि भाजपा सरकार ने मोबाइल बांटने के लिए 14 सौ करोड़ रुपए बर्बाद कर दिया। तीन उद्योगों को स्टाम्प ड्युटी में करोड़ों की छूट दी। अब हमारी सरकार में जब किसानों का ऋण माफ कर रहे हैं तो विपक्ष को दिक्कत क्या है? किसानों ने हमारी सरकार बनाई जो आज खुश हैं।
वहीं भूपेश बघेल ने कहा कि किसान खुशहाल होगा तभी प्रदेश खुशहाल होगा। आज हमने 10 हजार करोड़ का ऋण माफ किया है। उन्होंने कहा कि हमने कहा हम कृषि क्रॉप लोन हम माफ करेंगें ये किसान इस बात को समझ गए विपक्ष ट्रेक्टर वालो के पीछे न पड़े रहे। धान बोनस के लिए विपक्ष कहता रहा 2100 रुपए समर्थन मूल्य और बोनस देंगें लेकिन दिए नहीं हमरा ये पहला राज्य है जहां 2500 रुपए समर्थन मूल्य में हम धान ले रहे हैं। किसानों का जलकर भी हमने माफ किया है। गन्ने के किसान दलहन-तिलहन के किसानों के लिए भी बजट में भी प्रावधान दिए हैं। मूसली उगाने के बजट में कोई प्रावधान नहीं था लेकिन पिछली सरकार ने रतनजोत लगाने में करोड़ो रुपए फूंके हैंङ्घ ह्लडीजल नहीं अब खड़ी से, डीजल मिलेगा बाड़ी सेह्व इसमें सैंकड़ो करोड़ रुपये बर्बाद कर दिए और 1 लीटर भी डीजल बना हो तो बताओ?ङ्घ इसे खा कर बच्चे अलग बीमार हो गए । आज प्रदेश में मवेशियों की स्थिति के चलते लोग परेशान है। कोई इसे दान नही लेना चाहता कोई खरीदना नहीं चाहता। ये गंभीर समस्या है जो मवेशी किसानों की अर्थव्यवस्था का मजबूत आधार था वो आज उनकी कमजोरी बन गया है।

11-02-2019
विधानसभा में भारी हंगामा, दिनभर के लिए कार्यवाही स्थगित

 

रायपुर। छत्तीसगढ़ विधानसभा में सोमवार को प्रमुख विपक्षी दल के विधायकों ने भारी हंगामा किया। हंगामा करते हुए विपक्षी पार्टी के विधायक वेल में पहुंच गए वेल में पहुंचते ही सभी विधायक स्वयं निलंबित हो गए। वहीं विधानसभा की कार्यवाही कल तक के लिए स्थगित भी कर दिया गया। सोमवार को विधानसभा में विपक्ष स्थगन प्रस्ताव को लेकर चर्चा की मांग कर रहा था इस मांग को लेकर नारेबाजी करते हुए विपक्षी दल के विधायक वेल पर पहुंचकर नारेबाजी करने लगे। वेल पर पहुंचते ही विधायक स्वयमेव निलंबित हो गए। सभापति ने विपक्षी सदस्यों को बाहर नारेबाजी करने की सलाह दी पर नारेबाजी कर रहे सदस्य नहीं माने और नारेबाजी करते रहे। बाद में निलंबित विधायक विधानसभा परिसर स्थित गांधी प्रतिमा के सामने विरोध स्वरूप बैठ गए।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804