GLIBS
20-05-2019
मायावती ने सोनिया से मिलने से किया इनकार,  कमलनाथ सरकार मुसीबत में

 

नई दिल्ली। एक्जिट पोल के नतीजों का सबसे ज्यादा असर मध्यप्रदेश में देखने को मिल रहा है। एग्जिट पोल के नतीजे से उत्साहित भाजपा ने प्रदेश सरकार को फ्लोर टेस्ट  के लिए चुनौती दी है। भाजपा का मानना है कि मौजूदा सरकार अल्पमत में है, क्योंकि कांग्रेस के पास कुल 114 विधायक हैं और बहुमत के लिए 116 का अंकाड़ा चाहिए। इसे पूरा करने के लिए कांग्रेस ने दो बसपा विधायकों से समर्थन लिया है। कांग्रेस की मुसीबत अब मायावती ने और बढ़ा दी है। दरअसल मायावती और सोनिया गांधी के बीच मुलाकात के कयास लगाए जा रहे थे। लेकिन मायावती राहुल गांधी और सोनिया गांधी से नहीं मिल रही हैं। बसपा नेता सतीश चंद्र मिश्रा ने मीडिया से कहा है कि मायावती  सोनिया गांधी और राहुल गांधी से नहीं मिलने वाली हैं। वह आज लखनऊ में ही रहेंगी। मायावती की नाराजगी का एक कारण यह भी है कि कांग्रेस ने गुना से बसपा के लोकसभा उम्मीदवार को अपनी पार्टी में शामिल कर लिया था। बसपा सुप्रीमो ने इस पर बेहद तल्ख टिप्पणी की थी। वैसे पूरे लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान मायावती ने सीधे तौर पर कभी गांधी परिवार पर हमला नहीं किया, लेकिन उन्होंने कांग्रेस को घेरने का कोई मौका नहीं छोड़ा। अब कमलनाथ सपा और बसपा के विधायकों को मंत्रिमंडल में शामिल कर सकते हैं। कहा यह भी जा रहा है कि एक दो निर्दलीय विधायकों को भी मंत्री पद मिल सकता है। 

04-05-2019
ये हैं अंबेडकर अस्पताल जहां बेसहारा मरीज का इलाज करने डॉक्टरों ने किया इनकार 

रायपुर। लीला शाह नामक एक अधेड़ महिला गंभीर हालत में अंबेडकर अस्पताल में इलाज कराने के लिए भटक रही है। बीमार महिला का इलाज अंबेडकर अस्पताल के डॉक्टर नहीं कर रहे हैं। यह अधेड़ महिला शनिवार दोपहर 12 बजे से अंबेडकर अस्पताल सर्जरी विभाग के सामने स्ट्रेचर पर पड़ी है। इन्हें देखने वाला तक कोई नहीं है, जबकि यहां से सैकड़ों बार अस्पताल के डॉक्टर स्टाफ नर्स समेत वार्ड ब्याय गुजर रहे हैं, लेकिन किसी ने भी सुध नहीं ली है। अस्पताल परिसर में दो सामाजिक संस्थाएं लावारिस और बेसहारा मरीजों का निशुल्क इलाज करने का दावा करते हैं, लेकिन इन दावों का पोल उस समय खुली जब महिला सुबह से लेकर रात तक बिना उपचार के लाचार पड़ी रही और उसका इलाज करने से डॉक्टरों ने इनकार कर दिया। जबकि महिला की ओपीडी पर्ची डॉ. संतोष कुमार सोनकर के नाम से कटी है, लेकिन इलाज नहीं किया जा रहा है। महिला इलाज के लिए लोगों से हाथ फैला रही है। लेकिन कोई भी इलाज कराने के लिए सामने नहीं आ रहा है।

 

16-04-2019
Supreme Court : सुप्रीमकोर्ट ने की मायावती की याचिका खारिज, बैन के खिलाफ जल्द सुनवाई से किया इनकार

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती की दायर याचि​का को खारिज कर दिया है। सर्वोच्च अदालत ने मंगलवार याचिका पर जल्द सुनवाई करने से इनकार कर दिया, जिसमें उन्होंने चुनाव आयोग के प्रचार पर रोक लगाने के फैसले को चुनौती दी थी। इस मामले को ऐडवोकेट दुष्यंत दवे ने सुप्रीम कोर्ट के समक्ष उठाया था, लेकिन अदालत ने मायावती को फौरी तौर पर राहत देने से इनकार कर दिया। मायावती के चुनाव प्रचार करने पर आयोग ने 48 घंटे की रोक लगाई हुई है।
चुनाव आयोग ने अलग-अलग आदेश जारी कर कहा था कि दोनों को चुनाव प्रचार करने से ‘रोका गया है।’ मायावती ने देवबंद में मुस्लिमों से अपील की थी कि एक पार्टी विशेष को वोट नहीं दें। इसे लेकर उन्हें नोटिस जारी किया गया था। चुनाव आयोग ने कहा कि बसपा प्रमुख ने प्रथमदृष्ट्या आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन किया है।
आदित्यनाथ ने मेरठ में एक रैली को संबोधित करते हुए ‘अली’ और ‘‘बजरंग बली’ की टिप्पणी की थी जिसपर उन्हें नोटिस जारी किया गया था। 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804