GLIBS
14-07-2019
पंजाब कैबिनेट में मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने दिया पद से इस्तीफा

नई दिल्ली। पंजाब सरकार में मंत्री पद से नवजोत सिंह सिद्धू ने अपना इस्तीफा सौंप दिया है। इस बात की जानकारी खुद नवजोत सिंह सिद्धू ने एक ट्वीट के जरिए दी है। सिद्धू ने ट्वीट करके लिखा है कि मैंने 10 जून को ही कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को अपना इस्तीफा सौंप दिया था। उन्होंने अपने इस्तीफे में लिखा है कि मैं पंजाब कैबिनेट में मंत्रीपद से इस्तीफा देता हूं। यह पत्र 10 जून 2019 को सिद्धू ने राहुल गांधी को लिखा था। लंबे समय से चल रहा थी तनातनी गौर करने वाली बात है कि सिद्धू का पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्नट अमरिंदर सिंह के साथ काफी लंबे समय से विवाद चल रहा था, जिसकी वजह से वह पिछले कुई दिनों से सुर्खियों में भी हैं। दोनों नेताओं के बीच तल्खी इस कदर बढ़ गई कि सिद्धू ने कैबिनेट की बैठक में भी हिस्सा नहीं लिया था। दरअसल लोकसभा चुनाव में कांग्रेस के खराब प्रदर्शन के बाद नवजोत सिंह सिद्धू को पार्टी के कई नेताओं ने निशाना बनाया था, जिससे सिद्धू काफी नाराज चल रहे थे।

12-07-2019
एडीसी बैंक मानहानि मामले में पेशी के लिए गुजरात पहुंचे राहुल गांधी

अहमदाबाद। कांग्रेस नेता राहुल गांधी अहमदाबाद जिला सहकारी बैंक (एडीसी बैंक) में नोटबंदी के दौरान बड़े पैमाने पर रद्द किये गये नोट जमा किये जाने के बारे दिये गये बयानों को लेकर दायर मानहानि के एक मामले में एक अदालत में पेशी के सिलसिले में शुक्रवार यहां पहुंच गये। दोपहर साढ़े बारह बजे यहां सरदार वल्लभभाई पटेल अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर पहुंचे राहुल गांधी वहां से सर्किट हाऊस चले गये। आज वह गुजरात कांग्रेस की दो बैठकोे में भी भाग लेंगे। वह दोपहर बाद ढाई बजे यहां मेट्रो कोर्ट परिसर में कोर्ट संख्या 13 में अतिरिक्त मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट की अदालत में पेश होंगे। कांग्रेस ने एक बयान में कहा है राहुल गांधी के खिलाफ देशभर में दायर 20 से अधिक मानहानि के मुकदमें उन्हे डराने और प्रताड़ित करने की नीयत से राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और भाजपा के कायकर्ताओं ने किये हैं पर राहुल गांधी बिना इनसे भयभीत हुए इनका सामना करेंगे और सभी मामलों में निर्भिकता के साथ अदालतों में अपना पक्ष रखेंगे।

पिछले साल अगस्त माह में एडीसी बैंक के चेयरमैन अजय पटेल ने अदालत में मानहानि का मामला दर्ज कराया था। इस बैंक के निदेशकों में भाजपा के अध्यक्ष और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह भी शामिल हैं। उन्होंने इस मामले में कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला को भी आरोपी बनाया है। अतिरिक्त मुख्य मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट की अदालत ने इस मामले को प्रथम दृष्टया मानहानि का मामला मानते हुए राहुल गांधी और सुरजेवाला को समन जारी किया था। अदालत ने गत 27 अगस्त को इस मामले की जांच के आदेश दिये थे और बाद में साक्ष्यों की जांच की गयी थी।

पिछले साल जून में सुरजेवाला ने एक संवाददाता सम्मेलन में आरोप लगाया था कि इस बैंक में आठ नवंबर 2016 को नोटबंदी की घोषणा के बाद मात्र पांच दिन में ही 745.58 करोड रुपए के पुराने रद्द किये गये 500 और 1000 रुपए के नोट बदल दिये थे। उस अवधि में देश के कुल 370 जिला सहकारी बैंक में नोटों की ऐसी यह सबसे बड़ी अदला बदली थी। उन्होंने आरोप लगाया था कि बैंक के चेयरमैन पटेल स्वयं भाजपा के एक नेता हैं और शाह के करीबी सहयोगी हैं। उन्होंने यह भी आरोप लगाया था कि गुजरात में भाजपा नेताओं की अध्यक्षता वाले 11 जिला सहकारी बैंकों ने नोटबंदी के पहले पांच दिन में ही 3,118.51 करोड़ रुपए जमा कराये गये थे। राहुल गांधी ने भी इस मामले में शाह और भाजपा पर निशाना साधते हुए 22 जून को ट्विट किया था- बधाई हो अमित शाह जी, निदेशक, अहमदाबाद जिला सहकारी बैंक। आपके बैंक ने पुराने नोटों को बदलने में पहला पुरस्कार हासिल किया है। महज पांच दिन में ही 750 करोड़ रुपए।

करोड़ो भारतीय जिनकी जिंदगी नोटबंदी ने बर्बाद कर दी थी, आपकी इस उपलब्धि को सलाम करते हैं। पटेल ने आरोप लगाया कि कांग्रेस नेताओं के झूठे आरोपों ने बैंक की छवि को नुकसान पहुंचाया है और इसके लिए उनके खिलाफ मानहानि का मामला चलाया जाना चाहिए । ज्ञातव्य है कि गुजरात में इसके अलावा राहुल गांधी के खिलाफ मानहानि के दो अन्य मामलों में भी समन जारी हो चुके हैं। अहमदाबाद की एक अन्य मेट्रोपॉलिटन अदालत ने जबलपुर की एक चुनावी रैली में राहुल गांधी द्वारा अमित शाह को हत्या का अभियुक्त कहे जाने को लेकर यहां महानगरपालिका में भाजपा के एक पार्षद की ओर दायर मानहानि के मामले में गत मंगलवार को ही दोबारा समन जारी कर उन्हें नौ अगस्त को पेश होने को कहा है। बेंगलुरू की एक रैली में सभी मोदी चोर हैं कहने को लेकर सूरत में विधायक पूर्णेश मोदी की ओर से दायर मानहानि के एक अन्य मामले में भी मंगलवार को वहां की अदालत ने राहुल गांधी के खिलाफ समन जारी कर 16 जुलाई को पेश होने कहा है।

12-07-2019
राहुल गांधी आज मानहानि मामले में अहमदाबाद कोर्ट में होंगे पेश

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी आपराधिक मानहानि के मुकदमे की सुनवाई के लिए आज मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश होंगे। उनके खिलाफ यह मामला अहमदाबाद जिला सहकारी बैंक (एडीसीबी) और उसके चेयरमैन अजय पटेल ने दर्ज कराया है। 
गुजरात कांग्रेस प्रवक्ता मनीष दोषी ने राहुल की पेशी के बारे में जानकारी दी। साथ ही बताया कि पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला को भी समन जारी हुआ है। 

पिछले साल राहुल और सुरजेवाला ने दावा किया था कि अहमदाबाद जिला सहकारी बैंक नोटबंदी के पांच दिन के भीतर 745.59 करोड़ रुपये के बंद हो चुके नोट बदलने के घोटाले में शामिल था। इसके बाद यह मुकदमा दायर किया गया था। गृह मंत्री अमित शाह एडीसी बैंक के निदेशकों में से एक हैं।

कांग्रेस के दोनों नेताओं के खिलाफ प्रथम दृष्टया सबूतों को देखते हुए अदालत ने नौ अप्रैल को समन जारी किए थे। शिकायतकर्ताओं ने कहा था कि इन्होंने बैंक के खिलाफ ‘झूठे और मानहानिकारक आरोप’ लगाए हैं। समन देने से पहले अदालत ने मामले में आपराधिक प्रक्रिया संहिता की धारा-202 के तहत जांच कराई थी।

11-07-2019
लोकसभा में बोले राहुल गांधी, किसानों को धमकाना बंद करे आरबीआई

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता और वायनाड के सांसद राहुल गांधी ने लोकसभा में मोदी सरकार पर निशाना साधा। राहुल ने किसानों की हालत का मुद्दा उठाते हुए कहा कि मेरे संसदीय क्षेत्र वायनाड में किसान आत्महत्या कर रहे हैं, यहां 8 हजार किसानों को बैंक लोन न चुकाने पर नोटिस भेजा गया है और केरल में 18 किसानों ने आत्महत्या की क्योंकि वह बैंकों का लोन नहीं चुका पाए।

कांग्रेस नेता ने कहा कि पिछले 5 साल में सरकार ने किसानों को कम पैसा दिया जबकि अमीर कारोबारियों को ज्यादा पैसा दिया है, ये दोहरा रवैया क्यों, सरकार के लिए किसान अमीरों से ज्यादा जरूरी क्यों नहीं है। राहुल गांधी ने सरकार से मांग करते हुए कहा कि वह आरबीआई को निर्देश दे और किसानों को धमकाना बंद किया जाए। उन्होंने कहा कि देश में किसानों की हालत बहुत खराब है और सरकार इस पर आंख मूंदकर बैठी है।

 

10-07-2019
दिन हो या रात, जब आवाज देंगे हो जाऊंगा हाजिर : राहुल गांधी

अमेठी। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने अमेठी में पार्टी कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए कहा कि अमेठी से मेरा रिश्ता राजनैतिक नहीं पारिवारिक है। दिन हो या रात हो आप जब भी आवाज देंगे, मैं हाजिर हो जाऊंगा। राहुल गांधी गौरीगंज के निर्मला देवी इंस्टीट्यूट में पार्टी कार्यकर्ताओं  को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि अमेठी से मेरा रिश्ता पीढिय़ों का रहा है। मैं उस रिश्ते को निभाऊंगा। मैं वायनाड से सांसद हूं इसलिए वहां के विकास कार्य भी मुझे देखने हैं लेकिन मैं अमेठी आता रहूंगा। लोकसभा चुनाव में हार के बाद पहली बार राहुल गांधी अमेठी दौरे पर हैं। राहुल बुधवार सुबह अमौसी एयरपोर्ट पर पहुंचे जहां से वह सड़क मार्ग से सीधे गौरीगंज के चौक बाजार पहुंचे। यहां उन्होंने दिवंगत डॉ. गंगा प्रसाद गुप्त के परिजनों से मिलकर शोक संवेदना प्रकट की। सबसे पहले राहुल गांधी ने वरिष्ठ कांग्रेसियों व जिला इकाई के पदाधिकारियों के साथ बैठक की। राहुल गांधी ने पार्टी कार्यकर्ताओं से अपील की कि वह जनता के हितों के लिए संघर्ष करें। कांग्रेस पार्टी की विचारधारा को जन-जन तक पहुंचाएं। यहां वरिष्ठ कांग्रेसी करण बाजपेई व सोभनाथ यादव ने भावुकता के साथ राहुल गांधी से अमेठी में बने रहने की अपील की। कांग्रेस नेताओं ने कहा कि धनबल और बाहुबल के आगे हम चुनाव हार गए लेकिन फिर जीतेंगे। इसके बाद राहुल ने न्याय पंचायत प्रभारियों व ग्राम पंचायत अध्यक्षों के साथ बैठक में भी लगभग यही बातें दोहराई। राहुल गांधी के साथ राजसभा सदस्य डॉ संजय सिंह, कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता अजय सिंह लल्लू, एमएलसी दीपक सिंह समेत कई अन्य कांग्रेसी नेता मौजूद रहे।

 

10-07-2019
राहुल पहुंचे अमेठी, पार्टी कार्यकर्ताओं से करेंगे हार पर चर्चा

अमेठी। निवर्तमान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी बुधवार को अमेठी पहुंचे, जहां वे पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ कांंग्रेस के गढ़ में देश की सबसे पुरानी पार्टी की हार के कारणों पर चर्चा करेंगे। अमेठी पहुंचने से पहले, राहुल गांधी का बुधवार सुबह नई दिल्ली से लगभग दस बजे लखनऊ हवाई अड्डे पर पहुचने पर जोरदार स्वागत किया गया। हालांकि, इस बार हवाई अड्डे पर उनके स्वागत के लिये कम सख्या में कार्यकर्ता पहुचे थे। कई वरिष्ठ नेता मौजूद नही थे।

पूर्व राज्यसभा सदस्य प्रमोद तिवारी, पूर्व विधायक अखिलेश प्रताप सिंह के साथ पार्टी के वरिष्ठ नेता जैसे विनोद मिश्रा, वीरेंद्र मदान, सर्बजीत सिंह मक्कड़ कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष का स्वागत करने के लिए लखनऊ अमौसी हवाई अड्डे पर मौजूद थे। इस अवसर पर लगभग 50 कांग्रेस सेवादल के कार्यकर्ता भी गेट के बाहर मौजूद थे जहां उन्होंने राहुल गांधी तुम संघर्ष करो हम तुम्हारे साथ है के नारे लगाए। इसके बाद राहुल गांधी अमेठी के लिए रवाना हो गये। अमेठी में, राहुल गांधी 12 बजे से तीन बजे तक गौरीगंज क्षेत्र में एक शैक्षिक और तकनीकी संस्थान में पार्टी कार्यकर्ताओं के साथ बैठक करेंगे जहां जिला से ब्लॉक स्तर के कांग्रेस नेताओं को आमंत्रित किया गया है। गांधी के आज शाम को नई दिल्ली लौटने की उम्मीद है।

लोकसभा चुनाव में केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी से चुनाव हारने के बाद राहुल गांधी की अमेठी की यह पहली यात्रा है, हालांकि वे केरल की दूसरी सीट वायनाड से सांसद निर्वाचित हुए है। इस बीच, अमेठी की अपनी पहली यात्रा पर आये गांधी को एक पोस्टर युद्ध का सामना करना पड़ा। अमेठी में उनके खिलाफ जगह-जगह पोस्ट लगे है। मुशीगंज इलाके में संजय गांधी अस्पताल के पास कई पोस्टर लगाए गए है, जहाँ गांधी से पूछा गया है कि इस अस्पताल में आने वाले मरीज की मौत क्यों होती है। पोस्टर में लिखा है न्याय करो, न्याय करो, दोषियों को सजा दो।

09-07-2019
एम्स में भर्ती होकर सुब्रमण्यम स्वामी को कराना चाहिए दिमाग का इलाज : मंत्री डॉ. शिव डहरिया 

रायपुर। राहुल गांधी पर टिप्पणी करने वाले भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुए मंगलवार को नगरीय प्रशासन एवं श्रम मंत्री डॉ. शिव डहरिया थाने पहुंचे। मंत्री डॉ. शिव डहरिया सिविल लाइन थाना में ज्ञापन सौंपकर कार्रवाई की मांग की है। 
मंत्री डॉ. शिव डहरिया ने पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा कि सुब्रमण्यम स्वामी की दिमाग ठीक नहीं है उन्हें एम्स में भर्ती होकर अपना इलाज कराना चाहिए। इससे उन्हें संस्कृति सभ्यता और परंपरा की जानकारी होगी। डॉ. शिव डहरिया ने कहा कि भाजपा राज्यसभा सांसद डॉ. सुब्रमण्यम स्वामी अपना मानसिक संतुलन खो बैठे हैं, इसी वजह से अनाप शनाप टिप्पणी करने में लगे हैं।

 

08-07-2019
चुनाव के बाद राहुल गांधी पहली बार 10 जुलाई को आ रहे हैं अमेठी  

अमेठी। अमेठी लोकसभा सीट से चुनाव हारने के बाद राहुल गांधी 10 जुलाई को पहली बार अमेठी दौरे पर आ रहे हैं।  राहुल यहां कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ बैठक करेंगे। बता दें कि राहुल गांधी 15 वर्षों में पहली बार अमेठी के सांसद नहीं हैं और अब वह कांग्रेस के अध्यक्ष पद पर भी नहीं हैं।  राहुल गांधी लगातार तीन बार अमेठी से सांसद रह चुके हैं। अमेठी को कांग्रेस का मजबूत गढ़ माना जाता है। इसके बावजूद इस बार के लोकसभा चुनाव में स्मृति ईरानी ने राहुल गांधी को हरा दिया। स्मृति ईरानी ने राहुल को 55 हजार वोटों से हराकर कांग्रेस के सबसे मजबूत किले को ध्वस्त कर दिया। उधर लखनऊ में सेवादल की अहम बैठक के दौरान नेताओं ने संगठन को मजबूत बनाने पर जोर दिया। साथ ही एक बार फिर राहुल गांधी को कांग्रेस अध्यक्ष बनाए जाने की सिफारिश भी की।  

 

07-07-2019
राहुल गांधी पर टिप्पणी करना महंगा पड़ा सुब्रमण्यम स्वामी को, कई जगह केस दर्ज

बाराबंकी। कांग्रेस के महासचिव पीएल पुनिया ने उत्तर प्रदेश के बाराबंकी जिले की नगर कोतवाली में रविवार को सुब्रमण्यम स्वामी के खिलाफ  मुकदमा दर्ज कराया है। भाजपा के राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी पर आरोप है कि उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी के नशा करने की बात कही है। उधर छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले में जिला कांग्रेस अध्यक्ष पवन अग्रवाल ने सुब्रमण्यम स्वामी के खिलाफ  पुलिस को शिकायत दी है। शिकायत में कहा गया है कि स्वामी ने राहुल के खिलाफ कथित तौर पर झूठा बयान दिया है। भाजपा नेता सुब्रमण्यम स्वामी द्वारा राहुल गांधी पर लगाए गए नशा करने के आरोप के विरोध में दिल्ली प्रदेश कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने पंडारा रोड, नई दिल्ली स्थित सुब्रमण्यम स्वामी के निवास के बाहर जमकर विरोध प्रदर्शन किया।  दिल्ली प्रदेश के कार्यकारी अध्यक्ष राजेश लिलोठिया की अगुवाई में सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने स्वामी के खिलाफ  जमकर नारेबाजी की और उनका पुतला दहन किया। राजेश लिलोठिया ने बातचीत में कहा कि सुब्रमण्यम स्वामी को जल्द से जल्द राहुल गांधी और कांग्रेस कार्यकर्ताओं से माफी मांगनी होगी। छत्तीसगढ़ के जशपुर जिले के पुलिस अधीक्षक शंकर लाल बघेल ने बताया कि सुब्रमण्यम स्वामी के खिलाफ  शनिवार रात को पत्थलगांव पुलिस थाने में शिकायत दी गई है।

06-07-2019
राहुल गांधी को 10 हजार रुपये की मुचलके पर मिली जमानत

पटना। लोकसभा चुनाव प्रचार में 'सभी मोदी चोर क्यों हैं' कहने के मामले में राहुल गांधी शनिवार को पटना की विशेष अदालत में पेश हुए। जज ने राहुल को उन पर लगे आरोप पढ़कर सुनाए। इसके बाद राहुल ने कहा कि सभी आरोप बेबुनियाद हैं। कोर्ट ने उन्हें 10 हजार रुपए के निजी मुचलके पर जमानत दे दी। यह मानहानि केस उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने दायर किया है। राहुल ने कोर्ट के बाहर कहा, ''जो भी संघ और नरेंद्र मोदी की विचारधारा के खिलाफ आवाज उठाता है। उस पर हमला होता है और कोर्ट में घसीटा जाता है। मैं किसानों और मजदूरों के साथ खड़े होने के लिए आया हूं। जहां भी जाना होगा जाऊंगा। मेरी लड़ाई संविधान को बचाने के लिए है। हिन्दुस्तान के आवाज को दबाया जा रहा है। मैं कांग्रेस अध्यक्ष नहीं हूं तो भी लड़ाई जारी रखूंगा।'' कोर्ट के बाहर कांग्रेस कार्यकतार्ओं ने राहुल के इस्तीफा वापस लेने की मांग पर नारेबाजी की।

मानहानि केस में मुंबई कोर्ट से भी जमानत मिली 
कन्नड़ पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या से जुड़े मानहानि केस में राहुल को 4 जुलाई को मुंबई के शिवड़ी कोर्ट से जमानत मिल गई थी। यहां के संघ कार्यकर्ता ध्रुतीमान जोशी का आरोप था कि राहुल ने गौरी लंकेश की हत्या के 24 घंटे के अंदर कहा कि जो लोग संघ और भाजपा की विचारधारा के खिलाफ आवाज उठाते हैं। उन पर हमले किए जाते हैं। यहां तक कि उन्हें जान से मार दिया जाता है। 5 सितंबर 2017 को बेंगलुरु में बाइक से आए लोगों ने गौरी की गोलियां मारकर हत्या कर दी थी।

इस महीने गुजरात में राहुल की तीन पेशी
मानहानि के अलग-अलग केस में इस महीने राहुल गांधी की गुजरात में तीन पेशियां हैं। 9 और 12 जुलाई को अहमदाबाद, 24 तारीख को सूरत कोर्ट में पेश होना है।

06-07-2019
मानहानि के केस में कांग्रेस नेता राहुल गांधी आज पटना की अदालत में होंगे पेश 

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी द्वारा उनके खिलाफ दायर मानहानि के एक मामले के सिलसिले में आज पटना की अदालत में पेश होंगे। भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के वरिष्ठ नेता ने बीते अप्रैल में यहां की मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट (सीजेएम) की अदालत में यह मामला दायर किया था। सुशील मोदी ने उक्त मामला गांधी द्वारा कर्नाटक के कोलार में एक चुनावी रैली में यह टिप्पणी करने पर आपत्ति जताते हुए दायर किया था कि 'सभी चोरों के उपनाम मोदी क्यों हैं'। गांधी का इशारा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बैंक धोखाधड़ी आरोपी नीरव मोदी और इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के पूर्व कमिश्नर ललित मोदी की ओर था। मामले को सीजेएम शशिकांत रॉय ने एसीजेएम कुमार गुंजन के पास भेज दिया था।

गांधी ने लोकसभा चुनाव में अपनी पार्टी की हार की नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए इस सप्ताह के शुरू में कांग्रेस प्रमुख के पद से इस्तीफा दे दिया था। गांधी पिछली बार गत मई में बिहार की राजधानी पटना आये थे जब उन्होंने अभिनेता से नेता बने शत्रुघ्न सिन्हा के लिए एक रोड शो किया था। सिन्हा ने अप्रैल..मई में हुए लोकसभा चुनाव में पटना साहिब सीट पर कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ा था लेकिन वह अपनी सीट बरकरार नहीं रख पाये थे। मीडिया के एक वर्ग में खबर है कि गांधी यहां से करीब 60 किलोमीटर दूर स्थित मुजफ्फरपुर भी जा सकते हैं जो कि राज्य भर में फैले एक्यूट इंसेफलाइटिस सिंड्रोम से सबसे अधिक प्रभावित रहा है। इससे 150 से अधिक बच्चों की मौत हो चुकी है।

04-07-2019
राहुल गांधी को आरएसएस मानहानि मामले में जमानत

मुंबई। मुंबई की एक अदालत ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आएसएस) की मानहानि के मामले में गुरुवार को जमानत दे दी। राहुल गांधी पर पत्रकार गौरी लंकेश की हत्या को आएसएस की विचारधारा से जोड़ने संबंधी बयान को लेकर मानहानि का मुकदमा दायर किया गया था। अदालत ने राहुल गांधी को 15000 रुपये के मुचलके पर जमानत दे दी। पूर्व सांसद एकनाथ गायकवाड ने उनकी जमानत दी। राहुल गांधी ने अदालत में खुद को बेकसूर बताया।

आरएसएस कार्यकर्ता धृतिमन जोशी ने राहुल गांधी के खिलाफ मानहानि की याचिका दायर की है। उन्होंने अपनी याचिका में कहा कि सुश्री लंकेश की हत्या के 24 घंटे के भीतर राहुल गांधी ने हत्या के लिए कथित रूप से आरएसएस और उसकी विचारधारा पर आरोप लगाया था। जोशी ने संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन अध्यक्ष सोनिया गांधी और मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी के नेता सीताराम येचुरी के खिलाफ भी ऐसी ही याचिकाएं दायर की थी जो बाद में खारिज कर दी गयी।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804