GLIBS
08-05-2019
पुलिस मुस्तैद रहकर जनसेवा करे और समस्याएं निपटाएं : डीजीपी अवस्थी 

रायपुर। पुलिस महानिदेशक डीएम अवस्थी ने बुधवार को यहां अटल नगर, रायपुर स्थित पुलिस मुख्यालय में रायपुर, दुर्ग तथा बिलासपुर रेंज के पुलिस अधिकारियों की समीक्षा बैठक ली। उन्होंने बैठक में जनसेवा को विशेष प्राथमिकता देते हुए पुलिस विभाग के अधिकारियों को हमेशा मुस्तेद रहकर उनकी समस्याओं का तत्परता से निराकरण करने के लिए सख्त निर्देश दिए।  अवस्थी ने संबंधित पुलिस अधीक्षकों से जिलेवार लंबित प्रकरणों की जानकारी ली और समयबद्ध कार्ययोजना बनाकर इनका शीघ्रता से निराकरण के लिए निर्देशित किया। बैठक में लंबित मर्ग,  गुम बच्चों के प्रकरण, दुर्घटना से होने वाली मृत्यु पर नियंत्रण, सम्पत्ति संबंधी अपराधों के निराकरण, वारंट तामीली, गुण्डा तत्वों की निगरानी, आपराधिक प्रकरणों के निराकरण में दिए जाने वाले दण्ड एवं इनाम, अनियमित वित्तीय कम्पनियों की धन वापसी सहित कानून एवं व्यवस्था से संबंधित विभिन्न विषयों की समीक्षा की गई। स्टूटेंड पुलिस कैडेट योजना के प्रगति की जानकारी ली गई। बैठक में शहीद पुलिसकर्मियों के परिवारों को दिए जाने वाले अनुकम्पा नियुक्ति एवं देयत्व के  लंबित प्रकरणों की भी समीक्षा की गई। बैठक में पास्कों एक्ट के प्रकरणों का त्वरित गति से निराकरण करने के निर्देश दिए गए। बैठक में पुलिस महानिदेशक (गुप्त वार्ता) संजय पिल्ले, पुलिस महानिदेशक (योजना प्रबंध) आरके विज, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक अशोक जुनेजा तथा पवन देव, पुलिस महानिरीक्षक दुर्ग हिमांशु गुप्ता और पुलिस महानिरीक्षक बिलासपुर प्रदीप गुप्ता, पुलिस महानिरीक्षक रायपुर डॉ. आनंद छाबड़ा सहित तीनों रेंज से समस्त पुलिस अधीक्षक उपस्थित थे।

11-01-2019
एसपी ने दरबार लगाकर सुनी समस्याएं 

धमतरी। के पुलिस अधीक्षक ने शुक्रवार को रक्षित केंद्र में जनरल परेड के बाद दरबार लगाकर कर्मचारियों की समस्याएं सुनी गई। जनरल परेड  के दौरान विशेष निरीक्षण किया गया। परेड में जिन अधिकारी/कर्मचारियों के  वेशभूषा बेहतर पाई गई उनको पुरुस्कृत किया गया। परेड बाद दरबार लिया गया, जिसमें अधिकारी,कर्मचारियों के सुझाव एवं समस्याएं सुनी गई। इसमें ज्यादातर आवेदन स्थानांतरण के प्राप्त हुए। प्राप्त आवेदनों का निराकरण करने का आश्वासन दिया। एसपी रजनेश सिंह ने बताया कि दरबार के दौरान कुछ लोगों के स्थानांतरण के आवेदन मिले । साथ ही एक आवेदन में एडवांस में दिए जाने वाली राशि को एक लाख तक बढ़ाए जाने की मिली। जिस पर जल्दी विचार किया जाएगा। आज विशेष रूप से सबसे अधिक अधिकारी, कर्मचारी लगभग 250 लोग मौजूद थे। ज्यादातर लोग क्रियाकलापों से संतुष्ट पाए गए। बहुत जल्द ही इनके वीकली ऑफ के संबंध में निर्णय लिया जा सकता है। साथ ही नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में जो कर्मचारी तैनात हैं उन्हें वीकली आफ में एक दिन की जगह महीने में लगातार तीन से चार दिन की छुट्टी देने पर विचार किया जा रहा है, ताकि वे अपने  कार्यों को निपटा सके व परिजनों से मुलाकात भी कर सके। दरबार में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक केपी चंदेल, डीएसपी,एसडीओपी कुरूद रक्षित निरीक्षक, समस्त थाना,चौकी सहित पुलिस कार्यालय से समस्त शाखा प्रभारी सहित लगभग 250 लोग उपस्थित थे।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804