GLIBS
03-06-2019
मंत्री नहीं बनाने का कारण पूछने पर मेनका गांधी ने कहा- अच्छा तो हम चलते हैं...

नई दिल्ली। पूर्व केंद्रीय मंत्री और सुल्तानपुर से भाजपा सांसद मेनका गांधी को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दूसरे कार्यकाल के लिए गठित की गई कैबिनेट में जगह नहीं मिली है। इस बारे में सवाल पूछे जाने पर मेनका गांधी ने जवाब दिया कि इसकी वजह उनकी लोकसभा सीट के लोग बताएंगे। मेनका गांधी लोकसभा चुनावों के बाद पहली बार सुल्तानपुर पहुंची थीं। उन्होंने लोगों का धन्यवाद देते हुए हर वर्ग के विकास की बात की। हालांकि पूर्व महिला एवं बाल विकास मंत्री ने तंज भरे लहजे में कहा कि बड़े अंतर से चुनाव जीतने और लंबे वक्त तक सांसद रहने वाले को प्रोटेम स्पीकर बनाया जाता है और उनमें से मैं भी एक हूं। बता दें कुछ रिपोट्र्स में कहा जा रहा है कि मेनका गांधी को प्रोटेम स्पीकर बनाया जा सकता है। इस बार पीलीभीत से सांसद चुने गए अपने बेटे वरुण गांधी को भी मोदी मंत्रिमंडल में शामिल नहीं किये जाने के सवाल पर मेनका ने चुप्पी साध ली। बयान देने के बजाय उन्होंने कहा कि अच्छा तो हम चलते हैं।

03-06-2019
स्मृति ईरानी ने संभाला महिला और बाल विकास मंत्रालय का कार्यभार

नई दिल्ली। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने सोमवार को महिला और बाल विकास मंत्रालय का कार्यभार संभाल लिया। ईरानी आज सुबह कार्यालय पहुंची तो उनका स्वागत मंत्रालय में सचिव वी. सोम सुंदरम ने गुलदस्ता देकर किया। इस अवसर पर मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारी भी मौजूद रहे। कार्यभार संभालने से पहले ईरानी ने पूर्व मंत्री मेनका गांधी से शनिवार को मुलाकात की थी और उनके साथ मंत्रालय के मुद्दों पर चर्चा की थी। इसी मंत्रालय में राज्यमंत्री देवाश्री चौधरी पहले ही कार्यभार संभाल चुके हैं।

24-05-2019
राहुल की हार पर मेनका गांधी का तंज, कहा- ‘राजनीति बच्चों का खेल नहीं’

नई दिल्ली। अमेठी से राहुल गांधी की हार पर उनकी चाची और केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी ने तंज कसा है। मेनका ने कहा है कि राजनीति कोई बच्चों का खेल नहीं है। मेनका ने कहा कि उनकी तरफ से कैंपेन में कोई भी सही बात नहीं उठाई गई, गाड़ी में बैठ हाथ हिलाने से इल्केशन नहीं बनता है। अगर राजनीति करनी है तो ठीक से करें और राजनीति गंभीरता से करें।

12-05-2019
वोटिंग के दौरान मेनका गांधी और सोनू सिंह के बीच हुई बहस

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश के सुल्तानपुर में भाजपा की उम्मीदवार मेनका गांधी और महागठबंधन के प्रत्याशी सोनू सिंह के बीच बहस हो गई। मेनका गांधी ने सोनू सिंह पर बूथ कैप्चरिंग का आरोप लगाया, इस दौरान बीच सड़क पर दोनों प्रत्याशियों के बीच तीखी बहस हो गई।

मेनका गांधी मतदान के दौरान रविवार को पोलिंग बूथ पर जाकर जायजा ले रही थीं। मेनका गांधी  और सोनू सिंह की गाड़ी जब आमने-सामने आई, तो दोनों प्रत्याशियों के बीच जमकर तू-तू-मैं-मैं हुई। मेनका गांधी ने आरोप लगाया कि मतदाताओं को गठबंधन प्रत्याशी के समर्थकों द्वारा डराया जा रहा है। भाजपा विधायक सूर्यभान सिंह ने भी सुरक्षा व्यवस्था पर सवाल खड़े किए। उन्होंने कहा कि बाहुबली सोनू सिंह को देखते हुए सुरक्षा के इंतजाम नाकाफी हैं।

मेनका गांधी ने आरोप लगाया कि सोनू सिंह के समर्थक वोटरों को डरा धमकाकर अपने पक्ष में वोट करवा रहे हैं। केंद्रीय मंत्री ने मेनका गांधी ने कहा कि महागठबंधन के प्रत्याशी सोनू सिंह के साथी कई बूथों पर खड़े हैं और मतदाताओं पर दबाव बना रहे हैं।

बता दें कि कि शनिवार देर रात को सुल्तानपुर में मेनका गांधी के समर्थकों के साथ मारपीट की गई थी। भाजपा समर्थकों के अनुसार, सपा-बसपा गठबंधन के प्रत्याशी चंद्रभद्र सिंह उर्फ सोनू सिंह के समर्थकों ने मेनका गांधी के प्रचार में लगे आधा दर्जन लोगों के साथ मार-पीट की और गाड़ियों को नुकसान पहुंचाया। 

05-05-2019
वरुण गांधी ने कहा, मैं संजय गांधी का लड़का हूं,मैं इन लोगों से अपने जूते साफ खुलवाता हूं

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव में नेताओं की कई तरह की बयानबाजी लोगों को सुनने मिल रही है। अब पीलीभीती से भाजपा प्रत्याशी वरुण गांधी का एक बयान समाने आया है, जो सोशल मीडिया में सुर्खियों में है। उत्तर प्रदेश की सुलतानपुर लोकसभा सीट में सांसद वरुण गांधी अपनी मां मेनका गांधी के लिए प्रचार करने पहुंचे थे वहां उन्होंने वोटरों से कहा कि डरने की जरूरत नहीं है बताया जा रहा है कि उनका ये बयान गठबंधन प्रत्याशी चंद्रभद्र सिंह उर्फ सोनू के बारे में था। वरुण गांधी ने कहा,'मैं एक चीज आपको कहना चाहता हूं किसी से डरने की कोई जरूरत नहीं है, मैं खड़ा हूं यहां पर, मैं संजय गांधी का लड़का हूं मैं इन लोगों से अपने जूते साफ खुलवाता हूं।'

इससे पहले वरूण गांधी की मां मेनका गांधी ने हाल ही में सुल्तानपुर की एक रैली में कहा था, यह जमीन मेरे पति संजय गांधी और बेटे की है। इसलिए मैं याद दिला रही हूं कि सुल्तानपुर में गठबंधन का उम्मीदवार नहीं चल पा रहा है। गौरतलब है कि 2014 में वरुण गांधी सुलतानपुर से जीतकर सांसद बने थे लेकिन इस बार इस सीट से उनकी मां मेनका गांधी को टिकट मिला है, भाजापा ने दोनों की सीट बदल दी है। इस बार के चुनाव में वरुण गांधी पीलीभीती से भाजपा के प्रत्याशी है। 

29-04-2019
चुनाव आयोग ने मेनका गांधी को इस कारण दी कड़ी चेतावनी

सुलतानपुर। चुनाव आयोग ने केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी को मुस्लिमों पर दिए गए बयान के लिए कड़ी चेतावनी देते हुए कहा है कि उन्हें भविष्य में इस तरह के बयान से बचना चाहिए। बता दें कि चुनाव आयोग ने मेनका के बयान पर संज्ञान लिया था और उन्हें नोटिस भेजा था। मेनका गांधी को भेजे अपने पत्र में आयोग ने लिखा है कि उपलब्ध सबूतों और भौतिक तथ्यों के आधार पर चुनाव आयोग मेनका के बयान की निंदा करता है। साथ ही चेतावनी देता है कि इस तरह का व्यवहार वह अब दोबारा नहीं करें। बता दें कि 14 अप्रैल को मेनका गांधी सुलतानपुर के सरकोडा गांव में मुस्लिमों को लेकर एक बयान दिया था जिसके बाद बवाल मच गया। मेनका गांधी ने एक चुनावी सभा में कहा था कि अगर मैं मुसलमानों के बिना समर्थन के जीतती हूं और उसके बाद वे मेरे पास किसी काम के लिए आते हैं तो मेरा रवैया भी वैसा ही होगा।  मैं चुनाव जीत जाऊंगी, उसके बाद आपको भी मेरी जरूरत पड़ेगी। इस जरूरत की नींव डालनी होगी। चुनाव के बाद जब मुझे पता चलेगा कि आपकी तरफ  से मुझे 100 वोट मिले या 200 वोट मिले, तो जब आप काम के लिए आएंगे तो मेरा रवैया भी वैसा ही रहेगा। सुलतानपुर में ही एक अन्य रैली में मेनका गांधी ने एक बार फिर चेतावनी भरे लहजे में कहा कि जहां जितने वोट मिलेंगे वहां पर विकास कार्यों के लिए उसी तरह वर्गीकरण किया जाएगा।

 


18-04-2019
सुल्तानपुर सीट से मेनका गांधी ने दाखिल किया नामांकन

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव के लिए उत्तरप्रदेश की सुल्तानपुर सीट से भाजपा की वरिष्ठ नेता मेनका गांधी ने गुरुवार को नामांकन दाखिल किया। नामांकन से भाजपानेत्री ने मेनका गांधी ने अपने निवास शास्त्री नगर में पूजन अर्चना की। इसके बाद उन्होंने संसदीय क्षेत्र सुल्तानपुर में रोड शो किया और कलेक्ट्रेट में पहुंच कर नामांकन भरा। उनके साथ जिला प्रभारी मंत्री राजेंद्र प्रताप सिंह उपस्थित थे।  

 

15-04-2019
Maneka Gandhi: आजम खान और मेनका गांधी की चुनावी रैलियों पर प्रतिबंध

नई दिल्ली। चुनाव आयोग के निशाने पर अब समाजवादी पार्टी के नेता और उत्तर प्रदेश के पूर्व मंत्री आजम खान तथा केंद्रीय मंत्री एवं बीजेपी की वरिष्ठ नेता मेनका गांधी आ गई हैं। दोनों नेताओं के विवादास्पद बयानों पर एक्शन लेते हुए चुनाव आयोग ने उनकी चुनावी रैलियों पर प्रतिबंध लगा दिया है।  आजम खान को जहां 72 घंटे के लिए प्रतिबंधित किया गया है, वहीं मेनका गांधी पर 48 घंटों का प्रतिबंध लगाया गया है। ये दोनों नेता किसी तरह की चुनावी रैलियों में हिस्सा नहीं ले सकेंगे। चुनाव आयोग के आदेशानुसार यह आजम खान और मेनका गांधी पर 16 अप्रैल सुबह 10 बजे से प्रतिबंध लागू होगा। बता दें कि उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और बसपा सुपीमो मायावती को उनके भड़काऊ भाषणों के चलते प्रतिबंधित करने के बाद चुनाव आयोग ने यह बड़ी कार्रवाई की है।

 

20-09-2018
Pramod Dubey: कुत्तों का आतंक कैसे रोकेंगे, मेनका गांधी ने मारने पर लगाई है रोक - प्रमोद दुबे

रायपुर। शहर में कुत्तों का आंतक रोकने लिए मारना जरूरी है, लेकिन मारने के लिए केंद्री मंत्री मेनका गांधी ने रोक लगा दी है, इसी वजह से कुत्तों का आंतक नहीं रोका जा रहा है। जबकि कुत्तों का आतंक रोकने के लिए उन्हें मारना बेहद जरूरी है। 

शहर में कुत्तों का आंतक कम करने लिए हर प्रयास नगर निगम द्वारा किया जा रहा है, लेकिन कुत्तों का आतंक कम नहीं हो रहा है। जबकि प्रमोद दुबे ने कहा है की कुत्तों का मारने के बाद ही उनका आतंक कम होगा। रायपुर के रहवासी इन दिनों कुत्तों के आतंक परेशान है, दो दिनों पहले अंबेडकर अस्पताल के हड्डी रोग विशेषज्ञ और सीएमओ डॉ.रोहित दुबे के भतीजे शुभ दुबे को टैगोर नगर में आधा दर्जन से ज्यादा कुत्तों ने काट लिया। मासूम शुभ को इतना बुरा तरीके से कुत्ता ने काटा है, कि बच्चा न तो सो पा रहा है और न ही बैठ पा रहा है। पेट से लेकर कमर जांघ में कुत्ता ने काट लिया है। आस-पास के लोगों ने कुत्तों को मारकर भगाया तब कहीं जाकर कुत्ते ने बच्चे को छोड़ा। इधर पूरे मामले को लेकर परिवार समेत टैगोर नगर के निवासियों में आक्रोस हैं और नगर निगम प्रशासन भड़के हैं। 

ग्लिब्स टीम को शुभ दुबे के माता-पिता ने बताया कि शहर में कुत्तों की नसबंदी को लेकर नगर निगम लाखों खर्च किया जा रहा है। बावजूद कुत्तों को कंट्रोल नहीं किया जा रहा है। इधर आम रहवासी भी कुत्तों से परेशान है, पैदल तो दूर की बात है, गाड़ी में आने-जाने वालों को भी कुत्ते दौड़ाते हैं। जनता इसकी शिकायत पार्षद और महापौर से कर चुके हैं। लेकिन कुत्तों का आंतक कम नहीं किया जा रहा है। 

अगर महापौर का बेटा होता तो क्या करता - राहुल दुबे 

आज मेरे बेटे को कुत्ता ने जिस प्रकार से काटा है अगर मेरी जगह नगर निगम के अधिकारी और महापौर के बेटे को कुत्ता काटता तो क्या करते। मैने तो अपने बेटे का जान बचा लिया। लेकिन नगर निगम के अफसरों से निवेदन है, कि शहर में कुत्तों का आंतक पर रोक लगाया जाए। 

कुत्तों संख्या न बढ़े इसके लिए नसबंदी कर रहे हैं - रजत बंसल 

कुत्तों की संख्या न बढ़े इसके लिए नगर निगम की ओर से कुत्तों का नसबंदी किया जा रहा है। लगातार शहर के कुत्तों को पकड़कर नसबंदी और वैक्सीन लगाकर वापस छोड़ा जा रहा है। हाल ही में कुत्तों का नसबंदी करने के लिए नया टेंडर करेंगे। 

मेनका गांधी ने मारने पर लगाई है प्रतिबंध -प्रमोद दुबे 

शहर में कुत्तों के लिए शेल्डर होम बनाकर बधियाकरण किया जा रहा है। लेकिन कुत्तों को मारने के लिए केंद्री मंत्री मेनका गांधी प्रतिबंध लगाई है, इसी वजह स कुत्तों को नहीं मारा जा रहा है और कुत्तों का आतंक कम नहीं हो रहा है। 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804