GLIBS
15-04-2019
स्वीप रैंप वॉक, स्वीप सलाद एवं स्वीप मिठास प्रतियोगिता कल

रायपुर। मतदाताओं को मताधिकार के लिए जागरूक करने के लिए जिला प्रशासन द्वारा संचालित मतदाता जागरुकता कार्यक्रम 'मोर रायपुर वोट रायपुर' के अतंर्गत मंगलवार 16 अप्रैल को संध्या 5 बजे कटोरा तालाब उद्यान में स्वीप रैंप वॉक, स्वीप सलाद प्रतियोगिता तथा स्वीप मिठाई प्रतियोगिता का आयोजन किया जा रहा है। स्वीप प्रभारी डॉ. गौरव कुमार सिंह ने बताया कि इन प्रतियोगिताओं के आयोजन के माध्यम से मतदाताओं को 23 अप्रैल को होने वाले निर्वाचन में मतदान अवश्य करने का संदेश दिया जाएगा।

24-01-2019
Tricycle : दिव्यांगजनों को मिला नि:शुल्क बस पास, वितरत की गई बैटरी चलित ट्रायसायकल

बालोद। जिला प्रशासन और समाज कल्याण विभाग की ओर से गुरुवार को टाउनहॉल में जिला स्तरीय दिव्यांगजन कल्याण मेला एवं सम्मान समारोह में सैकड़ों दिव्यांगजन लाभान्वित हुए। कार्यक्रम में कलेक्टर किरण कौशल और नगर पालिका परिषद बालोद के अध्यक्ष विकास चोपड़ा मौजूद थे। कार्यक्रम में जिले के 552 दिव्यांगजनों को दिव्यांग प्रमाण पत्र वितरण किया गया। 110 दिव्यांगजनों को निशुल्क बस पास का वितरण किया गया। 30 दिव्यांगजनों को बैटरी चलित ट्रायसायकल वितरण किया गया। निःशक्तजन वित्त एवं विकास निगम स्वरोजगार ऋण योजना के तहत गुरूर विकासखण्ड के ग्राम भिरई के अस्थिबाधित दिव्यांग निमेश कुमार को वेल्डिंग कार्य के लिए दो लाख रुपए का ऋण प्रदाय किया गया। निःशक्तजन विवाह प्रोत्साहन योजना के तहत गुंडरदेही तहसील के ग्राम परसदा के निःशक्त दंपत्ति दानेश्वर प्रसाद और माहेश्वरी को एक लाख रूपए का चेक प्रदान कर लाभान्वित किया गया।

कलेक्टर किरण कौशल ने कहा कि दिव्यांगजनों के कल्याण के लिए निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि दिव्यांग किसी सामान्य व्यक्ति से कम नहीं है। हर दिव्यांग किसी न किसी विलक्षण प्रतिभा का धनी होता है। उसे पहचान कर निखारना, उसे आगे बढ़ाना हम सबका दायित्व हैं। कलेक्टर ने दिव्यांगजनों के कल्याण के लिए संचालित योजनाओं की जानकारी देकर उसका लाभ उठाने प्रेरित किया। नगर पालिका परिषद बालोद के अध्यक्ष विकास चोपड़ा ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया। 

19-01-2019
Church: केरल में चर्च पर नियंत्रण को लेकर दो धड़ों में झड़प

त्रिशूर। केरल में मलंकारा चर्च के दो धड़ों के बीच शुक्रवार को यहां झड़प हुई जिसमें कम से कम 15 लोग घायल हो गए। इस घटना के बाद जिला प्रशासन ने दोनों पक्षों को चर्च से हटने को कहा है। चर्च पर नियंत्रण के लिए दोनों धड़ों के बीच लंबे समय से विवाद है। आर्थोडोक्स धड़े के सदस्य मन्नामंगलम चर्च के बाहर पिछले कुछ दिनों से डेरा डाले हुए थे और वे कथित तौर पर अंदर घुस गए। इसके बाद उनकी जैकोबाइट धड़े के साथ हल्की झड़प हुयी। पुलिस के अनुसार आर्थोडोक्स और जैकोबाइट अनुयायियों के बीच झड़प के बाद 35 से अधिक लोगों को हिरासत में ले लिया गया। पुलिस ने बताया कि मामले में युहानन मार मेलेशियस मेट्रोपोलिटन, मलंकारा आर्थोडोक्स सीरियन चर्च के बिशप को भी मुख्य आरोपी बनाया गया है। 

दोनों धड़ों से चर्च से हटने को कहा

जिलाधिकारी टी वी अनुपमा ने कहा कि हमने दोनों पक्षों को चर्च से हटने को कहा है। वे लोग हमारे प्रस्ताव पर सहमत हो गए हैं। जैकोबाइट धड़े ने अपने चर्च के वरिष्ठ अधिकारियों से बातचीत के लिए और समय की मांग की है। उन्होंने कहा कि उन लोगों से यह भी कहा गया है कि अगर कानून व्यवस्था का और विषय सामने आता है तो जिला प्रशासन सख्त कार्रवाई करेगा। हाल ही में पीरावोम में एक प्रसिद्ध चर्च में उस वक्त काफी तनाव देखने को मिला था, जब उच्चतम न्यायालय के पिछले साल के आदेश को लागू कराने पुलिस वहां पहुंची थी। न्यायालय ने अपने आदेश के तहत चर्च का नियंत्रण आर्थोडोक्स धड़े को दे दिया था। 

16-01-2019
सुपेबेड़ा में मेडिकल टीम ने की किडनी प्रभावितों की जांच

गरियाबंद। आज जिला प्रशासन ने देवभोग विकासखंड के सुपेबेड़ा में विशेष शिविर लगाकर ग्रामीणों की समस्याएं सुनीं। इस मौके पर रायपुर से पहुंची मेडिकल टीम ने किडनी पीडि़त लोगों की जांच कर आवश्यक चिकित्सकीय परामर्श व दवा वितरण किया।

सुपेबेडा में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी आरके खुंटे एवं अपर कलेक्टर केके बेहार की उपस्थिति में विभिन विभागों द्वारा स्टाल लगाकर आवेदन लिए गए। शिविर में कुल 31 आवेदन प्राप्त हुए। रायपुर से पहुंची मेडिकल टीम ने किडनी रोग विशेषज्ञ डॉ. पुनीत गुप्ता के नेतृत्व में किडनी प्रभावित 14 मरीजों की जांच कर उन्हें आवश्यक सलाह दी। डॉक्टर ने बताया कि अब हर 15 दिन में मेडिकल टीम सुपेबेड़ा पहुंचे, ऐसी व्यवस्था की जा रही है।  इस शिविर में आयुष विभाग एवं  प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र देवभोग द्वारा भी शिविर लगाकर नि:शुल्क जांच, परामर्श व उपचार किया गया। शिविर में प्रभारी सीएमएचओ डॉ. अजय सिंह, देवभोग के बीएमओ डॉ. सुनील भारती, डीपीएम डॉ. भूमिका वर्मा मौजूद थे। 

शुद्ध पेयजल की व्यवस्था करने का दावा 

शिविर में मौजूद लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी के कार्यपालन अभियंता फिलिप एक्का ने बताया कि सुपेबेड़ा में शुद्ध पेयजल की पर्याप्त व्यवस्था की गई है।  गांव में वाटर पाइप लाइन द्वारा पेयजल की आपूर्ति की जा रही है। इसके अलावा 3 आर्सेनिक प्लांट और 3 आयरन प्लांट की स्थापना की गई है। 25 स्थल जल और 06 पानी टंकी के माध्यम से नियमित पानी दिया जा रहा है। शिविर में सरपंच सुनीता नायक सहित ग्रामीण उपस्थित थे।

11-01-2019
तांदुला, खारुन व खरखरा नदी के पूर्णोद्धार के लिए खर्च होंगे 14 करोड़ 

बालोद। जिले से संबंधित नदियों के संरक्षण के लिए अब जिला प्रशासन आगे आया है। तांदुला, खरखरा व खारुन इन नदियों के लिए विशेष कार्ययोजना तैयार की जा रही है। सर्वे का काम शुरू हो चुका है और मनरेगा के माध्यम से यहां विशेष योजना चलाकर साफ-सफाई व संरक्षण किया जाएगा। जिले की तांदुला, खारुन व खरखरा नदी को इसमें शामिल किया गया है। इन तीनों नदियों के कुल 89.50 किमी के सुधार लिए लगभग 13 करोड़ 74 लाख रुपए खर्च होंगे। बताया गया कि तांदुला नदी के कुल 5 किमी तक के क्षेत्र जिसमें 7 गांव  और  खारुन नदी के 55 किमी क्षेत्र जिसमें 17 गांवों के तट शामिल हैं। यही नहीं, सूखा तांदुला नदी के 27 किमी का क्षेत्र व खरखरा नदी के 3 किमी क्षेत्र में नदी पूर्णोद्धार का काम कराएंगे। इस योजना के तहत तांदुला नदी में 1 करोड़ 43 लाख, खारुन नदी में 10 करोड़ 62 लाख, सूखा तांदुला में 1 करोड़ 42 लाख तथा खरखरा नदी के लिए 25 लाख रुपए खर्च करेंगे। 

10-01-2019
District Administration : वनभूमि में फर्जीवाड़ा मामले में जिला प्रशासन पर अनदेखी का आरोप

कोरबा। वनभूमि में फर्जीवाड़ा मामले में कांग्रेस नेताओं ने प्रेसवार्ता कर जिला प्रशासन पर अनदेखी का आरोप लगाया है। प्रेसवार्ता में कांग्रेस नेताओं ने बताया कि आदिवासी क्षेत्र रामपुर की वनभूमि में फर्जीवाड़ा करते हुए उसके निजी उपयोग के खिलाफ रामपुर के पंच और कांग्रेस नेताओं ने कोरबा जिलाधीश से जनदर्शन के माध्यम से शिकायत की थी। शिकायत का निवारण नहीं होने पर प्रार्थियों ने उच्च न्यायालय में एक जनहित याचिका भी दायर की थी।

प्रार्थी ने बताया कि किसी घनश्याम चौहान पिता नान्हीराम (53) को रामपुर क्षेत्र में बड़े झाड़ के जंगल की एक जमीन खसरा नंबर 750/16 जोकि 1975-76 में पट्टे से प्राप्त हुई थी उस वक्त घनश्याम की उम्र महज दस वर्ष थी। घनश्याम ने यह जमीन बिना शासकीय अनुमति के रामपुर के ही रहने वाले दिनेश पिता नारायण अग्रवाल को बेच दी। बेचने के पहले इस जमीन के दस्तावेजों के साथ छेड़छाड़ करते हुए तहसीलदार समेत राजस्व अमले ने खसरा नंबर 750/16 को 750/33 बनाकर 0.25 – 0.25 एकड़ भूमि बनाकर तीन लोगों के नाम रजिस्ट्री कर दी। पंच अशरफ खान ने बताया कि वर्तमान में खसरा नंबर 750/33 राजस्व अभिलेखों में दर्ज ही नहीं है। इसी सन्दर्भ में पंचों ने स्थानीय प्रशासन से उक्त मामले की जांच से सम्बंधित पत्र सौंपा था लेकिन कलेक्टर की कार्रवाई से संतुष्ट न होते हुए उच्च न्यायालय का दरवाजा खटखटाया था। उच्च न्यायालय ने एक सप्ताह में जांच प्रतिवेदन प्रस्तुत करने का आदेश दिया बावजूद जांच नहीं होने से क्षुब्ध पंचों ने न्यायालय के समक्ष अवमानना का प्रकरण दर्ज कराया। न्यायालय ने एक और मौका देते हुए जिलाधीश कोरबा को अविलम्ब कार्रवाई करने का आदेश दिया है।

03-01-2019
Solution camp: नक्सल पीडि़तों की समस्याओं का निराकरण करने लगा समाधान शिविर

जगदलपुर। नक्सल पीडि़तों के दर्द को दूर करने के लिए बस्तर जिला प्रशासन द्वारा गुरुवार को समाधान शिविर का आयोजन किया गया। वीर सावरकर सभागार में आयोजित समाधान शिविर में कलेक्टर डॉ. अय्याज तम्बोली ने नक्सल पीडि़त परिवारों की समस्याओं को सुना और उनके समाधान के लिए अधिकारियों को निर्देशित किया। इस अवसर पर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी प्रभात मलिक सहित सभी अनुविभागीय अधिकारी, आदिवासी विकास विभाग के सहायक आयुक्त सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे। कलेक्टर ने नक्सलियों के हाथों मारे गए सभी लोगों के प्रति अपनी श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए उनके परिवारों के प्रति संवेदना व्यक्त की और कहा कि नक्सल पीडि़तों की सहायता के लिए जिला प्रशासन द्वारा पूरी तत्परता के साथ कार्य किया जाएगा। उन्होंने कहा कि पीडि़तों के दु:ख को कम करने तथा उनकी समस्याओं के समाधान के लिए जिला प्रशासन पूरी तरह तत्पर है। 

विधवा को मिला नौकरी का आदेश

कोलेंग क्षेत्र की समस्याओं को दूर करने के प्रयास में नक्सलियों के हाथों मारे गए जनप्रतिनिधि पाण्डूराम की विधवा दशई बाई को यहां शासकीय सेवा की नियुक्ति का आदेश पत्र दिया गया। इसी तरह दरभा की रजनी जोशी को प्रधानमंत्री आवास के तहत आवास तथा विधवा पेंशन स्वीकृत करने के निर्देश कलेक्टर ने दिए। कलेक्टर के समक्ष पीडि़तों ने खेतों में सोलर पम्प स्थापित करने, तालाब खनन, खेतों की मरम्मत, भूमि का बंटवारा और नामांतरण तथा बच्चों की शिष्यवृत्ति आदि समस्याओं को रखा। कलेक्टर ने इन समस्याओं के त्वरित निराकरण के संबंध में अधिकारियों को निर्देशित किया।

22-12-2018
भोंगापाल में 3 जनवरी से होगा खेल महाकुंभ 

कोंडागांव। जिला प्रशासन व खेल एवं युवा कल्याण विभाग की ओर से ‘भोगापाल खेल महोत्सव‘ का आयोजन 3 से 9 जनवरी तक किया जाएगा। भोंगापाल खेल महोत्सव में कोंडागांव जिले के ओपन वर्ग अंतर्गत महिला एवं पुरुष प्रतिभागियों के लिए कबड्डी, वॉलीवाॅल, रस्सा खींच, तीरंदाजी और एथलेटिक्स विधा अंतर्गत 100मीटर, 200 मीटर, 400/800 मीटर, 1500/3000 मीटर दौड़ एवं लोकनृत्य प्रतियोगिता होगी। सभी प्रतियोगिता में महिला एवं पुरुष वर्ग के लिए अलग-अलग पुरुस्कार राशि निर्धारित की गई है। 

ज्ञातव्य है कि कबड्डी में विजेता टीम को 25 हजार रुपए और उपविजेता को 20 हजार रुपए को पुरुस्कार राशि प्रदान की जाएगी। वॉलीबॉल में विजेता टीम को 25 हजार और उपविजेता को 20 हजार रुपए, रस्साखींच में विजेता टीम को 25 हजार एवं उपविजेता को 20 हजार रुपए, तीरंदाजी में प्रथम स्थान अर्जित करने वाले को 10 हजार रुपए, द्वितीय स्थान अर्जित करने वाले को 7 हजार रुपए एवं तृतीय स्थान वाले को 5 हजार रुपए प्रदान किया जाएगा। एथलेटिक्स प्रतियोगिता में प्रथम स्थान अर्जित करने वाले को 5 हजार रुपए, द्वितीय स्थान अर्जित करने वाले को 3 हजार रुपए एवं तृतीय स्थान वाले को 2 हजार रुपए, लोकनृत्य में प्रथम स्थान अर्जित करने वाले को 25 हजार रुपए, द्वितीय स्थान अर्जित करने वाले को 20 हजार रुपए एवं तृतीय स्थान वाले को 15 हजार रुपए की पुरस्कार राशि प्रदान की जाएगी। 

22-12-2018
Marathon Race : मैराथन दौड़ में विकासखंड माकड़ी और कोंडागांव ने मारी बाजी

कोंडागांव। खेल एवं युवा कल्याण विभाग एवं जिला प्रशासन के तत्वाधान में जिला स्तरीय मैराथन दौड़ प्रतियोगिता का आयोजन एनसीसी ग्राउंड में हुआ। दौड़ एनसीसी ग्राउंड से बड़ेकनेरा रोड तक हुई। दौड़ में महिलाओं के लिए 10 किमी और पुरुषों के लिए 20 किमी दूरी निर्धारित की गई थी। प्रतियोगिता में जिले के सभी विकासखंड के दो सौ धावकों ने भाग लिया। दौड़ में महिला वर्ग में माकड़ी की सविता ने प्रथम स्थान प्राप्त किया। पुरुष वर्ग में कोंडागांव के फुलधर विजेता बने। 

ज्ञात हो कि मैराथन दौड़ में प्रथम स्थान के लिए 5 हजार रुपए, दूसरे स्थान के लिए 25 सौ तथा तृतीय, चतुर्थ एवं पांचवें स्थान के लिए 15 सौ, एक हजार एवं पांच सौ की इनाम राशि रखी गई थी। इस क्रम में पहले दस स्थान प्राप्त करने वालों के बाद के 15 विजेताओं को दो सौ पचास रुपए नगद एवं प्रमाण पत्र दिए गए। 

12-12-2018
राज्य वॉलीबॉल चैम्पियनशिप में भाग लेने पहुंचे खिलाड़ी
07-12-2018
गरियाबंद के 18 श्रमिकों को तेलंगाना से कराया बंधनमुक्त
कलेक्टर ने कहा-रोजगार के लिए बाहर जाने की आवश्यकता नहीं 
04-12-2018
Food Corporation of India : कस्टम मिलिंग प्रभावित, प्रशासन ने ली मिलरों की बैठक  

धमतरी। धमतरी जिले में धान परिवहन, भाड़ा, बारदाना का सत्यापन व चावल का मॉइस्चराइजर संबंधित समस्याओं का समाधान नहीं होने के कारण कस्टम मिलिंग का कार्य प्रभावित हो रहा है। इस सिलसिले में मंगलवार को मिलर और जिला प्रशासन के बीच बैठक हुई । उसना राइस मिलर्स एसोसिएशन के प्रतिनिधियों ने बैठक में बताया कि धान के परिवहन का किराया तय नहीं होने के कारण धान का सही ढंग से उठाव नहीं हो पा रहा है। इसी तरह नवम्बर में बारदाने का सत्यापन कर उसका वजन किए जाने पर निर्धारित माप के अनुसार ही भार आंका जा रहा है जिससे प्रति कट्टे के मान से 60 से 80 ग्राम चावल का नुकसान हो रहा है। इस पर कलेक्टर ने भारतीय खाद्य निगम के अधिकारी को इस संबंध में बैठक लेकर उच्च कार्यालय से मार्गदर्शन लेने के निर्देश दिए।

इसके अलावा ग्रेड-ए धान में हाइब्रिड की खरीदी होने के कारण भारतीय खाद्य निगम (एफसीआई) तथा नागरिक आपूर्ति निगम (नान) में एलजी की आ रही समस्या के संबंध में राइस मिलर्स के प्रतिनिधियों ने अवगत कराया। साथ ही समिति द्वारा किए जाने वाले निरीक्षण के अभाव में धान की गुणवत्ता में भी कमी आती है, जिसका खामियाजा मिलरों को भुगतना पड़ता है। इस पर कलेक्टर डॉ सीआर प्रसन्ना ने निकट भविष्य में फिर से बैठक कर विभागों द्वारा समाधान किए जाने के निर्देश दिए। इसी प्रकार एफसीआई से संबंधित समस्याओं के बारे में भी मिलरों ने कलेक्टर के समक्ष अपनी समस्याएं रखीं, जिस पर कलेक्टर ने कहा कि जिन समस्याओं का समाधान जिला प्रशासन स्तर पर संभव है, उसके लिए संबंधित विभागों से समन्वय स्थापित कर जल्द निराकरण किया जाएगा।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804