GLIBS
13-07-2019
नक्सलियों ने की टीआरएस नेता श्रीनिवास राव की हत्या, शव को फेंका सुकमा के जंगल में

जगदलपुर। तेलंगाना से तीन दिन पहले अपहरण किए गए टीआरएस नेता और पूर्व विधायक श्रीनिवास राव की नक्सलियों ने हत्या कर दी है। उनकी लाश छत्तीसगढ़-तेलंगाना बार्डर के निकट सुकमा जिले के किस्टाराम के एरमपाडू और पुट्टापाडू के बीच सड़क किनारे पड़ा मिला। शव के पास ही नक्सलियों ने पर्चे भी फेंके। इसमें कहा गया है कि टीआरएस नेता राव तेलंगाना इंटेलीजेंस के लिए काम करते थे और लोगों को भी मुखबिरी के काम में लगा रहे थे। साथ ही यह भी आरोप लगाया कि आदिवासियों की 70 एकड़ जमीन पर कब्जा भी कर लिया था। जमीन मांगने पर नक्सली मामलों में पुलिस के साथ मिलकर पीड़ितों को फंसा रहे थे। 

जानकारी के मुताबिक, तेलंगाना के भद्रादी कोठागुड़म जिले में उनके गृहग्राम कोथुर से सोमवार रात को नक्सलियों ने टीआरएस नेता श्रीनिवास राव का अपहरण कर लिया था। राव की पत्नी दुर्गा राव का कहना था कि एक दर्जन से ज्यादा लोग उनके पति को अगवा करने आए थे। इस दौरान पहले राव की पिटाई की गई, इसके बाद घसीटते हुए घर से बाहर ले गए। इसके बाद से लगातार उनकी रिहाई के लिए परिवार के सदस्य नक्सलियों से गुहार लगा रहे थे। वहीं तेलंगाना और छत्तीसगढ़ की पुलिस उन्हें ढूंढने में लगी थी। शुक्रवार को उनकी लाश मिलने के बाद परिवार में शोक की लहर दौड़ गई। 

 नक्सलियों ने श्रीनिवास की हत्या के दो प्रमुख कारण भी बताए हैं।  उनकी लाश के पास फेंके गए पर्चें में कहा गया है कि श्रीनिवास तेलंगाना इंटेलिजेंस के लिए काम कर रहे थे। वे खुद तो नक्सलियों की मुखबिरी कर रहे थे साथ में ग्रामीणों को भी इस काम में लगा रखा था। इसके अलावा उनकी हत्या के पीछे की एक बड़ी वजह भी नक्सलियों ने बताई है। इसमें कहा गया है कि श्रीनिवास ने आदिवासियों की 70 एकड़ जमीन पर कब्जा कर लिया था। आदिवासी जब इसका विरोध करते या जमीन खाली करने कहते तो वह उन्हें पुलिस के साथ मिलकर झूठे नक्सली मामलों में फंसा देते थे। ऐसे में उसे सजा दी गई है। 

टीआरएस नेता की हत्या की जिम्मेदारी नक्सलियों की शबरी एरिया कमेटी की सेक्रेटरी शारदा ने ली है। माना जा रहा था कि अपहरण के बाद तेलंगाना से राव को छत्तीसगढ़ लाया गया था। तेलंगाना के नक्सलियों ने सुकमा इलाके में तैनात नक्सलियों की बटालियन नंबर एक की मदद लेकर श्रीनिवास को दक्षिण सुकमा बॉर्डर वाले इलाके में रखे जाने की आशंका थी। राव की आखिरी लोकेशन भी चंदा-कोट्टापदु के जंगलों में मिली थी, जो छत्तीसगढ़ के जंगलों से मिला हुआ है। इधर, भद्रादरी कोत्तागुडूम जिले के एसपी सुनील दत्त ने कहा कि श्रीनिवास किसानों और ग्रामीणों के लिए अच्छा काम कर रहे थे। उनके हत्यारों को छोड़ा नहीं जाएगा।

28-06-2019
नक्सली मुठभेड़ में दो जवान शहीद, एक घायल

बीजापुर। बीजापुर जिले में आज सुबह पुलिस और नक्सलियों के बीच हुयी मुठभेड़ में केन्द्रीय सुरक्षा बल के दो जवान शहीद हो गये, वहीं एक जवान घायल हो गया। मुठभेड़ के दौरान हुयी क्रास फायरिंग में एक बालिका की मौत तथा एक स्कूली छात्रा भी जख्मी हो गयी। पुलिस सूत्रों के अनुसार भैरमगढ़ थाने से जिला पुलिस बल और केन्द्रीय रिजर्व पुलिस बल का संयुक्त बल गश्त के लिए रवाना हुआ था। ग्राम केशकुतुल सुकानाला के निकट घात लगाए नक्सलियों ने पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी। जवाबी कार्रवाई में पुलिस ने भी फौरन मोर्चा संभालते हुए गोलीबारी की। लगभग एक घंटे की मुठभेड़ बाद अंतत: नक्सली घने जंगल और पहाड़ी की आड़ लेकर भाग गये।

नक्सली गोलीबारी में सीआरपीएफ का एक जवान ओ पी मांझी मौके पर शहीद हो गया और दो जवान बुरी तरह जख्मी हो गए। अस्पताल में इलाज के दौरान एक और जवान महादेव पाटिल भी शहीद हो गया। मुठभेड़ के दौरान भैरमगढ़ बाजार की ओर आ रही वाहन में सवार एक नाबालिग बालिका जिब्बी तेलम को गोली लग गयी, जिससे उसकी मौत हो गयी। गोलीबारी में एक स्कूली छात्रा रिंकी हेमला जख्मी हुयी है, जिसका इलाज भैरमगढ़ अस्पताल में जारी है। घायल जवान को बेहतर उपचार के लिए एम्बुलेंस से जगदलपुर भेजा गया है।

26-06-2019
1 लाख के इनामी नक्सली सहित दो गिरफ्तार

दंतेवाड़ा। जिले के डीआरजी की टीम और बारसूर पुलिस की संयुक्त टीम ने सर्चिंग के दौरान दो नक्सलियों को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है। बताया जाता है कि गिरफ्तार नक्सली में एक पर 1 लाख रुपए का इनाम घोषित है। नक्सल विरोधी अभियान के तहत डीआरजी और बारसूर पुलिस  टीम ने ग्राम बोदली के पास घेराबंदी कर दो नक्सलियों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार नक्सली में जनमिलिशिया कमांडर सकरू मंडावी और गांडा राम है। दोनों पर पर हत्या, आगजनी, शासकीय कार्य में बाधा सहित कई अपराध दर्ज हंै। वहीं सकरू मंडावी के खिलाफ 1 लाख रुपए इनाम की घोषणा भी है।

 

20-06-2019
सुरक्षाबल और नक्सली मुठभेड़ में इनामी एरिया कमांडर ढेर

रांची। सिमडेगा जिले के बानो थाना क्षेत्र के गिरदा में पुलिस और नक्सलियों में मुठभेड़ हुई। सीआरपीएफ सूत्रों के अनुसार मुठभेड़ में प्रतिबंधित उग्रवादी संगठन पीपुल्स लिबरेशन फ्रंट ऑफ इंडिया(पीएलएफआई) का एरिया कमांडर वगरइ चम्पीया मारा गया है। उस पर दो लाख का इनाम घोषित था। सर्च अभियान के दौरान घटनास्थल से एक एके-47 राइफल बरामद किया गया है।

सीआरपीएफ 94 बटालियन एवं राज्य पुलिस की संयुक्त टीम के साथ सिमडेगा जिला के बानो थाना क्षेत्र के उरमू गांव के पास के जंगल में नक्सलियों के साथ बुधवार को मुठभेड़ हुई थी। एएसपी निर्मल गोप ने बताया कि एसपी संजीव कुमार को नक्सलियों की मूवमेंट की सूचना मिली थी। सूचना के बाद इलाके में सर्च अभियान चलाया गया। इसी दौरान मुठभेड़ में एक नक्सली मारा गया और एक एके 47 बरामद किया गया है। सर्च अभियान अब भी जारी है।

19-06-2019
चार नक्सलियों ने दंतेवाड़ा एसपी के सामने किया समर्पण

 

जगदलपुर। दक्षिण बस्तर दंतेवाड़ा जिला में  4 नक्सलियों ने पुलिस के सामने समर्पण कर दिया है। इन नक्सलियों पर कई संगीन वारदातों में शामिल होने का आरोप है। जानकारी के अनुसार ये नक्सली अलग-अलग इलाकों में काफी लंबे समय से सक्रिय थे। इनमें ओडि़शा जिले के कालाहांडी इलाके के रायगढ़ा एरिया कमेटी सचिव ने दंतेवाड़ा एसपी के समक्ष आत्मसमर्पण किया है। पुलिस का दावा है कि  8 लाख के इनामी सेंट्रल सुरक्षा प्लाटून नम्बर 13 कमांडर वासदेव समेत 4 माओवादियों ने एसपी अभिषेक पल्लव के सामने सरेंडर किया है। पुलिस ने इन नक्सलियों का नाम गुड्डू उर्फ वासदेव, दिलीप पुनेम, लक्ष्मण अटामी और मुन्ना राम बताया है। कमांडर वासदेव बीजापुर और ओडि़शा में हुए 13 जवानों की शहादत जैसी कई संगीन घटनाओं में शामिल रहा है। 

12-06-2019
नक्सल क्षेत्रों से आए परीक्षार्थी की बताई व्यथा, सरकार कर रही नक्सली बनने को मजबूर 

रायपुर। राजधानी रायपुर के इदगाहभाठा में करीब सौ युवाओं के दल ने बुधवार को दूसरे दिन भी धरना प्रदर्शन किया। पुलिस आरक्षक पद की भर्ती की सारी प्रक्रियाओं के बाद भी रिजल्ट जारी नहीं किए जाने के विरोध में युवाओं ने प्रदर्शन जारी रखा है। प्रदर्शनकारियों में सभी ने पुलिस आरक्षक भर्ती परीक्षा दी है। इन युवाओं ने सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी करते हुए जल्द परिणाम जारी करने की मांग की है। प्रदर्शनकारियों ने कहा कि शासन प्रशासन हमारी मांग पर ध्यान नहीं देगा तो पैदल मार्च निकालेंगे साथ ही जल सत्याग्रह भी करेंगे। जानकारी के अनुसार इस मामले को लेकर एसडीएम जल्द प्रदर्शनकारियों से मिलने के लिए जाएंगे।  

मजबूर किया जा रहा नक्सली बनने पर 

अबूझमाड़ से आए एक परीक्षार्थी ने अपनी व्यथा सुनाई। उन्होंने बताया कि हम पुलिस डिपार्टमेंट में जाने की सोचते है तो नक्सलियों के द्वारा प्रताड़ित किया जाता है। साथ ही हमारे घर को भी जला दिया जाता है। अगर सरकार जल्द रिजल्ट घोषित नहीं करती है तो नक्सली बनने के अलावा और कोई विकल्प नहीं होगा। बता दें कि छत्तीसगढ़ के बिलासपुर हाईकोर्ट के आदेश के बाद भी कांस्टेबल भर्ती परीक्षा परिणाम जारी नहीं किया गया है। इस पर याचिकाकर्ताओं ने फिर से कोर्ट की शरण भी ली है।  आक्रोशित परीक्षार्थियों ने बीते 10 जून को हाईकोर्ट पहुंच कर अधिवक्ता के माध्यम से अवमानना याचिका दायर करने की प्रक्रिया पूरी की। इसके बाद बुधवार को रायपुर में प्रदर्शन करने पहुंचें है। 

10-06-2019
गश्त पर निकली पुलिस के हत्थे चढ़ा हार्डकोर नक्सली, हत्या और आगजनी  में था शामिल

 

दंतेवाड़ा । जिले के पामेड़ पुलिस और एसटीएफ के जवान संयुक्त रूप में गश्त पर निकले थे। तभी पुलिस के जवानों ने जंगल में घूम रहे हार्डकोर नक्सली को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है।  बता दें कि आज पामेड़ पुलिस और एसटीएफ के जवान के टीम गश्त पर निकले थे तभी जंगल में घूम रहे एक माओवादी अर्जुन कुंजाम को जवानों ने धर दबोचा। बताया जा रहा है कि अर्जुन कुंजाम के खिलाफ पामेड़ थाना में कई मामले दर्ज हैं। पामेड़ क्षेत्र के नक्सली संगठन में गिरफ्तार माओवादी मिलिशिया कमाण्डर के पद पर लंबे समय से सक्रिय था। गिरफ्तार नक्सली बीते 3 जनवरी को हुए धरमावरम मार्ग पर ट्रैक्टर में आगजनी, 27 अप्रैल को हुए तोंगगुड़ा में एक सहायक आरक्षक और एक आरक्षक की हत्या की घटना में शामिल था। इसके साथ ही नक्सली अर्जुन कुंजाम 2007 में 12 जवानों की हत्या, 2010 में पामेड़ किराना दुकान में 2 जवानों की हत्या की घटनाओं को भी अंजाम दे चुका है।

26-05-2019
मुखबिरी के आरोप में नक्सलियों ने की कांग्रेसी कार्यकर्ता की निर्मम हत्या

बीजापुर। नक्सली अपनी कायराना हरकतों से बाज नहीं आ रहे हैं। रविवार को नक्सलियों ने मुखबिरी के आरोप में एक कांग्रेस कार्यकर्ता की धारदार हथियार से हत्या कर दी। बीजापुर के भैरमगढ़ थाना के कोस्टापारा इलाके में नक्सलियों ने घटना को अंजाम दिया है।  एसपी गोवर्धन ठाकुर ने इस घटना की पुष्टि की है।  मिली जानकारी के अनुसार नक्सलियों ने शनिवार की दरमियानी रात मुखबिरी के आरोप में कांग्रेस कार्यकर्ता को घर से निकलकर धारधार हथियार से हत्या कर दी। घटना के बाद से इलाके में भय का माहौल है।

15-05-2019
नक्सलियों ने ग्राम के मार्गो को किया तहस नहस, लगाए बैनर, पोस्टर

दंतेवाड़ा। नक्सली अपनी कायराना हरकतों से बाज नहीं आ रहे हैं। इस बार माओवादियों ने लोगों को भयभीत करने के लिए दंतेवाड़ा जिले के ग्रामीण क्षेत्रों में पर्चे, पोस्टर और बैनर लगाए है और 18 मई को बस्तर बंद की घोषणा की है। नक्सलियों ने पोस्टर में लिखा है सरकार की दमनकारी योजनाओं के खिलाफ 18 मई को दिन-दरभा डिविजन बंद सफल बनाएं। डुवालीकरका और पेरपा में हुई फर्जी मुठभेड़ों की निंदा करें। गोंडेरास में पुलिस द्वारा किया गया हत्याकांड और बर्बरतापूर्ण कार्रवाई के विरोध में आवाज बुलंद करें।  ग्रामीणों को आवागमन में असुविधा हो इसके लिए नक्सलियों ने दंतेवाड़ा जिले के ग्राम गुनियापाल, हिरोली, पीरनार की सड़क को खोद दिया है। नक्सलियों ने मार्गो में अवरोध उत्पन्न करने के लिए पेड़ काटकर डाल दिए हैं। नक्सलियों की दरभा डिवीजन की मलांगीर एरिया कमेटी ने सड़क रास्ते पर गहरे गड्ढे खोदे हैं। पेड़ों में पर्चे, पोस्टर, बैनर लगाया है।

13-05-2019
जो कभी थीं नक्सली अब संभालेंगी नक्सलियों के खिलाफ मोर्चा

रायपुर। जो कभी नक्सली थीं अब नक्सलियों के खिलाफ मोर्चा संभालेगीं। प्रदेश के नक्सल प्रभावित एरिया बस्तर और दंतेवाड़ा में महिला नक्सल विरोधी दस्ते का गठन किया गया है। इस दस्ते हो दंतेश्वरी लड़ाके का नाम दिया गया है। इस दल में 30 महिला कंमाडों को शामिल किया गया, जिसमें 7 पूर्व नक्सली महिलाएं, जो आत्मसर्मपण कर चुकीं है। 

महिला लड़ाकों को कमान दिए जाने के बाद बस्तर जिले के आईजी विवेकानंदा सिन्हा ने 'दंतेश्वरी लड़ाके' यूनिट के बारे में बताया कि महिला पुलिस कमांडो अपने पुरुष समकक्षों के साथ काम करने जा रही हैं। मझे यकीन है कि महिला कमांडो अच्छा काम करेंगी और यह महिला सशक्‍तीकरण का एक अनूठा उदाहरण है। दंतेश्वरी लड़ाके नाम देवी दंतेश्वरी के नाम पर रखा गया है। 

 

11-05-2019
नक्सलियों ने किया आईईडी ब्लास्ट, सुरक्षा बल के दो जवान और एक ग्रामीण घायल

सुकमा। नक्सली अपनी कायरान हरकतों से बाज नहीं आ रहे हैं। नक्सलियों ने शनिवार को प्रदेश की सीमा में ओडिशा से लगे मलकागिरी के जंगलों में आईईडी ब्लास्ट किया। इसमें सुरक्षा बल के दो जवान सहित एक ग्रामीण घायल हो गया। मिली जानकारी के अनुसार सुरक्षा बल के जवान बोगापदर के जंगलों में सर्चिंग पर निकले थे। इसी दौरान नक्सलियों की ओर से लगाए गए आईईडी ब्लास्ट के चपेट में आ गए। इसमें एसओजी के दो जवान और एक ग्रामीण घायल हो गया। घायल जवानों को इलाज के लिए विशाखापट्टनम भेजा गया है। मामला ओडिशा के मथली थाना क्षेत्र का है।

01-05-2019
गढ़चिरौली के नक्सली हमले का असर बालाघाट में भी, पुलिस सतर्क

बालाघाट। महाराष्ट्र के गढ़चिरौली में नक्सली वारदात के बाद छग की सीमा से लगे बालाघाट के सीमावर्ती इलाके में तैनात जवानों को सतर्कता बरतने के निर्देश दिए गए हैं। साथ ही नक्सल प्रभावित इलाकों में पुलिस ने सर्चिंग   तेज कर दी है। बालाघाट के एसपी अभिषेक तिवारी ने बताया है सुरक्षा कारणों से नक्सली हलचल को देखते हुए सभी थाना व चौकियों को अलर्ट कर पुलिस ने जंगल में स्पेशल ऑपरेशन शुरू कर दिया है। महाराष्ट्र व छग की सीमा में लगे बॉर्डर कैंप के एरिया में सर्चिंग बढ़ाई गई है। यहां पुलिस चप्पे-चप्पे पर नजर रख रही है। एसपी का कहना है कि सुरक्षा के लिहाज से जंगलों में फोर्स बढ़ाने के साथ ही पुलिस ने ऑपरेशन प्लान कर पार्टियां उतारी हैं। वहीं मुखबिर सूचना तंत्र को भी सक्रिय कर दिया है। नक्सलियों की हर हरकत पर पुलिस पैनी नजर बनाए हुए हैं। 

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804