GLIBS
16-05-2019
थोवारी माला भूमि संघर्ष के गिरफ्तार साथियों की नि:शर्त रिहाई की मांग

राजिम। अखिल भारतीय क्रांतिकारी किसान सभा के राज्य सचिव कॉमरेड तेजराम विद्रोही ने कहा है कि केरल के वायनाड जिले में थोवारी माला की जमीन पर भूमि संघर्ष समिति ने दखल कर उस पर आदिवासियों और भूमिहीनों का अधिकार स्थापित किया है। भूमिहीन किसानों ने  21 अप्रैल 2019 को आवास और कृषि भूमि के लिए आंदोलन खड़ा किया है। एक हजार से ज्यादा भूमिहीन किसान परिवारों ने थोवारी माला में अपनी झोपड़ी खड़ा कर भूमि संघर्ष का बिगुल फूंका है और 250 एकड़ से अधिक जमीन पर कब्जा किए हैं। तेजराम विद्रोही ने कहा कि केरल में अच्युत मेनन की सरकार ने 1970 में थोवारी माला की इस जमीन का बहुराष्ट्रीय कंपनी हैरिसन मलयालम प्लांटेशन से अधिग्रहण किया था, परंतु अब तक किसी भी सरकार ने इसका भूमिहीन परिवारों के बीच बंटवारा नहीं किया। तेजराम विद्रोही ने आरोप लगाया कि केरल में पिनरायी विजयन की सरकार हैरिसन प्रबंधन के साथ सांठगांठ कर इस जमीन को फिर हैरिसन कंपनी को देने का प्रयास कर रही है जिसे पिछले पचास वर्षों से अतिरिक्त भूमि घोषित किया गया है। सरकार द्वारा नियुक्त कई आयोगों ने कहा है कि हैरिसन ने झूठे दस्तावेजों के आधार पर केरल के सात जिलों में एक लाख एकड़ से अधिक जमीन पर गैरकानूनी कब्जा कर रखा है। छह कंपनियों का करीब सवा पांच लाख एकड़ जमीन पर कब्जा है। वायनाड में आदिवासी आबादी 17 प्रतिशत है जो भूमिहीन और बेहद गरीब है। लेकिन राज्य की अब तक की किसी भी सरकार ने इसका वितरण नहीं किया है जबकि इस पर आदिवासियों को वैध अधिकार है। इस दौरान भूमि संघर्ष का अगुवाई कर रहे अखिल भारतीय क्रांतिकारी किसान सभा के संयुक्त सचिव और केरल राज्य इकाई के सचिव कॉमरेड एम पी कूंहिकनारान, राजेश अप्पाट और मनोहरन को गिरफ्तार कर कन्नूर सेंट्रल जेल में डाल दिया गया है। 6 मई से  जेल में ही कॉमरेड एम पी कूंहिकनारान ने अनिश्चितकालीन भूख हड़ताल के माध्यम से आंदोलन जारी रखा है।  केरल सरकार की इस दमनात्मक कदम का अखिल भारतीय क्रांतिकारी किसान सभा ने निंदा की  है और गिरफ्तार साथियों को नि:शर्त रिहा करने तथा थोवारी माला की जमीन को गरीब, भूमिहीन, आदिवासी किसान परिवारों को वितरित करने की मांग की है। 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804

All Over India

Won: 542/542LW
भाजपा0303
कांग्रेस052
बसपा011
सपा05

Chhattisgarh

Won: 11/11LW
भाजपा09
कांग्रेस02
बसपा00
अन्य 00