GLIBS
20-05-2019
महबूबा ने ‘एक्जिट पोल’ को लेकर न्यूज चैनलों के एंकरों पर कसा तंज

श्रीनगर। पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) अध्यक्ष एवं जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने लोकसभा चुनावों को लेकर विभिन्न समाचार चैनलों के ‘एक्जिट पोल’ को लेकर न्यूज एंकरों पर तंज कसा है। सुश्री महबूबा ने न्यूज चैनलों के एक्जिट पोल पर टिप्पणी करते हुए कहा है कि अधिकांश चैनल के एंकर ‘एक्जिट पोल’ को लेकर ऐसे उछल रहे थे, जैसे किसी बच्चे को टॉफी की दुकान से टॉफियां हाथ लग गयी हों। उन्होंने ट्विटर पर लिखा, अधिकांश न्यूज एंकर ‘एक्जिट पोल’ को लेकर ऐसे उछल रहे हैं, जैसे किसी बच्चे को टॉफी की दुकान से टॉफियां हाथ लग गयी हों। तेरे आने से यूं खुश है दिल जैसे की बुलबुल बहार की खातिर।

उल्लेखनीय है कि विभिन्न समाचार चैनलों ने रविवार को अपने ‘एक्जिट पोल’ में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नीत राष्ट्रीय गठबंधन सरकार (राजग) को लोकसभा की 542 सीटों में से तीन सौ सीटें मिलने की अनुमान जताया था। इस बीच, अधिकांश एग्जिट पोल ने दशार्या गया कि जम्मू में भाजपा दो सीटें जीतेगी, कांग्रेस लद्दाख में एक सीट पाएगी, जबकि नेशनल कांफ्रेंस कश्मीर घाटी की सभी तीन सीटों पर कब्जा कर लेगी। एग्जिट पोल के मुताबिक महबूबा के नेतृत्व वाली पीडीपी को कश्मीर की तीनों सीटों से हार का मुंह देखना पड़ सकता है।

11-05-2019
सैम पित्रोदा की टिप्पणी कांग्रेस के लिए ‘सेल्फ गोल’ जैसी : महबूबा

श्रीनगर। वर्ष 1984 के सिख दंगों को लेकर कांग्रेस नेता सैम पित्रोदा की ‘हुआ तो हुआ’ टिप्पणी को आम चुनाव के माहौल में पार्टी के लिए ‘सेल्फ गोल’ करने जैसा निरुपित करते हुए पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) अध्यक्ष एवं जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने कहा है कि एक बुद्धिमान दुश्मन किसी मूर्ख मित्र से बेहतर होता है। पित्रोदा को बयान को अस्वीकार्य करार देते हुए सुश्री मुफ्ती ने ट्विटर पर कहा, ‘ऐसे समय में जब लोग सोच रहे हैं कि इन चुनावों में कांग्रेस ने शिष्टाचार बनाए रखा है, ये ‘हुआ तो हुआ’ हो गया। सैम पित्रोदा के योगदान के लिए भले ही उनकी सराहना की जाए, लेकिन 1984 के भीषण दंगों को लेकर उनका यह बयान अस्वीकार्य है। एक बुद्धिमान शत्रु मूर्ख मित्र से बेहतर है।

01-05-2019
मुद्दाविहीन भाजपा 370 और 35ए पर कर रही बयानबाजी : महबूबा मुफ्ती

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती कहा है कि भाजपा के पास अनुच्छेद 370 और 35ए के अलावा कोई और मुद्दा नहीं रहा। वह हर कदम पर नाकाम रही है। चाहे बेरोजगारी की बात हो या महंगाई का मसला, या फिर किसानों की परेशानियों का हल निकालना रहा हो। इसलिए अब वे रियासत के विशेष दर्जे को लेकर राजनीति कर रहे हैं। वे बुधवार को श्रीनगर में भाजपा की तरफ  से दिए गए बयानों पर प्रतिक्रिया दे रही थीं, जिसमें कहा गया था कि अगर वह दोबारा हुकूमत बनाएंगे तो 370 और 35ए को खत्म कर देंगे। उन्होंने कहा कि डॉ. फारूक अब्दुल्ला के पिता शेख मोहम्मद अब्दुल्ला के दौर में जम्मू कश्मीर का जो हिंदुस्तान के साथ विलय हुआ उसमें 370 और हमारा विशेष दर्जा उसकी एक बुनियाद है। अगर उसके साथ छेड़छाड़ होती है तो इसका मतलब यह है कि जो जम्मू कश्मीर का रिश्ता मुल्क के साथ है वह खतरे में पड़ जाएगा। दक्षिणी कश्मीर के दो चरणों में हुए कम मतदान को लेकर महबूबा मुफ्ती  ने कहा कि हालात कुछ ऐसे हैं जिसके कारण वहां कम मतदान हुआ। दक्षिणी कश्मीर के लोगों ने मुसीबतें भी काफी झेली हैं, वहां मौतें भी काफी हुई हैं। उसका भी एक असर चुनाव पर देखने को मिला। 

 

 

24-04-2019
एक महीने तक न्यायिक हिरासत में भेजे गए यासीन मलिक, महबूबा मुफ्ती ने मांगी रिहाई 

दिल्ली। आतंकवाद के वित्तपोषण मामले में गिरफ्तार अलगाववादी नेता यासीन मलिक को दिल्ली की पटियाला हाउस अदालत ने 24 मई तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। इधर जम्मू कश्मीर की पू्र्व मुख्यमंत्री और पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने यासीन मलिक को न्यायिक हिरासत में भेजने के फैसले का विरोध किया है।

महबूबा मुफ्ती ने यासीन मलिक के गिरते स्वास्थ्य के मद्देनजर उन्हें तत्काल प्रभाव से रिहा करने की अपील की है। इसके अलावा महबूबा ने जमात-ए-इस्लामी के अन्य सदस्यों को भी रिहा करने की मांग की। बता दें कि अलगाववादियों और आतंकी संगठनों को वित्तीय मदद मुहैया कराने संबंधी मामले में राष्ट्रीय जांच एजेंसी  द्वारा गिरफ्तार किए गए मलिक ने 19 अप्रैल को सीने में दर्द की शिकायत की थी। उन्हें मेडिकल जांच के लिए राम मनोहर लोहिया अस्पताल भेजा गया और नियमित जांच के बाद डॉक्टरों ने उन्हें छुट्टी दे दी। उसके बाद से वह न्यायिक हिरासत में तिहाड़ जेल में हैं। 

22-04-2019
तो पाकिस्तान ने भी ईद के लिए नहीं रखे हैं परमाणु बम : महबूबा मुफ्ती 

श्रीनगर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बयानों की कड़ी आलोचना करते हुए और पाकिस्तान का पक्ष लेते हुए जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री और पीडीपी प्रमुख महबूबा मुफ्ती ने  कहा है कि  पाकिस्तान ने भी अपने परमाणु बम ईद के लिए बचाकर नहीं रखे हैं। बता दें कि पीएम मोदी ने पाकिस्तान को चेताते हुए कहा था कि हमने दिवाली मनाने के लिए परमाणु बम नहीं रखा है। इस दौरान महबूबा ने पीएम मोदी के चुनावी भाषणों के स्तर को लेकर भी नाराजगी जताई। ज्ञात हो कि राजस्थान के बाड़मेर में चुनावी जनसभा में पीएम मोदी ने पाकिस्तान को चेतावनी देते हुए कहा था कि हमने परमाणु बम को दिवाली के लिए नहीं रखा हुआ है। भारत ने पाकिस्तान की धमकी से डरने की नीति को छोड़ दिया है। उन्होंने कहा था कि हमने घर में घुसकर आतंकवादियों को मारा। चोट वहां लगी और दर्द यहां हुआ।  दरअसल राजस्थान में अपने भाषण में कांग्रेस पर हमला बोलते हुए मोदी ने आरोप लगाया कि 1971 की लड़ाई में जम्मू कश्मीर की समस्या को हल करने का बेहतर मौका कांग्रेस ने गंवा दिया था। इस दौरान अपनी सरकार की तारीफ  करते हुए पीएम ने कहा था,  आज का भारत बिना युद्ध के पाकिस्तान की सीमा के भीतर घुसकर आतंकियों को ढेर कर रहा है। हमने आतंकियों के मन में डर पैदा किया। 

 

 

20-04-2019
अनंतनाग लोकसभा सीट पर तीन चरणों में होगा मतदान 

नई दिल्ली। जम्मू-कश्मीर की अनंतनाग लोकसभा सीट पर पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती सहित 18 उम्मीदवार चुनावी समर में है। अनंतनाग, कुलगाम, शोपियां और पुलवामा में फैली अनंतनाग संसदीय सीट पर लोकसभा के अगले तीन चरणों के दौरान 23 अप्रैल, 29 अप्रैल और छह मई को मतदान होगा। इस संसदीय सीट पर 13.93 लाख मतदाता है। सुरक्षा कारणों से चुनाव आयोग ने अनंतनाग संसदीय क्षेत्र में मतदान का समय दो घंटे कम कर दिया है। यहां सुबह 7 बजे से शाम 4 बजे तक मतदान होगा।

पूर्व मुख्यमंत्री एवं पीपुल्स डेमोक्रेटिक फ्रंट (पीडीपी) की प्रमुख महबूबा मुफ्ती के अलावा यहां राज्य कांग्रेस अध्यक्ष जीए मीर और न्यायाधीश (सेवानिवृत्त) हसनैन मसूदी समेत 18 उम्मीदवार मैदान में हैं। यह देश की एकमात्र संसदीय सीट हैं जहां तीन चरणों में मतदान होगा।

15-04-2019
Mehbooba Mufti: कश्मीर कश्मीरी लोगों का, यह किसी की जागीर नहीं : महबूबा मुफ्ती

श्रीनगर। पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने कहा है कि कश्मीर कश्मीरी लोगों का है, यह किसी की जागीर नहीं है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा उत्तरप्रदेश के मुरादाबाद में एक चुनावी रैली में पुलवामा हमले और उसके बाद भारतीय वायुसेना द्वारा पाकिस्तान के भीतर  हवाई हमले करने तथा पाकिस्तान को एक और चेतावनी देने पर पीडीपी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती ने प्रतिक्रिया देते हुए पीएम मोदी पर निशाना साधा है।  बता दें कि प्रधानमंत्री मोदी ने रैली में कहा था कि पुलवामा में जब पाकिस्तान ने दूसरी बार गलती की तो हम उसके घर में घुसे और हवाई हमला किया। उधर वालों को भी समझ में आ गया है कि अगर तीसरी गलती की तो लेने के देने पड़ जाएंगे। पीएम मोदी के इस बयान पर पलटवार करते हुए महबूबा मुफ्ती ने कहा कि भाजपा राष्ट्रीय सुरक्षा के नाम पर डर का माहौल पैदा कर रही है। भाजपा लोकसभा चुनाव जीतने की छटपटाहट में बालाकोट जैसे एक अन्य हमले की तैयारी कर रही है।  महबूबा ने एक ट्वीट में कहा कि ऐसा प्रतीत होता है कि हमारे जवानों की कुर्बानी का नाजायज लाभ उठाकर और मतदाताओं के ध्रुवीकरण से बीजेपी को मदद नहीं मिली है। ऐसे में वह चुनाव जीतने की छटपटाहट में अब राष्ट्रीय सुरक्षा ने नाम पर डर पैदा करके बालाकोट जैसे एक अन्य हमले के लिए आधार तैयार कर रही है।  

11-04-2019
मैं धमकियों से डरने वाली नहीं हूं : महबूबा

श्रीनगर। जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती को गिरफ्तार किए जाने की भारतीय जनता पार्टी की मांग पर प्रतिक्रिया करते हुए उन्होंने गुरुवार को कहा कि वह ऐसे दांव-पेंच और धमकियों से डरने वाली नहीं हैं और ऐसी लकड़ी की भी नहीं बनी है जो आसानी से जला दी जाए। जम्मू- कश्मीर राष्ट्रीय राजमार्ग पर नागरिकों के लिए यातायात प्रतिबंध के बारे में लेकर भाजपा ने सुश्री महबूबा पर लोगों को कथित तौर उकसाने के लिए उनकी गिरफ्तारी की मांग की है। सुश्री महबूबा ने ट्वीट कर कहा, ‘भाजपा चाहती है कि मुझे कश्मीरियों को उनकी ही सड़कों का इस्तेमाल करने के लिए उकसाने पर गिरफ्तार किया जाए लेकिन ऐसे दांव-पेंच और धमकियों से मैं डरने वाली नहीं हूं। वे लोग भूल गए हैं कि मैं वो लकड़ी नहीं हूं जो आसानी से जल जाएगी।’ इस मामले पर भाजपा जम्मू-कश्मीर के प्रवक्ता सुनील सेठी ने कहा, ‘सुश्री महबूबा पर लोगों को बुधवार और रविवार को राष्ट्रीय राजमार्ग पर लोगों की आवाजाही पर प्रतिबंध वाले आदेश का उल्लंघन के लिए उकसाने को लेकर प्राथमिकी द र्जहोनी चाहिए।’ उन्होंने कहा, ‘हम सुश्री महबूबा द्वारा जनता को कानून तोड़ने के लिए उकसाने पर उनकी गिरफ्तारी की मांग करते हैं।’

Advertise, Call Now - +91 76111 07804