GLIBS
23-04-2019
 निर्वाचन की गतिविधियों पर मॉनिटरिंग सेल से रखी जा रही नजर  

रायपुर। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी कार्यालय में लोकसभा निर्वाचन के तीसरे चरण में राज्य के 7 लोकसभा क्षेत्रों में हो रहे निर्वाचन की गतिविधियों पर नजर रखने के लिए तगड़े मॉनिटरिंग सेल स्थापित किए गए हैं। इसके अंतर्गत इलेक्ट्रॉनिक मीडिया सेल, सोशल मीडिया सेल,कंट्रोल रूम स्थापित किए गए हैं। वहीं 3200 मतदान केंद्रों की वेब कास्टिंग की जा रही है। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी सुब्रत साहू इन निगरानी कक्षोँ के माध्यम से पल पल की गतिविधियों की निगरानी कर रहे हैं।

 

15-04-2019
एक लाख से अधिक संदिग्ध लेन-देन पर चुनाव आयोग की नजर

रायपुर। लोकसभा चुनाव में मतदाताओं को धनबल से रिझाने को लेकर चुनाव आयोग निगरानी रख रहा है। इसके लिए एक लाख रुपए से अधिक हर संदिग्ध लेन-देन की जानकारी आयोग ने सभी बैंकों से मांगी है। भारत निर्वाचन आयोग के व्यय प्रेक्षकों ने इस संबंध में सोमवार को जिला कलेक्टोरेट स्थित रेडक्रास भवन में जिले के 66 बैंकों के अधिकारियों की बैठक ली।

    व्यय प्रेक्षकद्वय कुमार अजीत और जाधवर विवेकानंद राजेंद्र ने बैंक अधिकारियों से कहा कि वे दो तरह से मानीटरिंग करें। पहला एक लाख से 10 लाख रुपए और दूसरा 10 लाख रुपए से अधिक रकम के लेन-देन का रिकार्ड चेक करें, यदि इन दोनों तरह के लेन-देन में किसी तरह का संदेह होता है तो तत्काल जिला स्तरीय नियंत्रण कक्ष के दूरभाष क्रमांक 0771-2435444 पर सूचित करें। इसमें नगद लेन-देन के साथ मनी ट्रांसफर, आरटीजीएस, अकाउंट ट्रांसफर सहित सभी तरह के रिकार्ड की निगरानी की जानी है। व्यय प्रेक्षक कुमार अजीत ने बैंक अधिकारियों से कहा कि चुनाव आचार संहिता लगने के बाद से किसी बैंक ने एक भी संदिग्ध लेन-देन की जानकारी नहीं पकड़ी है, सभी अपनी रिपोर्ट निरंक भेज रहे हैं। ऐसा संभव नहीं है कि एक लाख से अधिक लेन-देन नहीं हो रहे हों। इसकी जानकारी प्रतिदिन सुबह भेजी जानी है। यदि बैंक को इसमें कुछ संदिग्ध लगता है तो उसकी तत्काल सूचना देनी है। उन्होंने कहा कि 14 मार्च से आज तक हुए लेन देन की जानकारी शाम तक उपलब्ध कराई जाए तथा मंगलवार सुबह से 24 अप्रैल में तक रिपोर्ट रोजाना सुबह आयोग को भेजा जाना सुनिश्चित करें। बैठक में उप जिला निर्वाचन अधिकारी राजीव पाण्डेय, एलबीएम प्रवेश चौहान सहित 66 बैंकों के प्रतिनिधि मौजूद थे।

15-04-2019
140 मतदान केन्द्रों पर वेबकास्टिंग के माध्यम से रहेगी तीसरी नजर

कोरिया। कोरिया जिले में 23 अप्रैल को होने वाले लोकसभा निर्वाचन में जिले के 140 मतदान केन्द्रों पर वेबकास्टिंग की व्यवस्था राज्य निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार की जा रही है। इन केन्द्रों के अलावा 550 मतदान केन्द्रो पर माईक्रो आब्जर्वर नियुक्त किए जाएंगे। यह जानकारी कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी ने प्रेसवार्ता के दौरान पत्रकारों से साझा किया। इस दौरान कोरिया जिले के तीनों विधानसभा तथा मरवाही विधानसभा क्षेत्र के लिए सामान्य प्रेक्षक के रूप में भारत निर्वाचन आयोग के प्रतिनिधि अजय कुमार शुक्ला उपस्थित थे। कलेक्टर भोस्कर विलास संदिपान ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में जिले के प्रिंट एवं इलेक्ट्रानिक मीडिया के प्रतिनिधियेां को आदर्श आचरण संहिता के पालन एवं लोकसभा निर्वाचन की तैयारियों की जानकारी दी। इस अवसर पर उन्होंने सामान्य प्रेक्षक अजय कुमार शुक्ला के द्वारा स्ट्रांग रूम सहित विभिन्न कक्षों एवं मतदान केंद्रों का अवलोकन कर संबंधित अधिकारियों की बैठक लिए जाने के संबंध में भी जानकारी दी। 

जिले के तीनों विधानसभा में होने वाले वेबकास्टिंग के संबंध में उन्होंने बताया कि कुल 140 मतदान केन्द्रो में वेबकास्टिंग की व्यवस्था की जा रही है जिनमें 28 मतदान केन्द्र भरतपुर-सोनहत विधानसभा क्षेत्र में आते हैं। इसके अतिरिक्त मनेन्द्रगढ़ विधानसभा क्षेत्र के कुल 62 तथा बैकुण्ठपुर विधानसभा क्षेत्र के 50 मतदान केन्द्रों में वेबकास्टिंग के माध्यम से नजर रखी जाएगी। उन्होंने बताया कि आदर्श आचरण संहिता के उल्लंघन की शिकायत दर्ज करने हेतु सी-विजिल एप्लीकेशन की सुविधा सभी नागरिकों को दी गई है। इसके माध्यम से अब तक कुल 25 केस दर्ज हुए हैं, जिसका निराकरण कर लिया गया है। सुविधा एप्प के माध्यम से लेने, अब तक सुविधा एप्प के माध्यम से कुल 296 आवेदन प्राप्त होने और 245 आवेदन स्वीकृत, 38 अस्वीकृत किए गए हैं। छोटे बच्चों के साथ आने वाली महिलाओं के लिए प्रत्येक आंगनबाड़ी कार्यकर्ता के साथ मतदान केंद्र के समीप अतिरिक्त कक्ष शिशु सदन के नाम से बनाया जा रहा है। उन्होंने बताया कि मतदान के सात दिवस पूर्व डाक मतपत्र एवं ईडीसी जारी किए जाएंगे। प्रत्येक मतदान केन्द्र से 200 मीटर की दूरी पर राजनैतिक दल अथवा अभ्यर्थी अपने प्रतिनिधि बैठा सकेंगे। जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि विशेष परिस्थितियों में यदि अभिकर्ता को बाहर जाना हो तो वह मतदाता सूची केन्द्र के अंदर छोड़कर ही जा सकेंगे। मतदान दलों के रवानगी के संबंध में जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि सभी 690 मतदान केन्द्रों को 150 मार्गों में बाटा गया है। इनमें 68 मार्ग भरतपुर-सोनहत, 34 मनेन्द्रगढ़ तथा 48 बैकुण्ठपुर के लिए निर्धारित किए गए हैं।  प्रेसवार्ता के दौरान उप जिला निर्वाचन अधिकारी जगन्नाथ वर्मा तथा इलेक्ट्रानिक एवं प्रिंट मीडिया के प्रतिनिधि उपस्थित थे।

07-04-2019
जिले की प्रवेश सीमाओं में हर वाहन पर रखी जा रही नजर

रायपुर। लोकसभा चुनाव के दौरान जिले में आदर्श आचरण संहिता के अनुपालन के लिए कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ. बसवराजु एस. के निर्देशन पर गठित फ्लाइंग स्क्वाड टीम और स्थैतिक निगरानी दलों द्वारा वाहनों की सघन जांच जारी है। फ्लाइंग स्क्वाड की टीम सी-विजिल और कंट्रोल रूम में प्राप्त शिकायतों पर त्वरित कार्रवाई कर रही है वहीं जिले की प्रवेश सीमाओं में स्थैतिक निगरानी दल आने-जाने वाले वाहनों पर नजर रख   रहे हंै। जांच की वीडियोग्राफी भी की जा रही है। डॉ. बसवराजु एस. ने कहा कि जांच के दौरान सभी टीम शालीनतापूर्वक व्यवहार और बातचीत करें। गौरतलब है कि चुनावों में मतदाताओं को लुभाने के लिए उन्हें कई प्रलोभन दिए जाते हैं। इनमें कपड़े, कंबल, शराब, बर्तन, नगद राशि जैसी अन्य लुभावनी वस्तुएं शामिल है। इन्हें रोकने फ्लाइंग स्क्वाड टीम और स्थैतिक निगरानी दलों द्वारा निगरानी रखी जा रही है।  बता दें कि लोकसभा निर्वाचन के दौरान आदर्श आचरण संहिता के उल्लंघन सहित अन्य चुनाव संबंधी शिकायतों के त्वरित निराकरण के लिए जिला कलेक्टोरेट परिसर स्थित स्थानीय निर्वाचन कार्यालय में कंट्रोल रूम बनाया गया है। जिसका दूरभाष नंबर 0771-2445785 है। यह कंट्रोल रूम 24 घण्टे संचालित है। लोकसभा निर्वाचन के दौरान चुनाव संबंधी व्यय की शिकायतों के निवारण के लिए जिला कलेक्टोरेट परिसर स्थित पुराना डीआरडीए भवन के प्रथम तल में व्यय नियंत्रण कक्ष बनाया गया है। जिसका दूरभाष नंबर 0771-2435444 है। आदर्श आचार संहिता का उल्लघंन करने पर कोई भी नागरिक मोबाइल एप्प सी-विजिल के माध्यम से भी शिकायत कर सकता है। मोबाइल फोन व्दारा खींची गई फोटो और वीडियो के रूप में शिकायत भेजी जा सकेगी। यदि शिकायत सही पाई जाती है तो इसमें 100 मिनट के अंदर कार्रवाई की जा रही है। 

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804