GLIBS
12-02-2019
जंगल बनते जा रहे मैदान, जिम्मेदारों के नाक के नीचे कट रहे कीमती पेड़

कांकेर। कापसी वन परिक्षेत्र अंतर्गत सर्किलों में इन दिनों बेलगाम अवैध कटाई जोरों पर जारी है। सरकारी मुलाजिमों को इसकी भनक तक नहीं लग पा रही है। बता दें कि ग्राम पिव्ही 113 कल्याणपुर दक्षिण कांकेर वन क्षेत्र में तस्करों ने विशालकाय पेड़ों की बली चढ़ा दी। यहां किसी प्रकार की चौकसी नहीं होती तस्कर बेलगाम वन संपदा को क्षति पहुचा रहे हैं और अवैध कटाई कर रहे हैं। वन विभाग की टीम को ग्रामीणों ने सूचना दी कि विशालकाय बीजा पेड़ को आरी मशीन चलाकर गिराया गया। खबर की सूचना पाकर वन अमला कल्याणपुर जांच करने पहुंची तो पाया कि पोकलेन मशीन से कईं पेड़ों को गिरा दिया गया। 6 मीटर लंबाई औसतन गोलाई 2.70 वाली बीजा पेड़ को तस्करों ने काट गिराया। वहीं दूसरी तरफ कई पेड़ जमीन में धराशायी हैं। पोकलेन से विशालकाय डबरी निर्माण की गई। डबरी किसकी है उसकी पुष्टि अब तक नहीं की जा सकी । कुछ लोगों का कहना है कि मनरेगा स्वीकृत काम था जिसमे रात को ढाल बनाकर जेसीबी मशीन से काम को पूरा किया गया। डिप्टी रेंजर आर वैष्णव ने बताया कि यह भूमि वन विभाग के अंतर्गत आता है कि नहीं इसकी जांच करके आगे कार्रवाई की जाएगी। अगर वह विभाग के अंतर्गत भूमि है तो कार्रवाई करेंगे।

मैंने इसकी जानकारी उच्च अधिकारियों को दे दी है। उनके मागदर्शन में कार्यवाही की जाएगी। ग्रामीण संतोष कुमार, रवि दत्ता अमर मण्डल ने बतलाया कि वनरक्षक जंगल में घुमकर ड्यूटी नहीं करते जिसके कारण लकड़ी तस्करों के हौसले बुलंद हैं और धड़ल्ले से पेड़ों की बली दे रहे हैं। सबसे चौंकाने वाली बात यह है कि मौके पर तैनात डिप्टी रेंजर और वनरक्षक को मुनारा क्रमांक के बारे में भी कोई जानकारी नहीं थीं। वहीं मुनारो पर कोई रंगाई पोताई किसी भी प्रकार की उल्लेख नहीं। वहीं क्षेत्र में मुनारा को घेर कर लोगों ने अपना घर बना लिया। वन परिक्षेत्र अधिकारी दिनेश तिवारी ने बतलाया कि कांकेर दक्षिण ऑरेंज एरिया के अंतर्गत पेड़ों को काटा गया है कि नहीं इसकी जांच की जावेगी । डबरी निर्माण के संबंध में कुछ बता नहीं पाऊंगा। तहसीलदार को इसकी खसरा की जांच करवाने के लिए आवेदन प्रेषित किया था। पटवारी ने जांच कर खसरा क्रमांक 225 होना बतलाया जो राजस्व की भूमि है।

तहसीलदार साहब अगर हमें केस हैंडओवर करेंगे तो लकड़ी को अपने कब्जे में लेंगे। राजेश नायर अधिवक्ता पखांजुर ने बतलाया कि पर्यावरण की शुद्धि की लिए पेड़ो की कटाई को रोकना जरूरी है। वन की महत्वता से परिचित होकर लोगों को जागरूक किया जाए। विभाग को मुस्तैदी के साथ पर्यावरण की रक्षा के प्रति लोगों को जागरूक करने की जरूरत है। लोगों के मन में कानून का आदर रहे लोग कानून का पालन करे। आनंद दुग्गा मनरेगा प्रोग्राम अधिकारी ने बतलाया की कल्याणपुर में कोई काम मनरेगा मद से स्वीकृत है या नहीं अभी तत्काल में आपको बता नहीं पाऊंगा। आफिस जाने के बाद फाइल देखकर बता पाऊंगा।

Advertise, Call Now - +91 76111 07804