GLIBS
15-01-2019
Alert : बर्ड फ्लू को लेकर रायगढ़ में भी एलर्ट

 रायगढ़। पड़ोसी राज्यों में बर्ड फ्लू के प्रकोप को देखते हुए राज्य सरकार ने पूरे प्रदेश में एलर्ट जारी किया है। जिले में बर्ड फ्लू के खतरे को लेकर स्वास्थ्य विभाग रायगढ़ ने जनसामान्य को उसके लक्षण एवं बचाव के बारे में जानकारी दी है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. टीके टोण्डर एवं जिला एपिडेमियोलॉजिस्ट डॉ.कल्याणी पटेल ने ग्लिब्स न्यूज को बताया कि एवियन इन्फ्लूएंजा वायरस बर्ड फ्लू के नाम से जाना जाता है। वायरस का यह संक्रमण इंसानों और पक्षियों को अधिक प्रभावित करता है, जिससे इंसान और पक्षियों की मृत्यु भी हो सकती है। बर्ड फ्लू वायरस के लक्षण से इंसान को बुखार आना, हमेशा कफ निकलना, नाक बहना, सिर में दर्द होना, गले में सूजन, मांसपेशियों में दर्द, दस्त होना, हर वक्त उल्टी सा महसूस होना, पेट के निचले हिस्से में दर्द रहना, सांस लेने में समस्या, सांस न आना, निमोनिया अथवा आंख में कजंक्टिवाइटिस होने लगता है। यह बीमारी संक्रमित मुर्गियों या अन्य पक्षियों के बेहद निकट रहने से ही फैलती है। मुर्गी की अलग-अलग प्रजातियों से प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष संपर्क में रहने से इंसानों में बर्ड फ्लू वायरस फैलता है फिर चाहे मुर्गी जिंदा हो या मरी हुई हो। इंसानों में यह वायरस उनकी आंखों, मुंह और नाक के जरिए फैलता है।

11-01-2019
Birdflu : धमतरी जिले में बर्डफ्लू पर अलर्ट जारी

धमतरी। पड़ोसी राज्यों में बर्ड फ्लू से कौआ और अन्य पक्षियों के मौत के बाद प्रदेश में स्वास्थ्य विभाग ने अलर्ट जारी कर एच 5 एन 1 बर्ड फ्लू से संबंधित बीमारियों की रोकथाम के लिए आवश्यक दिशा-निर्देश दिए हैं। इसे ध्यान में रखते हुए मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. डीके तुर्रे ने जिले में बर्ड फ्लू बीमारी से विशेष सावधानी बरतने की अपील की है। उन्होंने बताया कि जिले में पक्षियों, पालतू, गैर पालतू पोल्ट्री फॉर्म की मुर्गी इत्यादि में उच्च रोगजनक एवियन इन्फ्लूएंजा-ए, एच 5 एन 1 नामक वायरस के संक्रमण से मनुष्यों में फैलने की आशंका होती है। डॉ. तुर्रे ने जिले के सभी बीएमओ को निर्देश दिए हैं कि वे पशु चिकित्सा अधिकारी से समन्वय स्थापित कर पक्षियों के असामयिक मरने की जानकारी प्राप्त करें। साथ ही औषधि प्रशासन पोल्ट्री फार्मों का मुर्गियों व अन्य पक्षियों में कोई भी विपरीत अथवा असामान्य व्यवहार देखते ही जिला कार्यालय को तत्काल सूचित करें। उन्होंने अपील की है कि पोल्ट्री फार्म में कार्यरत कर्मचार मास्क एवं हैंण्डग्लब का उपयोग करें एवं मुर्गियों के मौत के बाद उन्हें दफनाने के लिए विशेष सावधानी बरतें।

 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804