GLIBS
11-06-2019
50 पुलिस अधिकारी, कर्मचारियों का हुआ निशुल्क स्वास्थ्य परीक्षण

धमतरी। पुलिस अधिकारी और कर्मचारियों का नेत्र एवं निशुल्क स्वास्थ्य परीक्षण मंगलवार को डॉ. हीरा महावर के अस्पताल में किया गया। निशुल्क स्वास्थ्य परीक्षण शिविर का शुभारंभ पुलिस अधीक्षक धमतरी एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक के उपस्थिति में किया गया। इस शिविर में लगभग 50 अधिकारी, कर्मचारियों को परीक्षण किया गया। परीक्षण के बाद कुछ कर्मचारियों को चश्मा,बीपी, शुगर की दवाई खाने की सलाह दी गई। शिविर में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, थाना प्रभारी अर्जुनी थाना प्रभारी रुद्री सहित अधिकारी,कर्मचारी उपस्थित रहे। बता दें कि पुलिस अधीक्षक द्वारा जवानों के स्वास्थ्य को ध्यान में रखते हुए ऐसे निशुल्क स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया जाता है। 

25-05-2019
इस बार ‘तंबाकू व फेफड़े के स्वास्थ्य’ थीम पर मनेगा विश्व तंबाकू निषेध दिवस

रायपुर। इस वर्ष विश्व तंबाकू निषेध दिवस ‘तंबाकू व फेफड़े का स्वास्थ्य’ थीम पर मनाया जाएगा। छत्तीसगढ़ शासन के स्वास्थ्य विभाग द्वारा लोगों को तंबाकू के दुष्प्रभावों के बारे में जागरूक करने अनेक कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे। प्रदेश में तंबाकूमुक्त शिक्षण संस्थान एवं तंबाकूमुक्त युवा पीढ़ी के निर्माण के लिए शैक्षणिक संस्थाओं के आसपास ‘यलो लाइन कैम्पेन’ भी चलाया जाएगा।
स्वास्थ्य विभाग ने सभी जिलों के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों को इस संबंध में पत्र लिखकर अधिक से अधिक लोगों को इन कार्यक्रमों से जोड़ने के निर्देश दिए हैं। उल्लेखनीय है कि आम नागरिकों को तंबाकू के नुकसान और इससे होने वाली बीमारियों के प्रति जागरूक करने हर वर्ष 31 मई को वैश्विक स्तर पर विश्व तंबाकू निषेध दिवस मनाया जाता है।
स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने शनिवार को बताया कि सिगरेट एवं अन्य तंबाकू उत्पादों के दुष्प्रभावों के प्रति लोगों को जागरूक करने तथा कोटपा एक्ट (सिगरेट एवं अन्य तंबाकू उत्पाद अधिनियम-2003) के प्रावधानों का कड़ाई से क्रियान्वयन और तंबाकू उत्पादों के उपयोग को हतोत्साहित करने 29 मई से 31 मई तक विशेष अभियान चलाए जाएंगे। प्रदेश में 15 मई से 15 जून तक ‘गैर संचारी रोग रोकथाम एवं उपचार माह’ भी मनाया जा रहा है। इसमें भी ‘तंबाकू व फेफड़े का स्वास्थ्य’ थीम के तहत लोगों की जांच की जा रही है।
विश्व तंबाकू निषेध दिवस के अवसर पर 31 मई को रायपुर के अंबुजा मॉल में राज्य स्तरीय पेंटिंग, निबंध लेखन एवं वाद-विवाद प्रतियोगिता आयोजित की जाएगी। वहां दोपहर एक बजे से कक्षा पांचवीं से बारहवीं तक के बच्चों के लिए तीन अलग-अलग आयु वर्गों में पेंटिंग स्पर्धा तथा ग्यारहवीं व बारहवीं के बच्चों के लिए निबंध प्रतियोगिता आयोजित की जाएगी। मेडिकल छात्र-छात्राओं के लिए वाद-विवाद प्रतियोगिता भी रखी गई है। सभी स्पर्धाओं के विजेताओं को आकर्षक पुरस्कार दिए जाएंगे।

यलो लाइन कैम्पेन

विभाग ने सभी जिलों के मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों को जिला और विकासखंड स्तर पर ‘यलो लाइन कैम्पेन’ चलाने के निर्देश दिए हैं। इसके अंतर्गत सभी शैक्षणिक तथा शासकीय संस्थाओं के 100 गज के दायरे में यह सुनिश्चित किया जाएगा कि वहां तंबाकू उत्पादों की बिक्री व इस्तेमाल न हो। इसके लिए स्कूलों और कॉलेजों के 100 गज के दायरे में तंबाकू विक्रेताओं की मैपिंग कर इन प्रतिबंधित क्षेत्रों में तंबाकू दुकानों को हटाया जाएगा। स्कूलों एवं कॉलेजों में विद्यार्थी और अध्यापक तंबाकू निषेध की शपथ भी लेंगे। साथ ही परिसर की बाउंड्रीवॉल से 100 गज की दूरी पर तंबाकूमुक्त क्षेत्र के संकेत के रूप में पीली रेखा खींची जाएगी। इस अभियान में विद्यालय तंबाकू नियंत्रण समिति, अध्यापकों, छात्र-छात्राओं, मीडिया और आम लोगों को सहभागी बनाया जाएगा।

16-05-2019
सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मालखरौदा में मनाया गया डेंगू दिवस

मालखरौदा। सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र मालखरौदा में 16 मई को समस्त मैदानी कर्मचारियों को गहन डायरिया नियंत्रण पखवाड़ा, संचारी रोग, गैर संचारी रोग सम्बन्धी जानकारी दी गई। बैठक में खण्ड चिकित्सा अधिकारी डॉ. केएल उरांव के द्वारा गहन डायरिया नियंत्रण सम्बन्धी जानकारी दी गई। साथ ही बताया गया कि 0 से 5 वर्ष के बच्चों को मितानिनों के माध्यम से घर-घर ओआरएस का पैकेट वितरण किया जाएगा। डायरिया के लक्षण और बचाव के उपाय के बारे में विस्तृत जानकारी प्रदान की गई। साथ ही डायरिया केस का मानक, केस प्रबन्धन सम्बन्धी जानकारी सहित निगरानी के बारे में जानकारी तथा समीक्षा की गई। राष्ट्रीय डेंगू दिवस के बारे में मैदानी कर्मचारियों को अधिक से अधिक प्रचार प्रसार करने के बारे में तथा लोगों में जन जागरुकता लाने के बारे में बताया गया। साथ ही अभी मौसम के बढ़ रहे तापमान में लू के सम्बन्धी जानकारी प्रदान की गई। बैठक में पीएस खूंटे, सहायक चिकित्साधिकारी मिथलेश चन्द्रा, राजकुमार गबेल, धनेश साहू, टीपी जायसवाल, पर्यवेक्षक  सीआर यादव, गोटी लाल सिदार, मेघनाथ मिंझवार सहित समस्त मैदानी स्वास्थ्य कार्यकर्ता उपस्थित थे।

14-05-2019
कृषि मंत्री रविंद्र चौबे के स्वास्थ्य में तेजी से हो रहा सुधार 

रायपुर। प्रदेश के कृषि मंत्री रविंद्र चौबे के स्वास्थ्य में तेजी से सुधार हो रहा है। वे आज पीजीआई हॉस्पिटल लखनऊ के गलियारे में अपने बड़े भाई प्रदीप चौबे व परिजनों के साथ चहलकदमी करते नजर आए। बता दें कि कृषि मंत्री रविंद्र चौबे की तबीयत बिगडऩे के बाद उन्हें लखनऊ के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

08-05-2019
डॉ.महंत ने रविंद्र चौबे से मुलाकात कर ली स्वास्थ्य की जानकारी

रायपुर। छत्तीसगढ़ विधानसभा अध्यक्ष डॉ. चरणदास महंत ने बुधवार को लखनऊ स्थित संजय गांधी पीजीआई हॉस्पिटल में प्रदेश के कृषि एवं संसदीय कार्यमंत्री रविन्द्र चौबे से मुलाकात कर उनका हाल चाल जाना। डॉ. महंत ने संजय गांधी पीजीआई के डायरेक्टर राकेश कपूर से रविन्द्र चौबे के स्वास्थ्य की प्रगति के बारे में पूछा। डॉ. महंत श्री चौबे के परिजनों से भी मिले और जल्द छत्तीसगढ़ लौटने का भरोसा दिलाया।

07-05-2019
पूर्व सीएम अजीत जोगी के स्वास्थ्य में आया सुधार 

रायपुर। प्रदेश के प्रथम मुख्यमंत्री और छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस (जे) के सुप्रीमो अजीत जोगी की तबीयत में आशातीत सुधार आ गया है। डॉक्टरों ने  जोगी को घर ले जाने की अनुमति दे दी है। बता दें कि सोमवार को दोपहर अचानक तबीयत खराब हो जाने के कारण अजीत जोगी को रायपुर स्थित श्री नारायणा हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। श्री नारायणा हॉस्पिटल के डॉक्टर पंकज ने बताया कि अजीत जोगी नियमित जांच कराने अस्पताल आते रहते हैं लेकिन कल तबीयत ज्यादा खराब हो जाने के कारण उन्हें भर्ती कराया गया था। स्वास्थ्य में सुधार आने के बाद उन्हें सागौन बंगले ले जाने की अनुमति दे दी गई है। इस संबंध में अजीत जोगी के पुत्र अमित जोगी ने बताया कि जोगीजी की हालत में सुधार हो गया है। डॉक्टरों ने घर आकर रुटीन चेकअप  करने की बात कही है।

 

 

03-05-2019
कृषि मंत्री रविंद्र चौबे के स्वास्थ्य में आ रहा तेजी से सुधार

रायपुर। छत्तीसगढ़ प्रदेश कांग्रेस के मीडिया समन्वयक नरेंद्र सलूजा ने बताया है कि प्रदेश के कृषि मंत्री रविंद्र चौबे के स्वास्थ्य में आज आशातीत सुधार हुआ है। उनके लीवर ने सामान्य के बराबर काम करना शुरू किया है और किडनी की स्थिति भी सामान्य की ओर है। आवश्यकता अनुरूप संभवत: अंतिम डायलिसिस किया गया । वे सामान्य भोजन ले रहे हैं और आने वाले शुभचिंतकों और समर्थकों से बातचीत भी कर रहे हैं। कल से उन्हें इंटेंसिव केयर यूनिट से बाहर लाने की प्रक्रिया पर विचार किया जाएगा।  इलाज करने वाली टीम के डॉक्टरों ने आज उन्हें चलने फिरने का भी आग्रह किया है। बता दें कि कृषि मंत्री रविंद्र चौबे उत्तरप्रदेश के एक अस्पताल में भर्ती हैं।  

02-05-2019
कृषि मंत्री रविंद्र चौबे के स्वास्थ्य में आ रहा सुधार

रायपुर। प्रदेश के कृषि मंत्री रविंद्र चौबे के स्वास्थ्य में पिछले 24 घंटे में बेहतर सुधार आया है। उनकी पाचन तंत्र प्रणाली ने सामान्य के करीब काम करना शुरू कर दिया है और किडनी से संबंधित जांच भी सुधार की ओर संकेत करने लगी है। यह स्वास्थ्य बुलेटिन रविंद्र चौबे का इलाज कर रहे ड़क्टरों ने जारी किया है। बता दें कि रविंद्र चौबे उत्तरप्रदेश के लखनऊ के एक अस्पताल में भर्ती हैं।

30-04-2019
रविंद्र चौबे के स्वास्थ्य में सुधार, ग्रहण किया भोजन

नई दिल्ली। प्रदेश के कृषिमंत्री रविंद्र चौबे के स्वास्थ्य में सुधार हो रहा है। मिली जानकारी के अनुसार सोमवार की तुलना में मंगलवार को तबियत में सुधार हुआ है। डायलिसिस मशीन अब हटा दी गई है। रविंद्र चौबे अब भोजन ले रहे हैं और मिलने जुलने वालों से बातचीत कर रहे हैं।

15-04-2019
लोगों में डर पैदा करने निर्दोषों की हत्या करते हैं नक्सली : मनीष पारेख

रायपुर। नक्सलियों के दंडकारण्य स्पेशल जोन और दरभा डिवीजन कमेटी के सचिव साईंनाथ द्वारा पत्र जारी कर दन्तेवाड़ा विधायक भीमा मंडावी को हिंदूवादी नेता बताकर उनकी हत्या करने के स्पष्टीकरण पर भारतीय जनता युवा मोर्चा के प्रदेश कार्यसमिति सदस्य और नक्सल विरोधी नेता मनीष पारेख ने कहा है कि नक्सली बहाना बना रहे हैं। दन्तेवाड़ा विधानसभा और पूरे बस्तर संभाग के अधिकांश बीजेपी और कांग्रेसी नेता धार्मिक हैं, समूचे बस्तर संभाग सहित छत्तीसगढ़ में सभी धर्मों के लोग आपसी भाईचारे से रहते हैं। ऐसे में  एक आस्थावान विधायक भीमा मंडावी की नक्सलियों ने हत्या कर दी। मनीष पारेख ने कहा कि विधायक भीमा मंडावी शिक्षा के प्रति बेहद संवेदनशील और जागरूक थे। वे विधायक के तौर पर दन्तेवाड़ा विधानसभा में शिक्षा को बढ़ावा देकर ग्रामीणों को जागरूक करने का प्रयास कर रहे थे। चूंकि लोगों की जागरुकता और विकास नक्सलियों के सबसे बड़े शत्रु हैं इसलिए वे बस्तर में शिक्षा, स्वास्थ्य और विकास को बाधित करने के लिए तथा लोगों में डर पैदा करने के लिए निर्दोषों की हत्या करते हैं। मनीष पारेख ने नक्सलियों से पूछा है कि सड़क निर्माण में लगे गरीब व्यक्तियों की हत्या का क्या जवाब है नक्सलियों के पास? मुखबिरी के नाम पर निर्दोष ग्रामीणों की हत्या का क्या जवाब है? गांवों में सड़क, पानी, स्कूल, आंगनबाड़ी का विरोध क्यों करते हैं जबकि ये आवश्यकता ही नहीं अधिकार है जनता का। फागुन मेला देखने जा रहे परिवार को बम से उड़ा दिया, जिसमें दो गर्भवती महिलाओं सहित छोटी बच्ची भी थी, वे कौन से हिंदूवादी थे? मनीष पारेख ने कहा कि नक्सली बस्तर में अपना डर कायम रखने के लिए किसी की भी हत्या कर सकते हैं। नक्सली किसी विचारधारा की लड़ाई नहीं लड़ रहे हैं। मनीष पारेख का कहना है कि वे आगामी दिनों में परमार्थ संस्था के जरिए नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में जनजागरण का कार्य करेंगे और नक्सलियों को बेनकाब करेंगे।

12-04-2019
डॉ. राकेश गुप्ता ने आयुष्मान योजना के अतिरिक्त सीईओ विजेंद्र कटरे को हटाने प्रमुख स्वास्थ्य सचिव को लिखा पत्र

रायपुर। रायपुर हॉस्पिटल बोर्ड के अध्यक्ष डॉ राकेश गुप्ता ने प्रदेश के प्रमुख स्वास्थ्य सचिव को पत्र लिखकर राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना और मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना की गड़बडिय़ों की जांच के लिए छत्तीसगढ़ शासन द्वारा गठित समिति के औचित्य और वैधानिकता पर प्रश्न उठाए हैं। उन्होंने लिखा है कि पिछले कुछ वर्षोंं में छत्तीसगढ़ में संचालित राष्ट्रीय स्वास्थ्य बीमा योजना और मुख्यमंत्री स्वास्थ्य बीमा योजना एवं उसके बाद आयुष्मान योजना के अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी विजेंद्र कटरे के खिलाफ  विभिन्न चरणों में अलग-अलग किस्म की शिकायतें लंबित हैं।                                                                            इसलिए वर्तमान में संस्थित जांच समिति के औचित्य और वैधानिकता पर प्रश्नचिह्न खड़े हो गए हैं, क्योंकि अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी विजेंद्र कटरे अभी भी पद पर गैरकानूनी रूप से बने हुए हैं, जबकि छत्तीसगढ़ संविदा अधिनियम 2012 के अंतर्गत उनका कार्यकाल आगामी अवधि के लिए विभाग प्रमुख द्वारा नहीं बढ़ाया गया है। इसलिए उन्हें तत्काल कार्यमुक्त किया जाना चाहिए। डॉ. राकेश गुप्ता ने अपने पत्र में आगे लिखा है कि दूसरा महत्वपूर्ण प्रश्न यह है कि यदि पीडि़त सदस्य और पक्ष उनके खिलाफ  बयान देते हैं और वह पद पर बने रहे तो गोपनीयता कैसे सुनिश्चित होगी? अत: इसकी निष्पक्ष जांच के लिए एक हाईपावर कमेटी का गठन और इन्हें पद से तुरंत हटाया जाना जरूरी है। डॉ. राकेश गुप्ता ने अंत में लिखा है कि समिति के समक्ष उपस्थित होते समय हमने अनुरोध किया है कि गोपनीयता की शर्त पर भ्रष्टाचार के सबूत इंडियन मेडिकल एसोसिएशन और हॉस्पिटल बोर्ड सहित संबंधित पक्ष उपलब्ध कराने के लिए तैयार हैं। 

 

09-04-2019
जनसामान्य स्वास्थ्य सेवाओं और योजनाओं का लाभ प्राप्त करें

 कवर्धा। ग्राम सैहामालगी विकासखंड पंडरिया में विश्व स्वास्थ्य दिवस मनाया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि डॉ. बीएल राज जिला चिकित्सा एंव स्वास्थ्य अधिकारी थे। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य सेवा सभी जनों का हक़ और अधिकार है। सभी आमजनों को विश्व स्वास्थ्य दिवस की बधाई एंव शुभकामनाएं देते हुए कहा कि स्वास्थ्य सेवाओं और योजनाओं का लाभ प्राप्त करें।  विभाग की ओर से किसी भी प्रकार की भेदभाव नहीं किया जायेगा। हम सभी को मिलकर स्वास्थ्य व्यवस्था को बेहतर बनाना है। उन्होंने ने गर्मी मौसम में लू से बचाव के संदर्भ में कहा कि अधिक धूप में बाहर निकलने का प्रयास कम हो, ज्यादा से ज्यादा पानी पियें, अपने साथ बाहर जाते समय पानी रखें, संभव हो तो पूरा आस्तीन का कपड़ा पहनकर शरीर को ढक कर रखें, सिर पर भी कपड़ा डालें, नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्र की भी मदद लेते रहें। स्वीप कार्यक्रम मतदाता जागरूकता अभियान के तहत सभी नागरिकों को मतदान करने के लिए प्रेरित भी किया। कार्यक्रम में चन्द्रकान्त यादव कार्यकर्ता आस्था समिति कवर्धा एवं सदस्य जनस्वास्थ्य अभियान के द्वारा कहा गया कि स्वास्थ्य अधिकारों के लिए राष्ट्रीय स्तर पर जन स्वास्थ्य अभियान की प्रमुख मांगें हैं। इसमें स्वास्थ्य अधिकार का कानून लागू हो।  सभी लोगों को निःशुल्क और अनिवार्य मुफ़्त उच्च गुणवत्ता की दवा, इलाज बिना किसी भी भेदभाव के मिलना चाहिए। सभी सरकारी तंत्र में कार्यरत स्वास्थ्य कर्मचारियों और मितानिनों को स्वास्थ्य तंत्र में नियमित किया जाये। सरकारी स्वास्थ्य व्यवस्था को जनहित में सुदृढ़ीकरण किया जाये। इस प्रकार उन्होंने सरकारी स्वास्थ्य व्यवस्था को मजबूती प्रदान करने शपथ दिलाते हुए कहा कि हमर स्वास्थ्य - हमर अधिकार संकल्प लिया गया।  इस अवसर पर उमाशंकर कश्यप काउंसलर चाइल्ड लाइन ने बताया कि चाइल्ड लाइन एक राष्ट्रीय आपातकालीन 24 घंटे रात एवं दिन आउटरीच एवं फोन सेवा है उन बच्चों के लिए जिन्हें देखकर संरक्षण की जरूरत है। बच्चों के अधिकारों को बताया कि उनके  4 मूल अधिकार हैं। बच्चों के अधिकारों की विस्तारपूर्वक जानकारी दी गई। 

Advertise, Call Now - +91 76111 07804