GLIBS

विधायक अरुण वोरा ने उठाया प्रदेश में स्वास्थ्य व्यवस्था का मुद्दा

शुभांकर रॉय  | 12 Feb , 2019 01:56 PM
विधायक अरुण वोरा ने उठाया प्रदेश में स्वास्थ्य व्यवस्था का मुद्दा

 

दुर्ग। बजट सत्र के दूसरे दिन मंगलवार को दुर्ग शहर विधायक अरुण वोरा ने स्वास्थ्य मंत्री टीएस सिंहदेव से प्रदेश के अस्पतालों, मेडिकल कॉलेजो एवं चिकित्सकों की कमी से संबंधित मुद्दा उठाते हुए सवाल पूछा। वोरा ने सवाल करते हुए प्रदेश में मेडिकल कॉलेजो की संख्या, उनकी मेडिकल काउंसिल आॅफ इंडिया से मान्यता एवं मेडिकल छात्रों के प्रवेश की संस्थावार जानकारी मांगी। उन्होने जिला अस्पतालों में चिकित्सकों की कमी का मुद्दा उठाते हुए शासकीय मेडिकल कॉलेजो एवं अस्पतालों में वर्तमान में विभिन्न संवर्ग के चिकित्सकों एवं अन्य कर्मचारियों के स्वीकृत पद एवं पदस्थापना तथा रिक्त पदों की भी संस्थावार जानकारी मांगी। सिंहदेव ने जवाब देते हुए कहा कि प्रदेश में 06 शासकीय एवं 03 निजी कॉलेज समेत कुल 09 चिकित्सा महाविद्यालय संचालित हैं। विभिन्न संवर्गो में डॉक्टरो की कमी को भी शीघ्र पूरा कर लिया जाएगा।

वोरा ने मनरेगा के तहत भारत सरकार से प्रदेश को प्राप्त आबंटन एवं दुर्ग जिले में 2017-18 की अवधि में स्वीकृत राशि, कार्यो की वस्तुस्थिति एवं मजदूरों के लंबित भुगतान की भी विकासखंडवार जानकारी मांगी।  जिस पर मंत्री सिंहदेव ने जवाब देते हुए कहा कि महात्मा गांधी नरेगा अंतर्गत वर्ष 2017-18 में भारत सरकार द्वारा मजदूरी मद पर राशि 163032.87 लाख एवं सामाग्री मद पर राशि रु. 126861.77 लाख प्रदेश को आबंटित किया गया। राज्य सरकार द्वारा सामाग्री मद व अतिरिक्त 50 दिवस मजदूरी के लिए राशि 37220.03 लाख आबंटित किया गया। वर्ष 17-18 में महात्मा गांधी नरेगा अंतर्गत प्रदेश को कुल राशि 327114.67 लाख प्राप्त हुआ। इसके अतिरिक्त वोरा ने दुर्ग जिले में वर्ष 2015-16, 16-17 एवं 17-18 में निर्मल ग्राम योजना के तहत ग्राम पंचायतों को शौचालय निर्माण के लिए आबंटित राशि, कार्य की निर्धारित अवधि, कार्य पूर्ण/ अपूर्ण/ अप्रारंभ स्थिति से संबंधित सवाल भी पूछे।