GLIBS

Good news : 40 लाख तक सालाना टर्न ओवर वाले व्यापारियों को नहीं कराना पड़ेगा जीएसटी रजिस्ट्रेशन

तरुण कुमार  | 10 Jan , 2019 04:36 PM
Good news : 40 लाख तक सालाना टर्न ओवर वाले व्यापारियों को नहीं कराना पड़ेगा जीएसटी रजिस्ट्रेशन

नई दिल्ली। छोटे कारोबारियों नए साल पर केंद्र सरकार ने बड़ी सौगात दी है। केंद्र सरकार ने छोटे व्यापारियों के लिए जीएसटी के दायरे में बढ़ोत्तरी की है। जीएसटी के नए नियम के अनुसार अब व्यापारियों को 40 लाख तक के सालाना टर्न ओवर पर जीएसटी रजिस्ट्रेशन नहीं कराना पड़ेगा। जीएसटी काउंसिल की 32वीं बैठक के बाद वित्तमंत्री अरुण जेटली ने कहा कि अब उन कारोबारियों को जीएसटी के तहत रजिस्ट्रेशन नहीं कराना होगा, जिसका सालाना टर्नओवर 40 लाख रुपए तक है। मतलब अब छोटे कारोबारियों को जीएसटी रजिस्ट्रेशन के झंझट से निजात मिल जाएगी। हालांकि इन कारोबारियों को हर तीन महीने पर टैक्स जमा करना पड़ेगा। 

साल की पहली जीएसटी परिषद की बैठक में कंपोजिशन स्कीम की सीमा 1 करोड़ से बढ़ाकर 1.5 करोड़ कर दी गई है। इसका मतलब अब डेढ़ करोड़ रुपए के टर्नओवर वाले निर्माता को इस स्कीम का फायदा मिलेगा। नया नियम 1 अप्रैल से लागू होगा।

वित्तमंत्री जेटली ने कहा कि पहले 20 लाख रुपए तक के टर्नओवर वाले उद्यमों को जीएसटी रजिस्ट्रेशन से छूट मिली थी। हालांकि, उत्तरी-पूर्वी एवं पहाड़ी राज्यों के लिए छूट की सीमा 10 लाख रुपए थी। लेकिन छोटे राज्यों ने अपने-अपने कानून बना लिए और यह सीमा 20 लाख रुपए कर ली थी। अब हमने इन्हें दोगुना कर 40 लाख और 20 लाख रुपए कर दिया है। शेष भारत में स्लैब 20 लाख को दोगुना कर 40 लाख कर दिया गया जबकि उत्तर-पूर्वी और पहाड़ी राज्यों के लिए 20 लाख रुपए तक के टर्नओवर वाली कंपनियों को जीएसटी रजिस्ट्रेशन से मुक्ति दे दी गई। साथ ही उत्तर-पूर्वी एवं पहाड़ी राज्यों को इस लीमिट को बढ़ाने-घटाने की छूट दे दी गई है।