GLIBS

डायबिटीज और हायपरटेंशन से भी होता है किडनी रोग  

श्रवण यदु  | 14 Mar , 2019 08:26 PM
डायबिटीज और हायपरटेंशन से भी होता है किडनी रोग  

रायपुर। दाऊ कल्याण सिंह सुपर स्पेश्यलिटी अस्पताल में विश्व गुर्दा दिवस के अवसर पर किडनी की बीमारी के प्रति जागरुकता बढ़ाने के उद्देश्य से एक सेमिनार का आयोजन किया गया। इसमें वरिष्ठ नेफ्रोलॉजिस्ट डॉ. शुभा दुबे ने मुख्य वक्ता के रूप में अपना व्याख्यान दिया। कार्यक्रम की शुरुआत में रूपरेखा बताते हुए अस्पताल अधीक्षक डॉ. केके सहारे ने इस साल विश्व गुर्दा दिवस की थीम की जानकारी देते हुए कहा कि किडनी की बीमारी से हर साल लगभग 850 मिलियन लोगों की मौतें हो जाती हंै। ऐसे में इस समस्या से संबंधित अधिक से अधिक जागरुकता पैदा की जानी चाहिए ताकि यदि समय रहते इसका निदान हो जाए तो किडनी की बीमारी से होने वाली मृत्युदर को कुछ हद तक कम करने का प्रयास किया जा सकता है। संचालक चिकित्सा शिक्षा डॉ. एसएल आदिले ने अपने व्याख्यान में बताया कि किडनी की बीमारी में डायबिटीज और हायपरटेंशन भी प्रमुख कारण है। डायटिशियन की टीम में प्रांजली और वंदना ने बताया कि किडनी के मरीजों को अपने खान-पान में किन-किन खाद्य पदार्थों को शामिल करना चाहिए किन्हें नहीं, जैसे कि नमक के साथ ही ज्यादा पोटेशियम वाले फल केला, संतरा इन्हें नहीं खाना चाहिए। नेफ्रोलॉजी विभाग से डॉ. नीलम ने किडनी व किडनी की बीमारी से संबंधित जानकारी दी।