GLIBS

Fraud: मंत्रालय में नौकरी लगाने के नाम पर 2.62 लाख की धोखाधड़ी

शुभांकर रॉय  | 11 Jan , 2019 08:51 PM
Fraud: मंत्रालय में नौकरी लगाने के नाम पर 2.62 लाख की धोखाधड़ी

 भिलाईनगर। पुरानी भिलाई 3 थाना अंतर्गत एक सेवानिवृत्त कर्मचारी के पुत्र को मंत्रालय में चपरासी की नौकरी लगाने का झांसा देकर दो साल पहले दो लोगों द्वारा 2 लाख 62 हजार रुपए की धोखाधड़ी करने का मामला प्रकाश में आया है।  पुरानी भिलाई-3 पुलिस ने बताया कि बीएमवाय चरोदा संगम चौक बस्ती निवासी सेवानिवृत्त कर्मचारी कृपाराम रवानी पिता हरिराम रवानी (70) से रामकृष्ण मंदिर के पास विश्वबैंक शांति नगर लोहारपारा भिलाई 3 निवासी अंजली कर्मकार एवं उसके रिश्तेदार सुरेश तिवारी से जान-पहचान थी। कृपाराम का पुत्र चंदन कुमार कक्षा 10वीं फेल था।

उसे मंत्रालय में चपरासी पद पर नौकरी लगाने की बात कहते हुए दोनों ने 2 लाख 62 हजार रुपए क्रमश: 1 दिसंबर 2016 -29 हजार, 9 दिसंबर 2016-24 हजार, 20 दिसंबर 2016 -24 हजार, 31 जनवरी 2017-35 हजार,4 फरवरी 2017-8 हजार, 30 जून2017-1 लाख 20 हजार, 29 जून 2017-22 हजार रुपए ले लिए, लेकिन न नौकरी लगाया न ही रुपए वापस किए। ज्यादा दबाव डालने पर सुरेश तिवारी ने बैंक आफ  इंडिया का चेक दिया जो कि अपर्याप्त निधि के कारण बाउंस हो गया। जिस पर प्रार्थी ने थाने में शिकायत दर्ज कराई। पुलिस ने दोनों आरोपी के खिलाफ  अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया है।