GLIBS

Share Market : दोपहर बाद भी नहीं सुधरा शेयर बाजार, गिरावट जारी 

आर पी सिंह  | 18 Feb , 2019 01:47 PM
Share Market : दोपहर बाद भी नहीं सुधरा शेयर बाजार, गिरावट जारी 

नई दिल्ली। सोमवार को दोपहर बाद 1.17 बजे भी शेयर बाजार में गिरावट का रुख जारी रहा। इस वक्त सेंसेक्स 187 अंक नीचे गिरकर 35,621 पर तो  निफ्टी 52 अंकों की गिरावट के साथ 10,672 पर कारोबार कर रहे थे। सोने का भाव 33,534 रुपए प्रति दस ग्राम था। इसमें 150 रुपए का उछाल आया है। तो वहीं एक डॉलर का दाम 71.39 रुपए रहा। तो वहीं कच्चे तेल के दामों में भी गिरावट देखी जा रही है।

आखिर क्यों हुआ ऐसा :

शुक्रवार को अमेरिकी स्टॉक एक्सचेंज के प्रमुख सूचकांक डाओ जोंस में अच्छी तेजी आई थी। इसकी वजह अमेरिका और चीन के बीच ट्रेड वॉर की बातचीत के सकारात्मक नतीजे हैं। अमेरिकी सरकार ने बातचीत में अच्छी प्रगति के संकेत दिए हैं।  चीन में दोनों देशों के प्रतिनिधियों के बीच बातचीत खत्म हो गई है। अब दोनों देशों के प्रतिनिधि अमेरिका में बातचीत करेंगे। अमेरिका ने चीन के उत्पादों पर शुल्क में वृद्धि की 1 मार्च की समयसीमा बढ़ाने का संकेत दिया है। इधर, क्रूड आॅयल की कीमतों में तेजी का रुख है।  डॉलर के मुकाबले रुपये में कमजोरी का रुख है। 

सुबह कैसा था बाजार का हाल :

सोमवार को सुबह बीएसई का 30 शेयरों वाला सेंसेक्स 22 अंक की मजबूती के साथ 35,831 पर खुला।  एनएसई का 50 शेयरों वाला निफ्टी भी 14 अंक की मजबूती के साथ 10,738 अंक पर दिखा। लेकिन, थोड़ी देर बाद ही दोनों सूचकांक लाल निशान में आ गए। करीब 9:50 बजे सेंसेक्स 215 अंक की कमजोरी के साथ 35,593 पर कारोबार कर रहा था।  निफ्टी भी 63 अंक की कमजोरी के साथ 10,661 पर कारोबार करता नजर आया। 

सबसे कमजोरी वाले शेयर :

एनएसई के ज्यादातर सूचकांक लाल निशान में दिखे।  सबसे ज्यादा कमजोरी आॅटो, एफएमसीजी, आईटी और फार्मा सूचकांकों में दिखी। आॅटो सूचकांक 1.10 फीसदी कमजोरी था। सिर्फ तीन सूचकांकों रियल्टी, पीएसयू बैंक और मेटल में तेजी देखने को मिली। स्मॉलकैप और मिडकैप सूचकांक भी कमजोर दिखे। गिरने वाले शेयरों में यस बैंक, बजाज फिनसर्व, बजाज आॅटो, रिलायंस इंडस्ट्रीज, कोल इंडिया और एचसीएल टेक शामिल रहे। यस बैंक के शेयरों में 3 फीसदी से ज्यादा कमजोरी दिखी। 

बढ़त वाले शेयर :

चढ़ने वाले शेयरों में भारती इंफ्राटेल, डॉ रेड्डीज, एनटीपीसी, टाटा स्टील, ओएनजीसी, टेक महिंद्रा और एचडीएफसी बैंक शामिल रहे।