GLIBS

एमसीए और सेबी का नियामक निगरानी को मजबूत बनाने पर समझौता

एमसीए और सेबी का नियामक निगरानी को मजबूत बनाने पर समझौता

नई दिल्ली। कंपनी मामलों के मंत्रालय (एमसीए) और बाजार नियामक भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) ने नियामक निगरानी को मजबूत बनाने के उद्देश्य से एक करार किया है। इस समझौता पर एमसीए के संयुक्त सचिव के वी आर मूर्ति और सेबी की पूर्णकालिक सदस्य माधवी पुरी बुच ने हस्ताक्षर किये हैं। मंत्रालय और सेबी के बीच डाटा के आदान-प्रदान के लिए यह करार किया गया है। आधिकारिक जानकारी के अनुसार यह समझौता अर्थव्यवस्था के महत्वपूर्ण क्षेत्रों को प्रभावित करने वाले कॉरपोरेट धोखाधड़ी मामलों के संदर्भ में निगरानी की बढ़ती हुई आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए किया गया है। यह समझौता हस्ताक्षर किए जाने की तारीख से लागू हो गया है।